NDTV Khabar

पाकिस्तान में तैनात अपने राजदूत वालिद अबु अली को फिलिस्तीन ने वापस बुलाया

फिलिस्तीन के राजदूत वालिद अबु अली मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज सईद की एक रैली में इस्लामाबाद में शामिल थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाकिस्तान में तैनात अपने राजदूत वालिद अबु अली को फिलिस्तीन ने वापस बुलाया

आतंकी हाफिज सईद के साथ रैली में शामिल थे फिलिस्तीन के राजदूत वालिद अबु अली.

खास बातें

  1. हाफिज सईद के साथ रैली में देखे गए थे फिलिस्तीन के राजदूत
  2. भारत ने इसका कड़ा विरोध जताया था
  3. फिलिस्तीन ने राजदूत को वापस बुलाने का किया फैसला
नई दिल्ली:

पाकिस्तान में तैनात अपने राजदूत वालिद अबु अली को फिलिस्तीन ने वापस बुला लिया है. फिलिस्तीन के राजदूत वालिद अबु अली मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज सईद की एक रैली में इस्लामाबाद में शामिल थे. इसका भारत ने कड़ा विरोध जताया था. फिलिस्तीन ने इस घटना पर खेद जताया था. फिलिस्तीन ने कहा है कि वह इस घटना का संज्ञान लेगा.

यह भी पढ़ें - हाफिज सईद का ऐलान, अगले साल पाकिस्तान में आम चुनाव लड़ेगा, कश्मीर के लिए कहा यह...

भारत में फलस्तीन के राजदूत अदनान अबू अल हायजा ने कहा कि पाकिस्तान में आतंकी हाफिज सईद की रैली में शामिल हुए फलस्तीनी राजदूत वलीद अबू अली को वापस बुला लिया गया है. हायजा ने कहा कि भारत और फिलिस्तीन के नजदीकी एवं मित्रतापूर्ण संबंधों को देखते हुए अली का कदम 'अस्वीकार्य' है. उन्होंने कहा कि अली को सामान बांधने और इस्लामाबाद छोड़ने के लिए कुछ दिनों का समय दिया गया है.


यह भी पढ़ें : इस्राइल और फिलिस्तीन के बीच समझौते की उम्मीदें खत्म होने का खतरा : बान की-मून

हायजा ने कहा, फिलिस्तीनी सरकार ने अली को बताया कि वह अब पाकिस्तान में नहीं रहेंगे. पाकिस्तान में फिलिस्तीन के राजदूत वालिद अबु अली ने शुक्रवार को रावलपिंडी के लियाकत बाग में 'दिफा ए पाकिस्तान काउंसिल' द्वारा आयोजित एक रैली में कथित तौर पर भाग लिया था. 'दिफा ए पाकिस्तान काउंसिल' धार्मिक एवं चरमपंथी समूहों का संगठन है, जिसका प्रमुख मुंबई हमलों का मास्टरमाइंड हाफिज सईद है. 

गौरतलब है कि शुक्रवार को लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक हाफिज सईद के साथ फिलिस्तीन के राजदूत वलीद अबु अली ने मंच साझा किया था, जिसका भारत ने इसका कड़ा विरोध जताया था.  

टिप्पणियां

VIDEO : हाफिज की नजरबंदी हटने पर भारत की तीखी प्रतिक्रिया

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस्लामाबाद में फलस्तीनी राजदूत वालिद अबु अली ने पाकिस्तान के रावलपिंडी में दिफा-ए-पाकिस्तान काउंसिल की ओर से आयोजित एक विशाल रैली में हिस्सा लिया था. दिफा-ए-पाकिस्तान (पाकिस्तान की रक्षा) काउंसिल पाकिस्तान में धार्मिक समूहों और राजनीतिक पार्टियों का एक गठबंधन है, जिसमें हाफिज का संगठन भी शामिल है. ये संगठन कट्टरपंथी है और हमेशा भारत के खिलाफ जहर उगलता रहा है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement