NDTV Khabar

जब राहुल ने लोकसभा स्पीकर से कहा- मैम, मैं अनिल अंबानी नहीं तो क्या, डबल A कह सकता हूं...

संसद के शीतकालीन सत्र में राफेल सौदे पर बहस को लेकर बुधवार का दिन काफी गहमा-गहमी भरा रहा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जब राहुल ने लोकसभा स्पीकर से कहा- मैम, मैं अनिल अंबानी नहीं तो क्या, डबल A कह सकता हूं...

राफेल मुद्दे पर लोकसभा में मोदी सरकार पर हमला बोलते राहुल गांधी

खास बातें

  1. राहुल गांधी ने राफेल पर लोकसभा में चर्चा की.
  2. अनिल अंबानी का नाम लेने से स्पीकर ने मना किया.
  3. राहुल ने मोदी सरकार पर कई आरोप लगाए.
नई दिल्ली:

संसद के शीतकालीन सत्र में राफेल सौदे (Rafale deal) पर बहस को लेकर बुधवार का दिन काफी गहमा-गहमी भरा रहा. लोकसभा में बुधवार को राफेल पर बहस के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने भारतीय जनता पार्टी नीत मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला और कई आरोप भी लगाए. राफेल पर बहस के दौरान राहुल ने आरोप लगाया कि पीएम के कहने पर अनिल अंबानी को कॉन्ट्रैक्ट दिया गया. उन्होंने राफेल के मुद्दे पर अनिल अंबानी का नाम लिया, जिस पर स्पीकर सुमित्रा महाजन ने उन्हें टोकते हुए कहा कि आप उनका नाम नहीं ले सकते. ऐसा करना नियम के खिलाफ होगा. 

राफेल पर घमासान: राहुल ने PM मोदी को दिया यह 'चैलेंज', पूछे कई सवालों के जवाब...


इसके तुरंत बाद राहुल गांधी ने मैम, क्या तो क्या मैं उन्हें AA के नाम से बुला सकता हूं? क्या यह सही है? राहुल ने स्पीकर से पूछा कि क्या मैं उनको डबल ए (AA) कह सकता हूं? साथ ही राहुल गांधी ने यह भी कहा कि क्या अंबानी बीजेपी के सदस्य हैं? इतना ही नहीं, राहुल गांधी ने संसद में बहस के दौरान अनिल अंबानी को एक नाकामयाब बिजनेसमैन भी करार दिया. संसद में एक बहस के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि अम्बानी को राफेल लड़ाकू जेट विमानों के लिए लगभग 8.7 बिलियन डॉलर के सौदे के लिए अवैध रूप से चुना गया था जो कि फ्रांसीसी रक्षा क्षेत्र के दिग्गज दसॉल्ट से खरीदे जा रहे हैं.

राफेल मामला: राहुल पर अरुण जेटली का पलटवार: मिशेल ने क्यों कहा 'सन ऑफ इटालियन लेडी', पढ़ें 10 काउंटर अटैक

बहस के दौरान कई बार राहुल गांधी के मुंह से अनिल अंबानी को नाम निकला तो फिर इस पर राहुल ने सॉरी बोलकर डबल ए बुलाया. बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि उनमें इस मामले में सवालों का सामना करने के लिए संसद में आने की हिम्मत नहीं है,. उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच जेपीसी से करायी जाए. वहीं वित्त मंत्री अरूण जेटली ने पलटवार करते हुए राहुल गांधी के आरोपों को ‘झूठा'और पूर्ववर्ती संप्रग सरकार पर देश की सुरक्षा से समझौता करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उच्चतम न्यायालय द्वारा सौदे को सही बताने के बाद जेपीसी की मांग को स्वीकार नहीं किया जा सकता.

राफेल मामला: संसद में राहुल गांधी ने लगाई आरोपों की झड़ी, 'PM ने ही अंबानी को दिलाया कॉन्ट्रेक्ट', पढ़ें 8 वार

राफेल पर राहुल गांधी ने कहा कि अब इस मामले में ‘पूरी दाल काली' है तथा अब पूरा देश प्रधानमंत्री से सवाल पूछ रहा है कि किसके कहने पर राफेल का सौदा बदला गया. उन्होंने दावा किया कि संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) की जांच से ही इस मामले में ‘दूध का दूध, पानी का पानी' हो जाएगा.  चर्चा के दौरान राहुल गांधी ने राफेल मामले से संबंधित गोवा सरकार के मंत्री विश्वजीत राणे की कथित बातचीत का ऑडियो प्ले करने की इजाजत मांगी, लेकिन लोकसभा अध्यक्ष ने ऑडियो अथवा इसके लिखित ब्यौरे को पढ़ने की इजाजत देने से इनकार कर दिया. 

राम मंदिर पर VHP: पीएम और राहुल से मांगा मुलाकात का वक्त, 31 जनवरी को संत जो फैसला लेंगे, वहीं हम करेंगे

टिप्पणियां

राहुल गांधी ने कहा, ‘वह (मोदी जी) पूर्वनियोजित साक्षात्कार में 90 मिनट बोले, लेकिन राफेल मुद्दे पर सवालों का जवाब नहीं दिया.' उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग डरें नहीं, जेपीसी की जांच कराएं. दूध का दूध, पानी का पानी हो जाएगा तथा देश को यह पता चल जाएगा कि ‘‘मोदी जी ने ‘डबल ए' (अनिल अंबानी) की जेब में 30 हजार करोड़ रुपये डाले हैं.' उल्लेखनीय है कि अंबानी समूह ने इन आरोपों से पहले ही इंकार किया है.

VIDEO : राफेल पर जेटली बोले- राहुल को ऑफसेट पता नहीं, इनका ज्ञान ABCD से शुरू करना पड़ेगा


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement