Google ने Paytm को Play Store से हटाया, पॉलिसी के उल्लंघन का आरोप

भारत की डिजिटल पेमेंट कंपनी Paytm को गूगल ने झटका दिया है. कंपनी का ऐप्लीकेशन Gogle Play Store से हटा दिया गया है. कंपनी पर नियमों के उल्लंघन के आरोप लगे हैं. 

Google ने Paytm को Play Store से हटाया, पॉलिसी के उल्लंघन का आरोप

Paytm और Paytm First Games ऐप्स को गूगल ने प्लेस्टोर से हटाया.

खास बातें

  • Paytm के खिलाफ Google का एक्शन
  • Paytm और Paytm First Games को प्ले स्टोर से हटाया
  • ऑनलाइन गैंबलिंग पॉलिसी के उल्लंघन का है आरोप
नई दिल्ली:

भारत की डिजिटल पेमेंट कंपनी Paytm को गूगल ने झटका दिया है. कंपनी का ऐप्लीकेशन Gogle Play Store से हटा दिया गया है. कंपनी पर नियमों के उल्लंघन के आरोप लगे हैं. पेटीएम की तरफ से एक ट्वीट कर बताया गया है कि प्लेस्टोर पर फिलहाल यह ऐप कुछ वक्त के लिए उपलब्ध नहीं रहेगा. पेटीएम का Paytm First Games ऐप भी प्लेस्टोर से हटा दिया गया है.

पेटीएम ने शुक्रवार को एक ट्वीट कर लिखा, 'डियर पेटीएमर्स, पेटीएम एंड्रॉयड ऐप नए डाउनलोड और अपडेट्स के लिए उपलब्ध नहीं है. हम जल्द ही वापस आएंगे. आपका पूरा पैसा सुरक्षित है और आप पेटीएम सामान्य तरीके से इस्तेमाल कर पाएंगे.'

दरअसल, पेटीएम की ओर से हाल ही में फैंटेसी क्रिकेट टूर्नामेंट शुरू किया था, जिसके बाद यह दोनों ही ऐप हटा दिए गए हैं. पेटीएम ऐप को एंड्रॉयड के लिए प्ले स्टोर से हटाया गया है, लेकिन यह iOS यूज़र्स के लिए Apple के App Store पर उपलब्ध रहेगा. वहीं, जिनके फोन में पहले से पेटीएम है, वो अपना ऐप और मोबाइल वॉलेट पहले की तरह इस्तेमाल कर पाएंगे.

इसी बीच गूगल ने अपनी गैंबलिंग पॉलिसी को लेकर एक बयान जारी किया है. कंपनी ने अपने बयान में कहा है कि 'हम ऑनलाइन कसीनो या फिर किसी भी तरह के अनियमित गैंबलिंग ऐप जो स्पोर्ट्स में सट्टा लगाने की सुविधा देते हैं, को प्लेटफॉर्म पर रहने की अनुमति नहीं देते हैं. इसमें ऐसे ऐप्स भी शामिल हैं, जो उपभोक्ताओं को ऐसी बाहरी वेबसाइटों पर ले जाते हैं, जो उन्हें किसी पेड टूर्नामेंट में नकद पैसे या फिर कैश प्राइज़ जीतने के लिए भाग लेने को कहती हैं. यह हमारी पॉलिसीज़ का उल्लंघन है.'

यह भी पढ़ें: PUBG Mobile को मिला नया अपडेट, लेकिन भारत में...

गूगल ने यह भी कहा है कि जब कोई ऐप इन नीतियों का उल्लंघन करता है, तो उसके डेवलपर को इस बारे में सूचित किया जाता है, और जब तक डेवलपर ऐप को नियमों के अनुरूप नहीं बनाता है, उसे तब तक गूगल प्ले स्टोर से हटा दिया जाता है.  इस ब्लॉग में कहा गया है कि ऐसे मामले जहां नीतियों का बार-बार उल्लंघन किया जाता है, गूगल अधिक गंभीर कार्रवाई कर सकती है, जिसमें डेवलपर के अकाउंट को खत्म करना भी शामिल है.

Video:सेल गुरू : इन भारतीय ऐप्स के हैं ग्लोबल फ्यूचर; सैमसंग गैलेक्सी नोट 20 अल्ट्रा 5G का फर्स्ट लुक

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com