NDTV Khabar

पीएम मोदी ने कर्नाटक में यूथ कॉन्वेंशन को संबोधित करते हुए कहा, उत्तर पूर्व के लोगों में अलगाव का भाव बैठ गया था

पीएम मोदी ने कहा, कल उत्तर पूर्व के नतीजों ने फिर एक बार पूरे देश में उत्सव का वातावरण बना दिया. मैं इसे एक पार्टी की जीत, एक पार्टी की हार के तौर पर नहीं देखता हूं. महत्वपूर्ण ये है कि उत्तर पूर्व के लोगों की खुशी में पूरा देश शामिल हुआ.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पीएम मोदी ने कर्नाटक में यूथ कॉन्वेंशन को संबोधित करते हुए कहा, उत्तर पूर्व के लोगों में अलगाव का भाव बैठ गया था

पीएम मोदी ने कहा, उत्तर पूर्व के लोगों में अलगाव का भाव बैठ गया था....

नई दिल्ली: पीएम मोदी ने कर्नाटक में यूथ कॉन्वेंशन को संबोधित करते हुए कल आए त्रिपुरा-नागालैंड और मेघालय के नतीजों का जिक्र करते हुए कहा कि उत्तर पूर्व के लोगों में अलगाव का भाव बैठ गया था. उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित किया कि आपने देखा कि परसों, पूरा देश होली के रंग में रंगा हुआ था. कल उत्तर पूर्व के नतीजों ने फिर एक बार पूरे देश में उत्सव का वातावरण बना दिया. मैं इसे एक पार्टी की जीत, एक पार्टी की हार के तौर पर नहीं देखता हूं. महत्वपूर्ण ये है कि उत्तर पूर्व के लोगों की खुशी में पूरा देश शामिल हुआ.

पीएम नरेंद्र मोदी ने अजान होने पर अपना भाषण रोका

पीएम ने कहा कि पहली बार ऐसा हुआ जब देश के अन्य राज्यों के लोग भी ये देखने के लिए सुबह से टीवी खोलकर बैठ गए कि मेरे उत्तर-पूर्व के भाइयों-बहनों ने क्या जनादेश दिया है. ये एक बहुत बड़ा बदलाव है. पहले हमारे यहां नीतियां और निर्णय ऐसे हुए कि उत्तर पूर्व के लोगों में अलगाव की भावना घर कर गई थी. लोग विकास की ही नहीं, विश्वास और अपनत्व की मुख्यधारा से भी खुद को कटा हुआ महसूस करने लगे थे.

पूर्वोत्तर की जीत पर बोले पीएम मोदी, वास्तु शास्‍त्र के हिसाब से भी नॉर्थ-ईस्ट काफी महत्वपूर्ण

पीएम ने कहा कि पिछले 4 वर्षों में हमारी सरकार की नीतियों-निर्णयों ने इस भावना को खत्म करने का काम किया है. हमने उत्तर पूर्व के भावनात्मक इंटीग्रेशन का संकल्प लिया और उसे सिद्ध करके दिखाया है. उन्होंने कहा कि रेडिकलाइजेशन का का जवाब इंटीग्रेशन से ही दिया जा सकता है.

टिप्पणियां
पीएम ने युवाओं से कहा, मैं सभी से प्रश्न करना चाहता हूं कि ये एक संकल्प क्या होना चाहिए? ये सवाल मैं इसलिए भी आपसे पूछ रहा हूं क्योंकि जीवन में मैंने भी स्वयं से एक बार ये प्रश्न किया था. इस प्रश्न का हम जितना जल्दी सामना कर लें, जीवन में आगे का रास्ता उतना ही स्पष्ट हो जाता है. आज हमारा भारत पूरी दुनिया का सबसे नौजवान देश है. 65 प्रतिशत से ज्यादा लोगों की आयु 35 वर्ष से कम है. युवा शक्ति की ये अपार ऊर्जा देश का भाग्य बदल सकती है.


VIDEO- पूर्वोत्तर की जीत पर बोले पीएम मोदी, वास्तु शास्‍त्र के हिसाब से भी नॉर्थ-ईस्ट काफी महत्वपूर्ण

युवा अपने दम पर अपना बिजनेस शुरू कर सकें. उन्हें बिना बैंक गारंटी कर्ज मिल सके, इसके लिए सरकार द्वारा प्रधानमंत्री मुद्रा योजना चलाई जा रही है. मुद्रा योजना के तहत अब तक देश में करीब-करीब 11 करोड़ लोन दिए गए हैं. कर्नाटक के नौजवानों के भी 1 करोड़ 14 लाख से ज्यादा लोन स्वीकृत किए गए हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement