क्या पीएम मोदी अब भी करेंगे 'नमस्ते ट्रम्प'? US प्रेसिडेंट के नए बयान पर पी चिदंबरम का तंज

यूएस प्रेसिडेंशियल डिबेट के दौरान ट्रम्प ने चीन और रूस के साथ भारत पर भी इस महामारी के आंकड़े छिपाने के आरोप लगाए हैं.

क्या पीएम मोदी अब भी करेंगे 'नमस्ते ट्रम्प'? US प्रेसिडेंट के नए बयान पर पी चिदंबरम का तंज

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है.

नई दिल्ली:

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम (P Chidambaram) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा  है और पूछा है कि क्या पीएम मोदी अब भी अपने दोस्त और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के सम्मान में 'नमस्ते ट्रम्प' का आयोजन करेंगे? चिदंबरम ने यह तंज तब किया है, जब अमेरिकी राष्ट्रपति ने भारत पर कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी के संक्रमितों और मौत के आंकड़ों की विश्वसनीयता पर उंगली उठाई है. यूएस प्रेसिडेंशियल डिबेट के दौरान ट्रम्प ने चीन और रूस के साथ भारत पर भी इस महामारी के आंकड़े छिपाने के आरोप लगाए हैं.

चिदंबरम ने ट्वीट किया है, "डोनाल्ड ट्रम्प ने चीन और रूस के साथ भारत को क्लब किया और तीनों देशों पर COVID से हुई मौतों की संख्या छिपाने का आरोप लगाया.. उन्होंने तीनों देशों पर सबसे अधिक वायु प्रदूषण करने का भी आरोप लगाया...क्या मोदी जी, अपने प्रिय मित्र के सम्मान में 'नमस्ते ट्रम्प' की और रैली करेंगे?"

पहले चरण के यूएस प्रेसिडेंशियल डिबेट के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कोरोनोवायरस से निपटने के कदमों का बचाव किया था, जिससे देश में 70 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं, जैसा कि डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंदी जो बिडेन ने कहा था, "देश में 70 लाख लोग वायरस से संक्रमित हुए हैं लेकिन राष्ट्रपति ट्रम्प के इससे निपटने की कोई योजना नहीं है."

महाराष्ट्र में खुलेंगे होटल और चलेंगी ट्रेनें, 31 अक्टूबर तक के लिए बढ़ा लॉकडाउन

लेकिन इस बार डिबेट के दौरान ट्रम्प ने कहा, "जब आप संख्या के कारण के बारे में बात करते हैं, तो आप नहीं जानते कि चीन में कितने लोग मारे गए? आपको नहीं पता कि रूस में कितने लोग मारे गए? आप नहीं जानते कि भारत में कितने लोगों की मृत्यु हुई? जो बताए गए हैं वो वास्तविक नहीं हैं।" आपको ये देश एक संख्या देता है, बस उतना ही आप सही समझते हैं."

कैटलस एंजाइम से हो सकता है कोविड-19 का उपचार : अध्ययन

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

डोनाल़्ड ट्रम्प लंबे समय से कोरोना वायरस संक्रमण के लिए चीन को दोषी ठहराते रहे हैं, जहां पिछले साल दिसंबर में ये महामारी आई और फिर दुनियाभर में फैल गई. दुनियाभर में इस महामारी से करीब 10 लाख लोगों की मौत हुई है. इसके अलावा करीब 3 करोड़ लोग प्रभावित हुए हैं.

वीडियो: दिल्ली में कोरोना से पिछले 24 घंटे में 41 लोगों की मौत