NDTV Khabar

प्यार के लिए पाकिस्तान से आया था भारत, शादी के बाद हो गया था अरेस्ट, अब 10 साल की जेल काट जाएगा वापस

इमरान वारसी साल 2004 में 45 दिनों के वीजा पर कोलकाता अपने रिश्तेदारों से मिलने आया था. इस दौरान उसे एक भारतीय महिला से मोहब्बत हो गई और उसके बाद उन्होंने शादी कर ली.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्यार के लिए पाकिस्तान से आया था भारत, शादी के बाद हो गया था अरेस्ट, अब 10 साल की जेल काट जाएगा वापस

इमरान को वाघा बॉर्डर पर पाकिस्तान अधिकारियों को सौंपा जाएगा.

खास बातें

  1. 2004 में पाकिस्तान से आया था कोलकाता.
  2. प्यार के लिए लांघी थी सीमा
  3. 2008 में सुनाई गई थी 10 साल की सजा
भोपाल:

षडयंत्र एवं धोखाधड़ी करने सहित विभिन्न आरोपों में भोपाल जेल में 10 साल की सजा काटने के बाद कराची के 40 वर्षीय मोहम्‍मद इमरान वारसी को 26 दिसंबर को उसके वतन पाकिस्‍तान भेजा जाएगा. उसे वाघा बॉर्डर पर पाकिस्तान के अधिकारियों को सौंपा जाएगा. सॉफ्टवेयर इंजीनियर हामिद निहाल अंसारी के पाकिस्तान की जेल में छह साल रहने के बाद अपने वतन भारत लौटने के करीब एक हफ्ते बाद इमरान वारसी को उसके वतन में भेजा जा रहा है. 

भोपाल स्थित शाहजहांनाबाद इलाके के नगर पुलिस अधीक्षक (सीएसपी) नागेन्द्र कुमार पटेरिया ने शनिवार को बताया, ‘हमें इमरान वारसी को 26 दिसंबर को वाघा सीमा पर भेजना है. वहां कानूनी प्रक्रिया करने के बाद उसे पाकिस्तानी अधिकारियों के हवाले कर दिया जाएगा.' उन्होंने कहा कि डिस्ट्रिक्ट फॉरेन रजिस्ट्रेशन आफिसर एवं भोपाल के पुलिस अधीक्षक धर्मवीर यादव के कार्यालय ने शाहजहांनाबाद पुलिस स्टेशन को पत्र एवं दस्तावेज सौंपे हैं, ताकि इमरान वारसी को वापस भेजे जाने का रास्ता साफ किया जा सके. 


वतन लौटे हामिद अंसारी ने बताई दर्दभरी दास्तां, पाकिस्तान की जेल में फटी थी आंख की रेटिना

जब यादव से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी नागरिक इमरान वारसी पर षडयंत्र करने, धोखा देने, नकली दस्तावेज पेश करने के साथ-साथ पासपोर्ट अधिनियम एवं आफिसियल सीक्रेट एक्ट के आरोप थे . इन्हीं मामलों में उसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी और दोषी पाये जाने पर अदालत ने उसे 10 साल की सजा सुनाई थी. उन्होंने कहा कि इमरान 10 साल की सजा काटने के बाद जेल से करीब 9 महीने पहले रिहा हो गया था. जेल से रिहा होने के बाद वह वर्तमान में भोपाल शहर स्थित शाहजहांनाबाद पुलिस स्‍टेशन के डिटेन्शन सेंटर में रह रहा है. वह इस सेंटर में पिछले 9 महीने से है और जल्द से जल्द कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद अपने वतन वापसी की राह देख रहा है. हालांकि, अब वह हिरासत में नहीं है, लेकिन नियमों के तहत वह शाहजहांनाबाद पुलिस स्टेशन के दायरे से बाहर नहीं जा सकता है. 

पाकिस्तान से लौटे हामिद नेहाल अंसारी ने दी युवाओं को नसीहत, कहा- फेसबुक पर कभी किसी से प्यार न करना

साथ ही यादव ने बताया कि पुलिसकर्मी उसकी भोजन की व्यवस्था करने के साथ-साथ उसकी रोजमर्रा की जरूरतों को भी पूरा करते हैं. वह रात में इसी पुलिस स्टेशन के अंदर सोता है. सीएसपी पटेरिया ने बताया कि मध्यप्रदेश पुलिस ने उसे साल 2008 में नकली दस्तावेजों के साथ भोपाल में गिरफ्तार किया था. उन्होंने कहा कि इमरान भी अंसारी की तरह अपने प्‍यार की खातिर वर्ष 2004 में पाकिस्तान से भारत के कोलकाता शहर में आए थे. 

प्यार में डूबकर सीमाएं लांघते हुए पाकिस्तान पहुंचा हामिद अपनी प्रेमिका से मिल भी नहीं सका

भारत में वारसी की शादी उसके मामा की बेटी से हुई जिससे वह बेहद प्‍यार करता था. इस समय वह दो बेटों का पिता हैं. उसका एक बेटा 13 साल का है, जबकि दूसरा 11 साल का . वे कोलकाता में रहते हैं. इमरान करीब चार साल कोलकाता में रहने के बाद पासपोर्ट एवं वीजा बनाने के लिए वर्ष 2008 में भोपाल आया था और नकली दस्तावेजों के साथ पकड़ा गया था.

(इनपुट-भाषा)

टिप्पणियां

सुषमा स्वराज से मिल छलके खुशी के आंसू, वतन लौटे हामिद बोले- मेरा भारत महान, मेरी 'मैडम' महान

VIDEO- विदेश मंत्री से मिलते ही फूट-फूट कर रो पड़ा हामिद



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement