NDTV Khabar

संसद के वर्तमान सत्र में लोकसभा में 137 प्रतिशत, राज्यसभा में 103 प्रतिशत हुआ काम

संसद का इस बार का सत्र कई मायनों में ऐतिहासिक रहा और इस दौरान लोकसभा में लगभग 137 प्रतिशत काम हुआ तथा राज्यसभा में 103 प्रतिशत काम हुआ.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
संसद के वर्तमान सत्र में लोकसभा में 137 प्रतिशत, राज्यसभा में 103 प्रतिशत हुआ काम

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  1. संसद का इस बार का सत्र कई मायनों में ऐतिहासिक रहा
  2. लोकसभा में 137 प्रतिशत
  3. राज्यसभा में 103 प्रतिशत हुआ काम
नई दिल्ली:

संसद का इस बार का सत्र कई मायनों में ऐतिहासिक रहा और इस दौरान लोकसभा में लगभग 137 प्रतिशत काम हुआ तथा राज्यसभा में 103 प्रतिशत काम हुआ. संसदीय मामलों की समिति द्वारा बुधवार को जारी एक बयान के अनुसार, 17वीं लोकसभा का पहला सत्र कई मायनों में ‘‘ऐतिहासिक'' रहा क्योंकि सदन में सामाजिक और आर्थिक गतिविधियों से संबंधित लगभग सभी विधेयक पारित किए गए.

NDTV से बातचीत के दौरान रो पड़े फारूक अब्दुल्ला- कहा- 'घर में ही रखा गया था हिरासत में, अमित शाह झूठ बोल रहे'

समिति ने कहा कि सत्र में लोकसभा में लगभग 137 प्रतिशत काम हुआ, जबकि राज्यसभा में 103 प्रतिशत काम हुआ.    मौजूदा सत्र में दोनों सदनों द्वारा पारित अहम विधेयकों में मुस्लिम महिला (विवाह अधिकारों का संरक्षण) विधेयक, 2019, जम्मू-कश्मीर आरक्षण (संशोधन) विधेयक, 2019 और जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन विधेयक, 2019 शामिल हैं.


स्‍थ‍िति सामान्‍य होते ही जम्‍मू-कश्‍मीर को पूर्ण राज्‍य का दर्जा दे दिया जाएगा, हमें 70 साल नहीं लगेंगे : अमित शाह

टिप्पणियां

मालूम हो कि, जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने वाला बिल लोकसभा (Lok Sabha) में पास हो गया. बिल के पक्ष में 370 और विरोध में 70 मत पड़े. इस बिल को सरकार के एक दिन पहले ही राज्यसभा से पारित करवा लिया था. इसके अलावा धारा 370 हटाने का संकल्प पत्र भी पारित हो गया. इस बिल के पास होने के बाद जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) दो हिस्सों में बंट जाएगा. इसके अनुसार जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) और लद्दाख (Ladakh) को केंद्र शासित प्रदेश बनाया जाएगा.

VIDEO: जम्मू-कश्मीर से हटाई गई धारा 370



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement