आंध्र प्रदेश में शुरू हुई 2024 की तैयारी, BJP और पवन कल्याण की जनसेना पार्टी ने मिलाया हाथ

दक्षिण भारतीय सिनेमा के सुपरस्टार पवन कल्याण (Pawan Kalyan) राजनीति में भी खूब दिलचस्पी रखते हैं. वह जनसेना पार्टी (Jana Sena Party) के मुखिया हैं.

आंध्र प्रदेश में शुरू हुई 2024 की तैयारी, BJP और पवन कल्याण की जनसेना पार्टी ने मिलाया हाथ

अभिनेता पवन कल्याण जनसेना पार्टी के अध्यक्ष हैं. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • आंध्र प्रदेश में BJP को मिला नया साथी
  • जनसेना पार्टी के मुखिया हैं पवन कल्याण
  • मिलकर लड़ेंगे लोकसभा-विधानसभा चुनाव
अमरावती:

दक्षिण भारतीय सिनेमा के सुपरस्टार पवन कल्याण (Pawan Kalyan) राजनीति में भी खूब दिलचस्पी रखते हैं. वह जनसेना पार्टी (Jana Sena Party) के मुखिया हैं. अब उनकी पार्टी ने आगामी चुनावों के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) से हाथ मिलाया है. दोनों पार्टियां स्थानीय चुनाव और 2024 में होने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनाव साथ मिलकर लड़ेंगी. गुरुवार को साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में आंध्र प्रदेश BJP इंचार्ज सुनील देवधर (Sunil Deodhar) ने गठबंधन का ऐलान करते हुए कहा, 'आज एक ऐतिहासिक दिन है. हम BJP और जनसेना पार्टी के गठबंधन का ऐलान कर रहे हैं.'

सुनील देवधर ने कहा, 'हम राज्य की राजनीति में फैले जातिवाद, वंशवाद और भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए साथ मिलकर लड़ेंगे. थोड़े से ही वक्त में जगनमोहन रेड्डी की सरकार तमाम मोर्चों पर नाकाम साबित हुई है. चंद्रबाबू नायडू की सरकार का भी यही हाल था. आने वाले समय में राज्य में बीजेपी के वाईएसआर कांग्रेस और तेलुगू देशम पार्टी के साथ गठबंधन का कोई सवाल नहीं होता.'

आंध्र प्रदेश : भाजपा विधायक ने दिया पार्टी से इस्तीफा, जनसेना पार्टी में होंगे शामिल

बता दें कि पवन कल्याण बीजेपी के साथ गठबंधन को लेकर फुलफॉर्म में आ चुके हैं. 2014 के चुनाव में भी उनकी पार्टी ने बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ा था. उस समय अभिनेता चुनावी मैदान में नहीं उतरे थे. 2019 में जनसेना पार्टी ने लेफ्ट और बहुजन समाज पार्टी (BSP) के साथ मिलकर चुनाव लड़ा था. अब नए गठबंधन के बाद उन्हें उम्मीद है कि 2024 के विधानसभा चुनाव के बाद राज्य में बीजेपी और जनसेना पार्टी की सरकार जरूर बनेगी.

पश्चिम बंगाल BJP अध्यक्ष दिलीप घोष ने फिर दोहराया अपना विवादित बयान लेकिन इस बार...?

पवन कल्याण ने बीजेपी के साथ गठबंधन पर कहा, '2014 के बाद हम दोनों (बीजेपी और जनसेना पार्टी) के बीच बातचीत नहीं होने की वजह से कुछ फासला आ गया था. पिछले तीन महीनों में मैंने आंध्र प्रदेश के उज्जवल भविष्य के लिए दिल्ली में बीजेपी के कई वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात की. बीजेपी और जनसेना अब साथ काम करेगी.' अभिनेता आंध्र सरकार के तीन राजधानियों के प्रस्ताव के भी खिलाफ हैं. इस बारे में उन्होंने कहा, 'जगनमोहन रेड्डी ने विधानसभा में कहा था कि वो अमरावती को बतौर राजधानी स्वीकार करते हैं. थोड़े से समय में राजधानी का निर्माण मुमकिन नहीं है. राजधानी को लेकर जगन सरकार के नए प्रस्ताव से राज्य के भविष्य पर मैं चिंतित हूं.'

Newsbeep

VIDEO: किरीट सोमैया का हर सवाल पर एक ही जवाब, 'मैंने जवाब दे दिया है'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com