NDTV Khabar

राहुल पर रक्षा मंत्री का पलटवार- हम 2019 में ही ले आएंगे पहला राफेल विमान, कांग्रेस बताए 10 साल में क्यों नहीं लाई?

संसद का शीतकालीन सत्र लगातार हंगामे की वजह से बाधित हो रहा है. लोकसभा में जहां राफेल पर बहस जारी है, वहीं राज्यसभा में तीन तलाक विधेयक पेश होना है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. राफेल पर रार जारी
  2. रक्षा मंत्री ने आज संभाला मोर्चा
  3. राहुल गांधी पर भी उठाए सवाल
नई दिल्ली:

संसद का शीतकालीन सत्र लगातार हंगामे की वजह से बाधित हो रहा है. लोकसभा में जहां राफेल पर बहस जारी है, वहीं राज्यसभा में तीन तलाक विधेयक पेश होना है. आज लोकसभा के एजेंडे में राफेल पर बहस ही है. 2 जनवरी को राहुल गांधी ने राफेल डील पर चर्चा में भाग लिया था और मोदी सरकार पर कई आरोप लगाए थे, हालांकि सरकार की ओर से अरुण जेटली ने जवाब भी दिया था. मगर राहुल गांधी चाहते हैं कि पीएम मोदी उनसे 20 मिनट राफेल पर बहस करें. बहरहाल, कावेरी नदी पर बांध के मुद्दे और आंध्र प्रदेश के लिए विशेष दर्जे की मांग को लेकर क्रमश: अन्नाद्रमुक एवं तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) के सदस्यों के हंगामे के कारण गुरुवार को लोकसभा की कार्यवाही दो बार के स्थगन के बाद दिनभर के लिए स्थगित कर दी गई. लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने आज जानबूझकर सदन में आसन के समीप आकर और नियमों का उल्लंघन करते हुए कार्यवाही में बाधा डालने के लिए तेदेपा के 13, अन्नाद्रमुक के 7 सदस्यों समेत कुल 21 सदस्यों को नियम 374 ए के तहत सदन की कार्यवाही से चार कामकाजी दिनों के लिए निलंबित कर दिया. 

राहुल गांधी ने दी चुनौती: हिम्मत है तो राफेल पर आमने-सामने बैठकर 20 मिनट मुझसे बहस करें PM

Parliament winter session Lok Sabha, Rajya Sabha proceedings updates:


 

-केंद्रीय रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने राफेल मुद्दे पर बहस के दौरान लोकसभा में कहा, "राहुल गांधी की फ्रांस के राष्ट्रपति से जो भी बात हुई, उसकी आधिकारिक प्रति संसद के समक्ष रखी जानी चाहिए... कांग्रेस अध्यक्ष ने देश और संसद को गुमराह किया है..."

-केंद्रीय रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने राफेल मुद्दे पर बहस के दौरान लोकसभा में कहा कि पीएम के खिलाफ असंसदीय भाषा का इस्तेमाल किया गया. कांग्रेस के सारे आरोप निराधार हैं. 

- रक्षा मंत्री ने कहा कि राफेल पर कांग्रेस घड़ियाली आंसू बहा रही है. कांग्रेस ने एचएएल की हालत सुधारने के लिए कुछ नहीं किया. साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने एचएएल से हेलीकॉप्टर क्यों नहीं खरीदे.

-लोकसभा में रक्षामंत्री ने कहा कि जब राहुल गांधी ने HAL बेंगलुरु में बैठक की थी, तब उन्होंने कहा कि राफेल आपका हक है और आपको इसे बनाना चाहिए. 

-केंद्रीय रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने राफेल मुद्दे पर बहस के दौरान लोकसभा में कहा, "हर 'AA' के लिए वहां 'Q' और 'RV' रहे हैं..."

-केंद्रीय रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने राफेल मुद्दे पर बहस के दौरान लोकसभा में कहा, "रक्षा के लिए सौदा करना और रक्षा के नाम पर सौदा करने में फर्क होता है... हम रक्षा के नाम पर सौदा नहीं करते... हम रक्षा के लिए सौदा करते हैं, जिसमें राष्ट्रीय सुरक्षा प्राथमिकता होती है..."

- राफेल पर राहुल के आरोपों का जवाब देते हुए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि हमें अपने पड़ोसी मुल्कों से खतरा है और हमें क्षेत्र में शांति रखनी होगी. उन्होंने कहा कि इसके लिए अपनी सेना को मजबूती देनी की भी जरूरत है ताकि हमारी सीमाएं सुरक्षित हो सकें. 

-रक्षामंत्री ने कहा कि सरकार हर सवाल का जवाब देने को तैयार है लेकिन कांग्रेस को रक्षा सौदे की गोपनीयता समझनी चाहिए. रक्षा मंत्री ने कहा कि पहला राफेल विमान 2019 यानी डील के 3 साल के भीतर आ जाएगा जबकि कांग्रेस यह काम नहीं कर पाई. उन्होंने कहा कि 2022 तक सभी विमान यानी 36 विमान भारत आ जाएंगे. यूपीए के वक्त में 10 साल तक करार की प्रक्रिया तक पूरी नहीं हो पाई जबकि हमने 3 महीने में यह करके दिखाया है.

-केंद्रीय रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने राफेल मुद्दे पर बहस के दौरान लोकसभा में कहा, "पहला विमान सितंबर, 2019 में दे दिया जाएगा, और 36 विमान वर्ष 2022 में दिए जाएंगे... सौदेबाज़ी की प्रक्रिया 14 महीने में पूरी कर ली गई थी..."

-राफेल मुद्दे पर संसद में बहस के दौरान रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन ने कहा कि चाहे सत्ता में कोई भी हो, देशहित सबसे महत्वपूर्ण होना चाहिए. उन्होंने कहा कि राफेल मुद्दे पर उठाए गए सवालों का जवाब दिया जाएगा. हमारे पड़ोसियों के साथ संबंध उतार-चढ़ाव वाले रहे हैं. चीन-पाकिस्तान की बेहतर तैयारी है. यूपीए के 10 सालों के शासनकाल में कुछ नहीं हुआ है. हमारी वायुसेना के पास जहाज घटते जा रहे थे. 2006 के बाद से राफेल डील पर लगातर गतिरोध जारी था. हमारी सेना को इन विमानों की जरूरत थी. इसलिए हमारी सरकार ने इन विमानों को तुरंत खरीदने का फैसला किया.

- रक्षा मंत्री ने लोकसभा में कहा कि हमारे विमान घटते जा रहे हैं और पाकिस्तान-चीन की तैयारी हमसे बेहतर है. 

-केंद्रीय रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने राफेल मुद्दे पर लोकसभा में कहा, "विपक्ष के वरिष्ठ नेता मेरे जवाब सुनना ही नहीं चाहते हैं... यह काफी निराशाजनक है... देश को यह जानने की ज़रूरत है कि रक्षा सौदों का ताल्लुक राष्ट्रीय सुरक्षा से होता है और वे बहुत अहम होते हैं, भले ही सत्ता में वे हों या हम..."

-राफेल पर लोकसभा में रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण जवाब दे रही हैं.

-राफेल पर चर्चा के दौरान बीजेपी सांसद अनुराग ठाकुर ने कहा कि राफेल पर वो लोग सवाल कर रहे हैं जिनकी परिवार और पार्टी का इतिहास घोटालों से पटा हुआ है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कन्फ्यूज्ड नेता ने एएनआई की महिला पत्रकार पर सवाल उठाए जबकि उस पत्रकार ने प्रधानमंत्री मोदी से सभी जरूरी मुद्दे पर सवाल किए. आगे अऩुराग ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के समय रक्षा सौदों के जरिए पार्टी का फंड बढ़ाने की कोशिश होती आई है. उन्होंने कहा कि जिन लोगों का नाम अगस्ता वेस्टलेंड घोटाले में आया वो आज घोटाले की बात कर रहे हैं. नेशनल हेराल्ड में देश के करोड़ों रुपये का टैक्स लूटने वाले हमसे सवाल पूछ रहे हैं.

- बीजेपी सांसद अनुराग ठाकुर ने राफेल मुद्दे पर बहस के दौरान, अगस्ता वेस्टलैंड, नेशनल हेराल्ड और कोयला घोटाला को लेकर कांग्रेस पर साधा निशाना. 

-कांग्रेस सांसद केसी वेणुगोपाल ने सबरीमाला मंदिर के मुद्दे को लेकर लोकसभा में कहा, "हम राज्य में शांति चाहते हैं... हम हल चाहते हैं... वरना सरकार राज्य में हिंसा को बढ़ावा दे रही है..."

-केरल के सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश करने के बाद हुए विवाद पर लोकसभा में बहस जारी है. 

-बीजेपी सासंद साढ़े दस बजे संसद में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने केरल में हिंसा को लेकर प्रदर्शऩ करेंगे.

निलंबित किए गये सदस्यों में तेदेपा के पूर्व केंद्रीय मंत्री अशोक गजपति राजू, जयदेव गल्ला, टी नरसिंहन, मुरली मोहन, वेंकटेश्वर राव मगंत्ती, श्रीराम मलयाद्रि, के निम्मला, राममोहन नायडू, कोनकल्ला नारायण राव, एम श्रीनिवास राव, जेसी दिवाकर रेड्डी, एस केसीनेनी और पी रवींद्र बाबू थे. अन्नाद्रमुक के निलंबित किये गये सात सदस्यों में ए अरुणमोझितेवन, गोपालकृष्णन चिन्नाराज, आर गोपालकृष्णन, आर पी मुरुताराजा, जे टी नटर्जी, वी पनीरसेल्वम और पी आर सेंतिलनाथन थे. एक बार के स्थगन के बाद सदन की कार्यवाही दोबारा फिर शुरू हुई तो सदन में अन्नाद्रमुक और तेदेपा सदस्यों का शोर शराबा प्रश्नकाल की तरह ही जारी रहा. 

जब राहुल ने लोकसभा स्पीकर से कहा- मैम, मैं अनिल अंबानी नहीं तो क्या, डबल A कह सकता हूं...

अन्नाद्रमुक और तेदेपा के सदस्य आसन के निकट पहुंचकर नारेबाजी करने लगे. हंगामा कर रहे कुछ सदस्यों ने कागज के टुकड़े उछाले. हंगामे के बीच संसदीय कार्य मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि सदन की मर्यादा भंग की जा रही है। राफेल मामले पर और देश के मुद्दों पर चर्चा होनी है। सदस्यों से आग्रह है कि अपने स्थान पर जाएं. सदन में हंगामे के बीच सुमित्रा महाजन ने आवश्यक कागजात रखवाए. स्पीकर की चेतावनी के बाद भी हंगामा जारी रहा. इसके बाद अन्नाद्रमुक और तेदेपा के 19 सदस्यों को चार कामकाजी दिनों के लिए सदन से निलंबित कर दिया गया. 

BJP विधायक का दावा, प्रधानमंत्री मोदी का वाराणसी नहीं इस सीट से चुनाव लड़ना 90% तय

टिप्पणियां

लोकसभा अध्यक्ष ने करीब 12:15 बजे कार्यवाही दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी. दोपहर दो बजे सदन की बैठक पुन: शुरू होने पर तेदेपा के निलंबित सदस्य आसन के समीप आकर नारेबाजी कर रहे थे. अन्नाद्रमुक के भी कुछ सदस्य अपनी मांग को लेकर हंगामा कर रहे थे. अध्यक्ष महाजन ने निलंबित सदस्यों को चेतावनी देते हुए सदन से बाहर जाने को कहा. उन्होंने तेदेपा के दो और सदस्यों को निलंबित कर दिया. इससे पहले, प्रश्नकाल शुरू होने के साथ ही तेदेपा सदस्य आंध्रप्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग करते हुए हाथों में तख्तियां लेकर आसन के निकट पहुंच गए.

VIDEO: राफेल मुद्दे पर संसद में गतिरोध जारी, राज्यसभा में उठे सवाल



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement