जम्मू-कश्मीर ही नहीं, पाकिस्तान अब नागालैंड में भी कर रहा है 'प्रोपेगंडा वार'

अधिकारी ने बताया कि जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में हालात धीरे-धीरे सुधर रहे हैं. हालांकि पाकिस्तान की ओर से फैलाए जा रहे जहर की वजह से इंटरनेट जल्दी शुरू नहीं किया जा सकेगा. वह वीडियो के जरिए लोगों को उकसाने की कोशिश कर रहे हैं जो वास्तव में पाकिस्तान में बनाए गए हैं.

जम्मू-कश्मीर ही नहीं, पाकिस्तान अब नागालैंड में भी कर रहा है 'प्रोपेगंडा वार'

Jammu and Kashmir: जम्मू-कश्मीर में जारी पाबंदियों के दौरान ली गई तस्वीर

खास बातें

  • पाकिस्तान की नापाक हरकत
  • नागालैंड में उकसाने की कोशिश
  • पीओके में बनाए जा रहे हैं वीडियो
नई दिल्ली:

न सिर्फ जम्मू-कश्मीर बल्कि अब नागालैंड (Nagaland) में भी पाकिस्तान प्रोपेगंडा के जरिए गड़बड़ करने की कोशिश में लगा हुआ है. भारत सरकार से जुड़े  सूत्रों ने एनडीटीवी को बताया, पाकिस्तान के अधिकारी पीओके में वीडियो  बनाने में जुटे हैं जिनमें कुछ लोग सुरक्षा बलों की वर्दी पहनकर आम जनता पर अत्याचार कर रहे हैं. इन वीडियो को सोशल मीडिया में शेयर कर कहा जाता है कि भारतीय सुरक्षा बल कश्मीरियों पर अत्याचार कर रहे हैं'. गृह मंत्रालय से जुड़े सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तान की ओर से इन वीडियो को नागालैंड (Nagaland) में विद्रोही समूहों को भी भेजा जा रहा है और उन्हें उकसाने की कोशिश की जा रही है.  एक वरिष्ठ मंत्री ने बताया, इन संदेशों और वीडियो को विद्रोहियों संगठनों के साथ-साथ उन एक्टिविस्टों को भी भेजा जा रहा है कि जो अलग  नागालैंड बनाने की वकालत कर रहे हैं. वहीं अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तान की ओर से किए जा रहे इस प्रोपेगंडा की वजह से भी कश्मीर में अभी तक इंटरनेट शुरू किया जा सका है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि जम्मू-कश्मीर प्रशासन धीरे-धीरे पाबंदियों को हटा रहा है.

अनुच्छेद 370 हटने के बाद आज पहली बार श्रीनगर जाएंगे सेनाध्यक्ष, सुरक्षा का लेंगे जायजा

अधिकारी  ने बताया कि जम्मू-कश्मीर में हालात धीरे-धीरे सुधर रहे हैं. हालांकि पाकिस्तान की ओर से फैलाए जा रहे जहर की वजह से इंटरनेट जल्दी शुरू नहीं किया जा सकेगा. वह वीडियो के जरिए  लोगों को उकसाने की कोशिश कर रहे हैं जो वास्तव में पाकिस्तान में बनाए गए हैं और यहां तक कि इनको नागालैंड पहुंचा दिया गया है. अगर इंटरनेट शुरू हो गया तो पाकिस्तान नागालैंड की तरह यहां भी लोगों को उकसाने को कोशिश करेगा. गौरतलब है कि इससे पहले वाट्सएप के जरिए जम्मू-कश्मीर में कई बार  सरकार के खिलाफ गलतफहमी फैलाने की कोशिश की गई है.

रवीश कुमार का प्राइम टाइम: जम्मू कश्मीर को लेकर कोर्ट, सरकार और सियासत में घमासान​


 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com