NDTV Khabar

कर्नाटक के पूर्व डिप्टी सीएम के सहयोगी ने की आत्महत्या, 2 दिन पहले आयकर विभाग ने की थी पूछताछ

कर्नाटक के पूर्व उपमुख्यमंत्री जी परमेश्वर के विश्वासपात्र ने शनिवार को कथित रूप से आत्महत्या कर ली. पुलिस ने यह जानकारी दी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कर्नाटक के पूर्व डिप्टी सीएम के सहयोगी ने की आत्महत्या, 2 दिन पहले आयकर विभाग ने की थी पूछताछ

रमेश

खास बातें

  1. कर्नाटक के पूर्व डिप्टी सीएम के सहयोगी ने की आत्महत्या
  2. 2 दिन पहले आयकर विभाग ने की थी पूछताछ
  3. एक पेड़ से रमेश का शव लटकता हुआ पाया गया
बेंगलरू:

कर्नाटक के पूर्व उपमुख्यमंत्री जी परमेश्वर के विश्वासपात्र ने शनिवार को कथित रूप से आत्महत्या कर ली. पुलिस ने यह जानकारी दी. आयकर विभाग के अधिकारियों ने कुछ दिन पहले पूर्व उपमुख्यमंत्री के आवास, कार्यालय और शिक्षा संस्थानों पर छापे मारे थे. पुलिस ने बताया कि सुबह भारतीय खेल प्राधिकरण के मैदान के निकट एक पेड़ से रमेश का शव लटकता हुआ पाया गया. उन्होंने बताया कि रमेश रामनगर में मेल्लईहल्ली के रहने वाले थे. कांग्रेस सूत्रों के अनुसार रमेश ने एक टाइपिस्ट के रूप में कांग्रेस के साथ अपना कार्यकाल शुरू किया था और वह परमेश्वर के करीबी बन गये थे.

कर्नाटक में कांग्रेस के दो प्रमुख नेताओं के घर आयकर विभाग का छापा, 4.25 करोड़ रुपए कैश बरामद

सूत्रों ने दावा किया कि विभाग के अधिकारियों ने दो दिन पहले परमेश्वर के आवास, कार्यालय और सिद्धार्थ ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूट्स में छापे मारे थे और रमेश से भी पूछताछ की थी. इस बीच आयकर विभाग के अधिकारियों ने परमेश्वर को मंगलवार को उनके समक्ष पेश होने के लिए कहा है.


रमेश का शव जहां लटका मिला है वहां से एक कथित सुसाइड नोट बरामद हुआ है जिसमें लिखा है, ‘‘मैं अपने घर में आयकर के छापों से परेशान हूं और अपने सम्मान की रक्षा के लिए मैंने आत्महत्या करने का फैसला किया है.'' पुलिस ने बताया कि सुसाइड नोट में आईटी अधिकारियों से उसकी पत्नी और बच्चों को परेशान नहीं किये जाने की अपील की गई है.

परमेश्वर ने कहा कि उन्होंने रमेश को साहसी बनने और स्थिति का निडरतापूर्वक सामना करने के लिए कहा था. उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘‘पता नहीं उन्होंने क्यों आत्महत्या कर ली. आज सुबह भी मैंने उनसे बात की और उनसे निडर बने रहने को कहा था.''

PM मोदी ने बिहार बाढ़ पर किया ट्वीट और कर्नाटक बाढ़ पर नहीं किया तो विपक्ष ने साधा निशाना, BJP विधायक का भी मिला साथ

कांग्रेस की राज्य इकाई ने रमेश की आत्महत्या को पार्टी से उनके पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को दूर रखने के ‘‘लक्षित उत्पीड़न'' का परिणाम बताया. कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश गुंडू राव ने कहा कि वह जानना चाहते हैं कि केवल कांग्रेस के नेताओं के खिलाफ ही छापे की कार्रवाई क्यों की जा रही है.

उन्होंने कहा, ‘‘क्या मकसद है? उनका एकमात्र एजेंडा उन लोगों को निशाना बनाना और परेशान करना है जो उनके (भाजपा) खिलाफ लिखते और बोलते हैं.'' पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने आरोप लगाया कि पूछताछ के दौरान दो-तीन दिनों तक रमेश को प्रताड़ित किया गया. 

इस बीच आयकर विभाग के अधिकारियों ने परमेश्वर को उनके समक्ष पेश होने के लिए मंगलवार को बुलाया है. परमेश्वर ने बताया कि आईटी अधिकारियों ने उन्हें मंगलवार को बुलाया है. उन्होंने यहां कहा, ‘‘इसलिए मैं मंगलवार को वहां जाऊंगा.''

टिप्पणियां

डीके शिवकुमार की न्यायिक हिरासत 15 अक्टूबर तक बढ़ी , ED को जेल में पूछताछ की मिली इजाजत

कांग्रेस नेता ने कहा कि आयकर विभाग के अधिकारियों ने उनसे कहा है कि कुछ छात्रों की शिकायतों के बाद छापे की कार्रवाई की गई थी. उन्होंने कहा कि वह आयकर अधिकारियों के निष्कर्षों का जवाब तैयार कर रहे हैं. आयकर विभाग ने शुक्रवार को एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा था कि उसने कर्नाटक में नौ अक्टूबर को एक प्रमुख व्यवसाय समूह के परिसरों पर छापे मारे थे और यह समूह कई शैक्षणिक संस्थानों का संचालन करता है. 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement