सीनियर पायलटों को अब नौकरी छोड़ने के लिए देना होगा एक साल का नोटिस

डीजीसीए ने इस संबंध में नया नियम लागू कर दिया है, जो तत्काल प्रभाव से लागू हो गए हैं.

सीनियर पायलटों को अब नौकरी छोड़ने के लिए देना होगा एक साल का नोटिस

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

सीनियर पायलटों (कमांडरों) को अब नौकरी छोड़ने से पहले 12 महीने का नोटिस पीरियड सर्व करना होगा. अभी तक सीनियर पायलटों के लिए नोटिस पीरियड 6 महीने थी. डीजीसीए ने इस संबंध में नया नियम लागू कर दिया है, जो तत्काल प्रभाव से लागू हो गए हैं. इसका मतलब है कि ऐसे पायलटों को अब किसी दूसरी एयरलाइन में जाने के लिए एक साल का इंतजार करना होगा.

यह भी पढ़ें: शराब की लत नहीं छूटी, सीनियर पायलट का विमान उड़ाना छूट गया

Newsbeep

डीजीसीए ने बुधवार को जारी संशोधित नागर विमानन अनिवार्यता (सीएआर) में कहा है, 'फैसला किया गया है कि अब कमांडरों के मामले में नोटिस की अवधि एक साल की होगी, को-पायलटों के मामले में यह छह महीने होगी.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO : दिल्ली एयरपोर्ट पर टला बड़ा हादसा
नोटिस की अवधि उस स्थिति में कम हो जाएगी, जबकि पायलट जिस विमानन कंपनी में काम कर रहा है, वह उसे अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) दे देती है और उसका इस्तीफा संशोधित नियमों में तय अवधि से पहले स्वीकार कर लेती है.
(इनपुट भाषा से)