NDTV Khabar

PM मोदी के 'अबकी बार, ट्रंप सरकार' के नारे पर बोले विदेश मंत्री जयशंकर- इसके गलत मायने न निकालें

विदेशी मंत्री जयशंकर ने कहा कि हम किसी का भी समर्थन नहीं करते. उन्होंने कहा, 'इसलिए हमारा सीधा सा नजरिया है कि उस देश में जो कुछ होता है, वह उनकी राजनीति है, हमारी नहीं.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
PM मोदी के 'अबकी बार, ट्रंप सरकार' के नारे पर बोले विदेश मंत्री जयशंकर- इसके गलत मायने न निकालें

पीएम मोदी और डोनाल्ड ट्रंप

खास बातें

  1. हाउडी मोदी में दिया था PM ने नारा
  2. ट्रंप भी थे कार्यक्रम में शामिल
  3. पीएम मोदी ने कहा था- अबकी बार मोदी सरकार
वाशिंगटन:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले सप्ताह अमेरिका में अपने 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम में जो नारा  'अबकी बार, ट्रंप सरकार' दिया था, उसका इस्तेमाल डोनाल्ड ट्रंप ने अपने चुनाव प्रचार में किया था. विदेशी मंत्री एस जयशंकर ने मंगलवार को यह बात कही. साथ ही उन्होंने कहा कि इस बयान के गलत मायने नहीं निकाले जाने चाहिए. तीन दिन के दौरे पर वाशिंगटन पहुंचे जयशंकर ने कहा कि अमेरिका की राजनीति में भारत किसी का पक्ष नहीं लेता. बता दें, पीएम मोदी के साथ ह्यूस्टन में हुए कार्यक्रम में डोनाल्ड ट्रंप भी शामिल हुए थे. इस कार्यक्रम में 50 हजार से ज्यादा भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक शामिल हुए थे. इसी दौरान पीएम मोदी ने 'अबकी बार, ट्रंप सरकार' का नारा दिया था.

जयशंकर ने इस बात का भी खंडन किया कि पीएम मोदी ने 2020 में अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के लिए ट्रंप की उम्मीदवारी के समर्थन में इस नारे का इस्तेमाल किया था. पीएम मोदी के बयान को लेकर जब भारतीय पत्रकारों के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में विदेश मंत्री से पूछा गया तो उन्होंने कहा, "नहीं, उन्होंने ऐसा नहीं कहा.'


पीएम मोदी को 'फादर ऑफ इंडिया' कहने पर बापू के प्रपौत्र बोले- क्या ट्रंप खुद को...

उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है, कृपया, प्रधानमंत्री ने जो कहा, उसे बहुत ध्यान से देखें. प्रधानमंत्री ने जो कहा, जहां तक मुझे याद है, उसका इस्तेमाल ट्रंप ने खुद प्रचार में किया था. इसलिए प्रधानमंत्री मोदी पहले की बात कर रहे थे. मुझे नहीं लगता कि हमें ईमानदारी से, जो कहा गया था, उसका गलत अर्थ निकालना चाहिए. मेरा मतलब है कि वह (पीएम मोदी) काफी स्पष्ट थे कि वह किस बारे में बात कर रहे थे.'

विदेशी मंत्री जयशंकर ने कहा कि हम किसी का भी समर्थन नहीं करते. उन्होंने कहा, 'इसलिए हमारा सीधा सा नजरिया है कि उस देश में जो कुछ होता है, वह उनकी राजनीति है, हमारी नहीं.'

PM मोदी ने अमेरिकी लोगों का अदा किया शुक्रिया, ट्वीट कर लिखा- मैं कभी नहीं भूलूंगा कि...

वहीं, पीटीआई की एक अन्य रिपोर्ट के मुताबिक विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने सोमवार को कहा कि भारत और अमेरिका के बीच अधिकतर व्यापार मुद्दों को निकट भविष्य में सुलझाया जा सकता है. अंतरराष्ट्रीय शोध समूह कैरेंजी एंडाउनमेंट फॉर इंटरनेशनल रिलेशनशिप द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में जयशंकर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार की विदेश नीति और प्राथमिकताएं ‘न्यू इंडिया' की वास्तविकताओं के साथ पूरी तरह तालमेल रखती हैं. भारत अभी दुनिया की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और जल्द ही यह तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था होगा.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने महाभियोग को 'अपमानजनक' बताया

टिप्पणियां

विदेश मंत्री के तौर पर जयशंकर की यह पहली अमेरिका यात्रा है. इस दौरान अपने पहले कार्यक्रम में जयशंकर ने कहा, ‘‘अमेरिका के साथ अधिकतर व्यापार मुद्दों का निकट अवधि में समाधान हो सकता है.' उन्होंने कहा कि मोदी सरकार भारत-अमेरिका द्विपक्षीय व्यापारा मुद्दों का जल्द से जल्द समाधान चाहती है और इसे अमेरिका की अगली सरकार के लिए नहीं छोड़ना चाहती. अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव नवंबर, 2020 में होने हैं.

VIDEO: पॉलिटिक्‍स का चैंपियन कौन : हाउडी मोदी के मायने?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement