NDTV Khabar

स्वच्छ भारत अभियान : पीएम नरेंद्र मोदी ने दिलाई शपथ, न गंदगी करेंगे, न करने देंगे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली: महात्मा गांधी का जयंती के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत की। वह दिल्ली के वाल्मीकी मंदिर पहुंचे और झाड़ू लगाकर इस अभियान की शुरुआत की। इससे पूर्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राजपथ पर स्वच्छता की शपथ लेने पहुंचे। मंदिर मार्ग पर मिशन शुरू करते हुए उन्होंने सफाई का निरीक्षण करने के लिए स्थानीय पुलिस थाने का औचक दौरा भी किया ।

प्रधानमंत्री वाल्मीकि बस्ती में छात्रों से भी मिले। वाल्मिकी मंदिर से वह इंडिया गेट पहुंचे, जहां स्वच्छ भारत अभियान से जुड़े कार्यक्रम में उन्होंने हिस्सा लिया।  इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में अफसर और राजनयिक भी शामिल हुए। 

पीएम नरेंद्र मोदी के साथ 30 हजार लोगों ने शपथ ली कि 'न गंदगी करूंगा, न करने दूंगा'। इसके तहत 2 घंटे सफाई के लिए देने का संकल्प लिया है। इस मौके पर मंच पर पीएम मोदी, वेंकैया नायडू और नितिन गडकरी के साथ अभिनेता आमिर खान भी मौजूद थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधी जयंती के अवसर पर 'स्वच्छ भारत मिशन' की शुरुआत करते हुए कहा कि देशवासियों को देश की सफाई के लिए अपनी मानसिकता में बदलाव लाने और एकजुट होने की जरूरत है।

स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत करने के बाद मोदी ने कहा कि देश को साफ रखने की जिम्मेदारी सिर्फ सफाई कर्मचारी की नहीं है। उन्होंने कहा, क्या आम लोगों की इसमें कोई भूमिका नहीं होती? हमें अपनी मानसिकता को बदलने की जरूरत है।

इंडिया गेट पर लोगों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, भारत यह कर सकता है, भारत की जनता यह कर सकती है। यदि भारतीय मंगल पर पहुंच सकते हैं, तो देश में सफाई भी कर सकते हैं।

मोदी ने इस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए तय किए गए पांच साल का उल्लेख करते हुए कहा, पहले की बनी हुई मानसिकता में बदलाव लाने में समय लगेगा। यह कठिन काम है। लेकिन हमारे पास पांच साल हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा, यह सिर्फ मोदी के लिए नहीं है, बल्किदेश की 1.2 अरब जनता के लिए है..यह पूरी जनता की जिम्मेदारी है।

प्रधानमंत्री ने लोगों से अपील की कि वे सोशल मीडिया वेबसाइट पर उन गलियों और सड़कों की तस्वीरें अपलोड करें, जहां कूड़ा-कचरा जमा हो और यह भी बताएं इस जगह को उन्होंने कैसे साफ किया?

स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत के बाद लोगों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि मोबाइल एप्पलिकेशन 'मायगोव' का उपयोग करें और फेसबुक एवं ट्विटर पर भी इस अभियान को देशव्यापी स्तर पर फैलाएं।


गौरतलब है कि 15 अगस्त को प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में 2019 में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती तक देश को स्वच्छ बनाने का आह्वान किया था और इस अभियान के तहत देशभर में लोगों को साफ-सफाई के लिए जागरूक किया। तमाम मंत्रियों के साथ-साथ बड़ी संख्या में केंद्रीय कर्मचारी भी इस मुहिम में शामिल हो रहे हैं।

पीएम के भाषण के मुख्य अंश :

  • महात्मा गांधी का क्लीन इंडिया का सपना अधूरा है : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
  • बापू ने स्वच्छ भारत की कल्पना की थी : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
  • प्रधानमंत्री ने महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री को याद किया
  • एक कदम स्वच्छता की ओर बढ़ाएं : पीएम नरेंद्र मोदी
  • सफाई के काम में जुटे हर व्यक्ति को अभिनंदन
  • काम कठिन है लेकिन हमें इसे 2019 तक करना है
  • मंगल तक जा सकते हैं तो क्या साफ-सफाई नहीं कर सकते
  • भारत माता को अब गंदा नहीं रहने देंगे
  • सोशल मीडिया पर भी मुहिम से जुड़ सकते
  • सफाई जन आंदोलन बने
  • सफाई को राजनीति से प्रेरित होकर न देंखे
  • कहीं गंदगी देखें तो उसकी फोटो अपलोड करें
  • सफाई करने के बाद भी उसकी फोटो अपलोड करें
  • साफ-सफाई एक सामाजिक जिम्मेदारी है
  • सफाई क्या सवा सौ करोड़ देशवासियों का दायित्व नहीं
  • इस अभियान के लिए पीएम ने नौ लोगों को निमंत्रित किया, ताकि वे अपनी टीम के साथ जाकर इसकी शुरुआत करें और आगे और नौ लोगों को इसके लिए आमंत्रित करें, ताकि एक चेन शुरू हो सके। इन नौ लोगों में कांग्रेसी नेता शशि थरूर, बाबा रामदेव, अभिनेता सलमान खान, अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा, टीवी धारावाहिक तारक मेहता का उल्टा चश्मा की पूरी टीम, मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर, गोवा की गवर्नर मृदुला सिन्हा, अभिनेता कमल हासन शामिल हैं।
  • साफ-सफाई गरीबों की सेवा जैसे
  • खुले में शौच का कलंक देश से मिटाना है
  • न गंदगी करूंगा और न ही करना दूंगा

(इनपुट्स एजेंसी से भी)

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement