Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

US खुफिया एजेंसी ने भारत को किया आगाह, कहा- पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी संगठन भारत में हमले की फिराक में

अमेरिकी खूफिया एजेंसी के डायरेक्टर डैन कोट्स ने कहा कि पाकिस्तान का ऐसे आंतकी संगठन को पनाहा देना खुद अमेरिका की आतंक विरोधी कोशिशों के लिए एक बड़ा झटका है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
US खुफिया एजेंसी ने भारत को किया आगाह, कहा- पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी संगठन भारत में हमले की फिराक में

प्रतीकात्मक चित्र

खास बातें

  1. अमेरिका ने भारत को दी सभी जानकारी
  2. कहा- पाकिस्तान में आतंकी संगठन रच रहे हैं साजिश
  3. भारत के अलावा अफगानिस्तान में भी आंतकी हमले की चेतावनी
नई दिल्ली:

अमेरिका की खूफिया एजेंसी ने भारत को अगाह किया है कि पाकिस्तान द्वारा समर्थित आतंकवादी संगठन भारत में हमला कर सकते हैं. खूफिया एजेंसी के अनुसार ऐसे आतंकवादी संगठन भारत में लगातार हमले की साजिश रच रहे हैं. एजेंसी के अनुसार उन्हें मिली जानकारी के अनुसार वह सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि अफगानिस्तान में भी हमले की तैयारी में हैं. अमेरिकी खूफिया एजेंसी के डायरेक्टर डैन कोट्स ने कहा कि पाकिस्तान का ऐसे आंतकी संगठन को पनाहा देना खुद अमेरिका की आतंक विरोधी कोशिशों के लिए एक बड़ा झटका है. उन्होंने कहा कि ऐसे आतंकवादी संगठन पाकिस्तान की जमीन से भारत, आफगानिस्तान यहां तक की अमेरिका मे भी हमले की तैयारी कर रहे हैं.

जम्‍मू-कश्‍मीर: लश्‍कर के बड़े मॉड्यूल का भंडाफोड़, 6 आतंकी गिरफ्तार


गौरतलब है कि बीते कुछ समय में भारतीय खूफिया एजेंसियों ने ऐसे कई मॉड्यूल को पकड़ा है जो देश में बड़ी आतंकी साजिश को अंजाम देने के फिराक में था. पिछले महीने ही नेशनल इनवेस्टिगेटिव एजेंसी यानी एनआईए ने भारत में इस्लामिक स्टेट के एक बड़े मॉड्यूल 'हरकत उल हर्ब ए इस्लाम' का भंडाफोड़ करते हुए 10 लोगों को गिरफ्तार किया था. ये लोग दिल्ली में 26 जनवरी के पहले बड़े पैमाने पर हमले की तैयारी कर रहे थे. इनके पास से बड़ी मात्रा में बम बनाने का सामान, रॉकेट लॉन्चर और हथियार मिले हैं.

कुलगाम में लश्कर के दो और हिजबुल का एक आतंकी गिरफ्तार

NIA ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके इसकी जानकारी दी थी. एनआईए के आईजी, आलोक मित्तल ने बताया था कि 10 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 5 दिल्ली से और 5 यूपी के हैं. उनके पास से काफी हथियार बरामद हुए हैं. जिससे पता चलता है कि बड़ी साज़िश को अंजाम देने वाले थे. उन्होंने कहा था कि ये लोग जल्द हमला करने वाले थे और रिमोट कंट्रोल से ब्लास्ट की तैयारी थी. एक ग्रेनेड लॉन्चर, 17 पिस्तौल, 25 किलो केमिकल, 120 अलार्म घड़ियां बरामद हुई हैं. NIA ने बताया कि फ़िदायीन हमले की भी तैयारी थी और 'फ़िदायीन हमले के लिए जैकेट बना रहे थे.

बड़े पैमाने पर 150 से ज्यादा अफसरों ने की छापेमारी
एनआईए, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और यूपी एटीएस की दर्जनों टीमें एक साथ दिल्ली और यूपी में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के नए मॉड्यूल हरकत उल हर्ब ए इस्लाम से जुड़े लोगों के ठिकानों पर छापेमारी कर रही थीं. ये छापेमारी दिल्ली के जाफराबाद में 6 जगहों, इसके अलावा मेरठ, अमरोहा, लखनऊ और हापुड़ में 17 जगहों पर पूरे दिन चलती रही. छापेमारी में करीब 150 लोग शामिल थे. कुल 16 संदिग्ध पकड़े गए जिसमें दिल्ली से 5 और यूपी से 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया था. एनआईए के आईजी आलोक मित्तल के मुताबिक ये मॉड्यूल 4 महीने से तैयार हो रहा था. इसकी जानकारी थी और 20 दिसंबर को इस मामले में कई धराओं के तहत केस दर्ज किया गया था.

हिजबुल मुजाहिद्दीन के 3 आतंकी गिरफ्तार, आतंकवाद के लिए भड़का रहे थे युवाओं को

उत्तरी पूर्वी के दिल्ली के जाफराबाद में रची जा रही थी साज़िश
एनआईए के मुताबिक इस मॉड्यूल का मास्टरमाइंड मोहम्मद सोहैल मुफ़्ती है जो जाफराबाद का ही रहने वाला है, लेकिन वो फिलहाल अमरोहा में मौलवी के तौर पर काम कर रहा था. उसे अमरोहा से गिरफ्तार किया गया है. सोहैल ही इस ग्रुप का मोटिवेटर है जो विदेश में बैठे आईएस के एक हैंडलर के संपर्क में था. इसके अलावा दिल्ली के जाफराबाद से ही आजम, अनस, जाहिद, जुबेर मलिक और ज़ैद मलिक को गिरफ्तार किया गया था. सभी पड़ोसी हैं और आसपास जाफराबाद की अलग-अलग गलियों में रहते हैं. इस कार्रवाई के दौरान भारी भीड़ थी, जिस देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिसबल तैनात किया गया था.

भारी मात्रा में बरामदगी
एनआईए के मुताबिक इन से संदिग्धों के पास से 12 पिस्टल मिले थे. 150 कारतूस मिले थे. एक देशी लांचर मिला था. 120 के आसपास अलार्म क्लॉक मिली थे. 51 पाइप मिले थे, 25 किलो केमिकल जैसे पोटेशियम नाइट्रेट, अमोनियम नाइट्रेट, सल्फर और विस्फोटक मिला था. इस केमिकल से ये लोग बड़े पैमाने पर बम बनाने वाले थे. फियादीन और रिमोट कंट्रोल्ड बम से हमले करने की तैयारी थी. ये लोग आपस मे टेलीग्राम और वॉट्सऐप से बात करते थे. फिदायीन हमले के लिए जैकेट भी बना रहे थे. इनके पास से 100 मोबाइल बरामद हुए थे. 135 सिमकार्ड मिले हैं. 7.5 लाख रुपए कैश मिला था. 3 लैपटॉप, तलवारें और चाकू मिले हैं. लोकल लेवल पर ट्रेनिंग भी ली थी.

VIDEO: लश्कर के मॉड्यूल का भंडाफोड़.

 

 

 

 

टिप्पणियां

 

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... आरती सिंह पर हुआ बिग बॉस का गहरा असर, भाई कृष्णा अभिषेक ने Video शेयर कर खोला राज

Advertisement