NDTV Khabar

OIC की बैठक में शामिल नहीं होगा पाकिस्तान, सुषमा स्वराज को बुलाए जाने का पाक विदेश मंत्री ने किया विरोध

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) का कहना है कि मैं विदेशमंत्रियों की काउंसिल बैठक में शिरकत नहीं करूंगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
OIC की बैठक में शामिल नहीं होगा पाकिस्तान, सुषमा स्वराज को बुलाए जाने का पाक विदेश मंत्री ने किया विरोध

Sushma Swaraj की वजह से OIC में शामिल नहीं होंगे Shah Mehmood Qureshi.

नई दिल्ली:

भारत और पाकिस्तान के बीच जारी तनाव के बीच पाकिस्तान से एक बड़ी खबर आई है. ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक को-ऑपरेशन (ओआईसी) की बैठक में भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) के शामिल होने की वजह से पाकिस्तान अब ओआईसी की बैठक में भाग नहीं लेगा. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) का कहना है, "मैं विदेश मंत्रियों की काउंसिल बैठक में शिरकत नहीं करूंगा.यह उसूलों की बात है, क्योंकि (भारत की विदेशमंत्री) सुषमा स्वराज को 'गेस्ट ऑफ ऑनर' के रूप में न्योता दिया गया है."

Sushma Swaraj”, “

अभिनंदन ने ही मार गिराया था F-16: हैरान-परेशान पाकिस्तान क्यों नहीं स्वीकार कर रहा है सच, सामने आई एक बड़ी वजह

दरअसल, भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (“Sushma Swaraj) आबु धाबी में होने वाली ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक को-ऑपरेशन (ओआईसी) के विदेश मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेंगी और संभवत: उसमें आतंकवाद का मुद्दा उठाएंगी. इसके लिए आज सुबह ही सुषमा स्वराज अबु धाबी रवाना हो गईं. मगर अब खबर है कि पाकिस्तानी विदेश मंत्री कुरैशी इस बैठक में शामिल नहीं होंगे. वह विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को बुलाए जाने का विरोध कर रहा हैं. उन्होंने कहा कि वह ओआईसी की बैठक में शामिल नहीं होंगे.  


नवजोत सिंह सिद्धू ने पाकिस्तान को लेकर जो कही बात, फिर कांग्रेस ने भी कर लिया किनारा

इससे पहले पाकिस्तान में आतंकवादी शिविरों पर हमले के बाद इस्लामाबाद ने प्रयास किया था कि ओआईसी के लिए स्वराज का आमंत्रण रद्द हो जाए. मगर स्वराज जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकवादी हमले के बाद भारत-पाकिस्तान के बीच उत्पन्न तनाव की पृष्ठभूमि में इस बैठक में हिस्सा ले रही हैं. स्वराज दो दिवसीय ओआईसी की बैठक के उद्घाटन समारोह में शुक्रवार को हिस्सा लेंगी.

नवजोत सिंह सिद्धू का नया ट्वीट: 'जिस जंग में बादशाह की जान को खतरा न हो, उसे जंग नहीं राजनीति कहते हैं'

भारत को 57 इस्लामिक देशों के समूह ने पहली बार अपनी बैठक में आमंत्रित किया है. उन्हें विशिष्ट अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया है. भारत-पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव की पृष्ठभूमि में भारत और ओआईसी के बीच यह नया संबंध स्थापित हो रहा है. 

विंग कमांडर अभिनंदन को रावलपिंडी से लाहौर विमान से लाया जाएगा, फिर वाघा बॉर्डर पर एयर अटैचे को सौंपेगा पाकिस्तान

टिप्पणियां

वहीं पाकिस्तान ने बुधवार को नाकाम कार्रवाई की कोशिश की. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया है, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ओआईसी के मंत्री स्तरीय बैठक के लिए अबु धाबी पहुंचीं. 

उम्मीद है भारत और पाक के बीच तनाव खत्म होगा: डोनाल्ड ट्रंप​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement