Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

PNB घोटाले को लेकर संसद में तीसरे दिन भी हंगामा, लोकसभा शुरू होते ही स्‍थगित

पीएनबी घोटाले को लेकर तीसरे दिन भी संसद में हंगामा जारी है. लोकसभा में पीएनबी धोखाधड़ी मामले सहित कुछ अन्य मुद्दों को लेकर कांग्रेस एवं अन्य दलों के भारी हंगामे के कारण लोकसभा की कार्यवाही को बुधवार को शुरू होने के कुछ देर बाद ही स्थगित कर दी गई.

PNB घोटाले को लेकर संसद में तीसरे दिन भी हंगामा, लोकसभा शुरू होते ही स्‍थगित

फाइल फोटो

खास बातें

  • पीएनबी घोटाले को लेकर तीसरे दिन भी संसद में हंगामा जारी है
  • कांग्रेस का कहना है कि चर्चा सिर्फ हाल के घोटालों पर होनी चाहिए
  • बजट सत्र के पहले 2 दिन दोनों सदनों में हंगामे के कारण कोई काम नहीं हो सका
नई दिल्ली:

पीएनबी घोटाले को लेकर तीसरे दिन भी संसद में हंगामा जारी है. लोकसभा में पीएनबी धोखाधड़ी मामले सहित कुछ अन्य मुद्दों को लेकर कांग्रेस एवं अन्य दलों के भारी हंगामे के कारण लोकसभा की कार्यवाही को बुधवार को शुरू होने के कुछ देर बाद ही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई. लोकसभा की कार्यवाही 12 बजे दोबारा शुरू हुई लेकिन विपक्ष के हंगामे के चलते पूरे दिन के लिए स्‍थगित कर दी गई. वहीं राज्‍यसभा की कार्यवाही 2 बजे तक स्‍थगित हो गई. 

पिछले कई सालों से बैंकिंग सेक्टर में हो रही अनियमितताओं और भारतीय अर्थव्यवस्था पर उसके असर, लेकिन कांग्रेस ने इस पर सवाल उठाए हैं. कांग्रेस का कहना है कि चर्चा सिर्फ हाल के घोटालों पर होनी चाहिए. इससे पहले संसद के बजट सत्र के पहले दो दिन दोनों सदनों में हंगामे के कारण कोई काम नहीं हो सका.

बैंकिंग घोटाले के चलते राज्यसभा की कार्यवाही में बाधा

संसद में मंगलवार लगातार दूसरे दिन पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) धोखाधड़ी मामले सहित विभिन्न मुद्दों पर सरकार को घेरने के लिए विपक्ष के हंगामे के कारण दोनों सदनों की कार्यवाही बाधित रही, जबकि सरकार की ओर से कहा गया कि वह किसी भी मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है किंतु विपक्ष चर्चा से भाग रहा है. बजट सत्र के दूसरे चरण के दूसरे दिन आज दोनों सदनों में प्रश्नकाल और शून्यकान विपक्ष के हंगामे की भेंट चढ़ गया. व्यवधान के चलते लोकसभा जहां एक बार वहीं राज्यसभा तीन बार के स्थगन के बाद पूरे दिन के लिए स्थगित हो गयी.

VIDEO- संसद में बैंकिंग घोटाले पर हंगामा​

दोनों ही सदनों में आज कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, अन्नाद्रमुक, द्रमुक तथा सत्तारूढ़ राजग गठबंधन में शामिल तेदेपा के सदस्य आसन के समक्ष नारेबाजी कर रहे थे. इनमें से कई सदस्यों ने अपने हाथों में तख्तियां थाम रखी थीं.