जम्मू कश्मीर से विशेष दर्जा वापस लेने की बात पर भड़कीं महबूबा मुफ्ती, कहा- फिर तो भारत...

महबूबा मुफ्ती ने (Mehbooba Mufti) वित्त मंत्री अरुण जेटली पर पलटवार करते हुए शनिवार को कहा कि संविधान के अनुच्छेद 370 को यदि खत्म किया गया तो भारत संघ और राज्य के बीच संबंध समाप्त हो जाएगा.

जम्मू कश्मीर से विशेष दर्जा वापस लेने की बात पर भड़कीं महबूबा मुफ्ती, कहा- फिर तो भारत...

महबूबा मुफ्ती ने भारत के साथ रहने को लेकर रखा अपना पक्ष

खास बातें

  • भारत के साथ रहने पर महबूबा मुफ्ती का बड़ा बयान
  • धारा 370 पर भी रखी अपनी राय
  • पहले भी दे चुकी हैं इस तरह के बयान
नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) जम्मू-कश्मीर से विशेष दर्जा वापस लेने को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने (Mehbooba Mufti) कहा है कि अगर ऐसा होता है तो हमें फिर से विचार करना होगा कि हमें भारत के साथ रहना भी है या नहीं. महबूबा मुफ्ती ने (Mehbooba Mufti) वित्त मंत्री अरुण जेटली पर पलटवार करते हुए शनिवार को कहा कि संविधान के अनुच्छेद 370 को यदि खत्म किया गया तो भारत संघ और राज्य के बीच संबंध समाप्त हो जाएगा. महबूबा (Mehbooba Mufti) ने अपने आवास पर पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि अरुण जेटली को यह समझना चाहिए. यह कहना आसान नहीं है. यदि आप (अनुच्छेद) 370 खत्म करते हैं तो जम्मू कश्मीर के साथ आपके संबंध समाप्त हो जाएंगे.

अरुण जेटली ने गुरुवार को जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करने की वकालत करते हुए कहा था कि अनुच्छेद 35ए जो जम्मू-कश्मीर में गैर-स्थायी निवासियों को संपत्ति खरीदने पर रोक लगाता है वह ‘संवैधानिक रूप से दोषपूर्ण' है और राज्य के आर्थिक विकास को बाधित कर रहा है. महबूबा ने कहा कि अनुच्छेद 370 भारत संघ और राज्य के बीच एक सेतु है और यदि संविधान के विशेष प्रावधान को खत्म किया गया तो नई दिल्ली को जम्मू कश्मीर के साथ अपने संबंध ‘फिर से बातचीत करके तय करने होंगे'.

IAF पायलट अभिनंदन की रिहाई के ऐलान के बाद जम्मू कश्मीर की पूर्व CM महबूबा मुफ्ती ने कही यह बात

उन्होंने कहा कि यदि आपने भारत के संविधान में हमें एक विशेष दर्जा दिया है और आप उस दर्जे को तोड़ते हैं तब हमें पुनर्विचार करना होगा कि क्या हम आपके साथ बिना शर्त रहना भी चाहते हैं या नहीं. इससे पहले नेशनल कान्फ्रेंस के नेता मोहम्मद अब्दुल्ला वानी और अवामी इंसाफ पार्टी प्रमुख गुलाम अहमद शेख सलूरा अपने समर्थकों के साथ पीडीपी में शामिल हो गए. महबूबा और पार्टी संरक्षक मुजफ्फर हुसैन बेग ने वानी और सलूरा का पार्टी में स्वागत किया. गौरतलब है कि यह कोई पहला मौका नहीं है जब महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा हो. इससे पहले जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोला था. 

सपा नेता का दावा: सरकार ने पाकिस्तान से की सांठगांठ, फिर खाली घर पर गिराए बम

महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने ट्वीट कर कहा था कि आज के जमाने में देशभक्ति कुर्सी बचाने के लिए जरूरी है. उन्होंने (Mehbooba Mufti) अपने ट्वीट में बॉलीवुड की एक फिल्म का वीडियो भी डाला था. जिसमें दो कलाकार आपस में यही बात कर रहे थे कि वह किस तरह से देशभक्ति के नाम पर चुनाव जीत सकते हैं.

VIDEO: महबूबा मुफ्ती ने दिया बड़ा बयान. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com