NDTV Khabar

लोकसभा चुनाव : प्लान के मुताबिक पीएम मोदी ने शुरू कर दी है 'राजनीति'

बीजेपी का प्लान है कि साल 2014 की तरह टीवी स्क्रीन पर सिर्फ पीएम मोदी ही नजर आएं. कार्यक्रम के मुताबिक पीएम मोदी अगले साल फरवरी तक 50 से ज्यादा रैलियां कर डालेंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लोकसभा चुनाव : प्लान के मुताबिक पीएम मोदी ने शुरू कर दी है 'राजनीति'

पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो )

खास बातें

  1. ताबड़तोड़ रैलियों का कार्यक्रम
  2. फरवरी तक 50 रैली कर डालेंगे पीएम मोदी
  3. 150 संसदीय क्षेत्रों को करेंगे कवर
नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने एक बार कहा था, चार साल काम, पांचवे साल राजनीति'. पीएम मोदी इस बयान के मुताबिक लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गये हैं. बीजेपी ने विधानसभा और लोकसभा चुनाव को देखते हुये ताबड़तोड़ रैलियों का कार्यक्रम बनाया है. बीजेपी का प्लान है कि साल 2014 की तरह टीवी स्क्रीन पर सिर्फ पीएम मोदी ही नजर आएं. कार्यक्रम के मुताबिक पीएम मोदी अगले साल फरवरी तक 50 से ज्यादा रैलियां कर डालेंगे. इन रैलियों से वह देश भर के 150 संसदीय क्षेत्रों को कवर डालेंगे. आपको जानकर हैरानी होगी कि बीजेपी का यह प्लान बाद में सामने आया है उससे पहले ही पंजाब के मुक्तसर में पीएम मोदी किसान रैली करके अपने अभियान की शुरुआत कर चुके हैं. अब वह 21 जुलाई को यूपी के शाहजहांपुर फिर बंगाल के मिदनापुर, कर्नाटक और ओडिशा में किसान रैलियों को संबोधित करेंगे.

यूपी में सपा-बसपा के हाथ मिलाने से बिगड़े समीकरण सुधारने के लिए पीएम मोदी ने संभाली कमान

पीएम मोदी के अलावा बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी भी देश भर में 50-50 रैलियां करेंगे. इन रैलियों के जरिए बीजेपी ने दो से तीन संसदीय क्षेत्रों को कवर करने की योजना बनाई है. इन रैलियों के जरिये पार्टी के नेता सरकार के कामकाज की चर्चा करेंगे और चुनाव के लिये कार्यकर्ताओं को तैयार करेंगे. 

फरवरी तक 50 रैलियां करेंगे PM मोदी​


टिप्पणियां
गौरतलब है कि इस साल के आखिर में कई राज्यों में विधानसभा और 2019 में लोकसभा चुनाव होने हैं. इसके लिये बीजेपी ने अभी से तैयारी शुरू कर दी है. हालांकि 2014 की तरह इस बार बीजेपी को किसी लहर का साथ मिलना मुश्किल है और उसे सत्ता विरोधी लहर का भी सामना करना है. राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों में विधानसभा चुनाव होना है यहां भी बीजेपी की सरकार है और उसे सत्ता विरोधी लहर का सामना करना पड़ सकता है.


 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement