NDTV Khabar

खुल गई पोल: पाकिस्तान के ये चार बड़े झूठ, जिनका भारत ने सबूत देकर पूरी दुनिया के सामने किया पर्दाफाश

पाकिस्तान ने सबसे पहले कहा कि उन्होंने भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) के दो विमानों को मार गिराया गया है और तीन पायलटों को पकड़ लिया गया है. इसके बाद यह आंकड़ा दो विमान और दो पायलट हो गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
खुल गई पोल: पाकिस्तान के ये चार बड़े झूठ, जिनका भारत ने सबूत देकर पूरी दुनिया के सामने किया पर्दाफाश

Indian Air force, Army, Navy joint press briefing: भारत की तीनों सेनाओं ने संयुक्त प्रेस वार्ता की

नई दिल्ली:

भारतीय सेना (Indian Army)के तीनों अंगों ने गुरुवार को कहा कि वे पूरी तरह सतर्क हैं. उन्होंने बताया कि एक दिन पहले पाकिस्तानी (Pakistan)विमानों ने जम्मू-कश्मीर स्थित भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश, लेकिन उन्हें वापस होना पड़ा. सेना के तीनों अंगों की प्रेसवार्ता में एयर वाइस मार्शल आर.जी.के. कपूर ने मीडिया को बताया कि पाकिस्तान वायुसेना (PFA)ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर स्थित राजौरी के पश्चिमी इलाके में भारतीय हवाईक्षेत्र का उल्लंघन किया. पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama Terror Attack) के बाद भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ठिकानों को निशाना बनाया.

इसके एक दिन बाद पाकिस्तान वायुसेना ने भारतीय सीमा में घुसकर भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाया. इसके एक दिन बाद भारतीय सेना के तीनों अंगों-थल सेना, नौसेना और वायुसेना- की संयुक्त वार्ता में भारत ने पाकिस्तानी हमले का सबूत दिया. दोनों देशों में चल रहे तनाव के दौरान पाकिस्तान ने चार बड़े झूठ बोले, जिनका हिन्दुस्तान ने सबूत देकर पूरी दुनिया के सामने पर्दाफाश कर दिया. 


तीनों सेनाओं की प्रेस कॉन्फ्रेंस: 'हम पाकिस्तान के किसी भी दुस्साहस का जवाब देने को तैयार हैं'

पाकिस्तान ने सबसे पहले कहा कि उन्होंने भारतीय वायुसेना के दो विमानों को मार गिराया गया है और तीन पायलटों को पकड़ लिया गया है. इसके बाद यह आंकड़ा दो विमान और दो पायलट हो गया. लेकिन सच्चाई यह है कि भारतीय सेना ने देखा था कि पीओके में दो पैराशूट उतरे हैं, जोकि एफ-16 के दो पायलटों के थे, जिन्हें भारतीय वायुसेना के मिग-21 ने मार गिराया था. इसके बाद शाम को पाकिस्तान ने अपना बयान बदलते हुए कहा कि उनकी हिरासत में भारतीय वायुसेना का एक ही पायलट है.

दुश्मन की कैद में IAF पायलट अभिनंदन ने पाकिस्तान को ऐसे कराया 'साहस' से परिचय

भारतीय वायुसेना (आईएएफ) ने गुरुवार को इस बात का भी सबूत दिया कि बुधवार को पाकिस्तान द्वारा जम्मू-कश्मीर स्थित भारत के सैन्य ठिकानों को निशाना बनाए जाने के हवाई हमले में लड़ाकू विमान एफ-16 का इस्तेमाल किया गया था. भारत ने निर्णायक सबूत के तौर पर एएम-आरएएएम मिसाइल का मलबा पेश करते हुए कहा कि बुधवार की सुबह हवाई मुठभेड़ में एफ-16 के एक विमान को मार गिराया गया. एयर वाइस मार्शल आर.जी.के. कपूर ने कहा कि पाकिस्तान भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने में एफ-16 के इस्तेमाल को लेकर झूठ बोल रहा है. कपूर ने कहा, 'एएम-आरएएएम मिसाई (एआईएम-120 एडवांस्ड मीडियम रेंज एयर टू एयर मिसाइल) का मलबा भारत के रजौरी इलाके से बरामद किया गया. पाकिस्तान के पास इस जो विमान हैं उनमें एफ-16 ही मिसाइल को ले जा सकता है.'

पाकिस्तान को आतंकियों के खात्मे के लिए मिले थे F-16, भारत के खिलाफ किया इस्तेमाल

पाकिस्तान ने दावा किया कि उन्होंने जान-बूझकर ऐसी जगह पर बम गिराए, जहां ना कोई इंसान हो और ना हो कोई सेना की चौकी. लेकिन भारतीय सेना का कहना है कि पाकिस्तान भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश में था, लेकिन भारत के मिग, सुखोई और मिराज विमानों द्वारा पाकिस्तानी विमानों को वापस लौटने को मजबूर कर दिया गया. एयर वाइस मार्शल कपूर ने कहा, 'पाकिस्तान ने दावा किया कि विमानों से खुले इलाके में बम दागे गए, लेकिन असलियत यह है कि पाकिस्तान ने सैन्य ठिकानों को निशाना बनाया, लेकिन उनकी योजनाओं को नाकाम कर दिया. आईएएफ की त्वरित कार्रवाई के कारण कोई खास नुकसान नहीं हुआ.' मेजर जनरल एस.एस. महल ने कहा कि पीएएफ ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर में एक ब्रिगेट मुख्यालय, बटालियन मुख्यालय और लॉजिस्टिक्स के अड्डों को निशाना बनाया. 

Welcome Back, Abhinandan: इमरान खान के IAF पायलट की रिहाई के ऐलान के बाद खुशी मनाता हिन्दुस्तान

पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने बदले कार्रवाई में पाकिस्तान के बालाकोट में सर्जिकल स्ट्राइक की. इस दौरान भारतीय वायुसेना के 12 मिराज लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तान की सीमा में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों को ध्वस्त कर दिया. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इसमें जैश के करीब 200-300 आतंकियों को ढेर कर दिया गया. लेकिन पाकिस्तान का कहना है कि भारत के विमानों ने केवल खाली जगह पर बम गिराए गए हैं. उनके इस हमले में कोई भी हताहत नहीं हुआ. इस पर भारतीय सेना ने कहा कि उनकी सर्जिकल स्ट्राइक के सफल होने के उनके पास सबूत हैं और इन सबूतों का खुलासा करने का फैसला सरकार करेगी.

भारतीय पायलट अभिनंदन को रिहा करेगा पाकिस्तान, आज होगी वतन वापसी 

टिप्पणियां

VIDEO- तीनों सेनाओं की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस : हम जो करना चाहते थे वो कर दिया

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement