NDTV Khabar

भाजपा 2019 का लोकसभा चुनाव अधिक सीटों के साथ जीतेगी : अमित शाह

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने दावा किया है कि इस सरकार के तीन साल के कार्यकाल के दौरान देश की जनता का आत्मविश्वास बढ़ा है, और जो कुछ इससे पहले के 70 सालों में नहीं हो पाया था, हमारी सरकार के तीन सालों में हासिल कर लिया गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भाजपा 2019 का लोकसभा चुनाव अधिक सीटों के साथ जीतेगी : अमित शाह

खास बातें

  1. मोदी सरकार के कामकाज के दौरान देश का आत्मविश्वास बढ़ा है- शाह
  2. शाह ने कहा कि 2014 में हम विपक्ष में थे और अब हम सत्ता में हैं.
  3. तीन वर्षों के दौरान भारत दुनिया की तेज गति से बढ़ती अर्थव्यवस्था बना- शाह
नई दिल्ली: भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को कहा कि उनकी पार्टी साल 2019 का लोकसभा चुनाव 2014 की तुलना में बड़े जनादेश के साथ जीतेगी. शाह ने जोर दिया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत विभिन्न क्षेत्रों में 'महान राष्ट्र' के रूप में उभरेगा. साल 2014 के चुनाव में अभूतपूर्व रूप से 282 सीटें जीतने वाली भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि पश्चिम बंगाल, केरल, तेलंगाना और ओडिशा जैसे राज्यों में बेहतर प्रदर्शन की बदौलत 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा अपने पूर्व के प्रदर्शन को बेहतर करेगी.

शाह ने कहा कि पिछले तीन साल के मोदी सरकार के कामकाज के दौरान देश का आत्मविश्वास बढ़ा है, देश का गौरव बढ़ा है और देश की सोच का दायरा बढ़ा है.

पूर्ववर्ती कांग्रेस नीत संप्रग सरकार पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा कि 2014 में हम विपक्ष में थे और अब हम सत्ता में हैं. साल 2014 में हमारे सत्ता में आने से पहले 10 सालों में हर महीने घोटाले की कोई न कोई खबर आती थी.. 12 लाख करोड़ रुपये के घोटालों के आरोप सामने आए थे.

उन्होंने कहा कि तीन साल में हमारी सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा. यहां तक कि हमारे विरोधी भी हम पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा सके. भाजपा अध्यक्ष ने परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टिकरण को बढ़ावा देने के लिए विपक्षी दलों पर निशाना साधा. 

संप्रग पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती संप्रग सरकार के दौरान हर मंत्री, प्रधानमंत्री था और वास्तविक प्रधानमंत्री को कोई गंभीरता से नहीं लेता था. प्रधानमंत्री कार्यालय की गरिमा कम हुई. उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि यह है कि यह निर्णायक सरकार है और इसने मोदी के नेतृत्व में प्रधानमंत्री पद की गरिमा को बहाल करने का काम किया है.

अमित शाह ने जोर दिया कि पिछले तीन वर्षों के दौरान भारत दुनिया की सबसे तेज गति से बढ़ती अर्थव्यवस्था बना है और सरकार के प्रयासों की बदौलत जीएसटी जैसे सुधार आगे बढ़े, मुद्रस्फीति पर लगाम लगाई गई और जीडीपी की विकास दर ने रफ्तार पकड़ी. राजनीतिक मोर्चे पर भाजपा अध्यक्ष ने कहा, 'देश की राजनीति में गुणात्मक बदलाव लाने के लिए हमारी सरकार ने महत्वपूर्ण पहल की है. उत्तरप्रदेश चुनाव का परिणाम इस दिशा में महत्वपूर्ण कड़ी है. देश में आज परिवारवाद लगभग समाप्त हो गया है, जातिवाद लगभग समाप्त हो गया है और तुष्टीकरण भी लगभग समाप्त हो गया है'. उन्होंने कहा कि भारतीय राजनीति में ये तीन बड़े नासूर थे, जिसे भाजपा नीत सरकार ने समाप्त करने का काम किया है. ये तीनों बुराइयां 1965 के बाद से देश की राजनीति को ग्रसित किए हुए थी. स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव के मार्ग में बाधक थी. भाजपा नीत सरकार ने राजनीति को इससे मुक्त कराने की दिशा में महत्वपूर्ण पहल की है.

टिप्पणियां
यह पूछे जाने पर कि 2019 के चुनाव में वे कांग्रेस या क्षेत्रीय दलों में से किसे बड़ा खतरा मानते हैं, शाह ने कहा, 'चुनाव अभी दो वर्ष बाद होने हैं और अगले चुनाव में कोई भी (पार्टी) खतरा हो सकती है, लेकिन मुझे पूरा विश्वास है कि हमारी सीटों की संख्या में वृद्धि होगी'. भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी उत्तरी और पश्चिमी क्षेत्र में अपनी बढ़त बनाए रखेगी और पूर्वोत्तर और दक्षिणी भारत के साथ पश्चिम बंगाल में अपनी सीटों की संख्या को बेहतर बनाएगी.

(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement