NDTV Khabar

महामिलावटी लोग सत्ता को हमेशा बढ़ाने का जरिया मानते हैं, ये एबुंलेंस और एनआरएचएम घोटाला देते हैं : पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश में स्वतंत्रता के बाद की राजनीति में चार अलग-अलग तरह के दल और पॉलिटिकल कल्चर देखे गए हैं.  पहला नामपंथी, दूसरा वामपंथी, तीसरा दाम-दमन पंथी और चौथा- विकास पंथी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महामिलावटी लोग सत्ता  को हमेशा बढ़ाने का जरिया मानते हैं, ये एबुंलेंस और एनआरएचएम घोटाला देते हैं : पीएम मोदी

पीएम मोदी ने भदोही में रैली को संबोधित किया है.

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के भदोही में रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि देश ने चार प्रकार के शासन देखे हैं, ‘नामपंथी', ‘वामपंथी', ‘दमनपंथी' और अब ‘विकासपंथी. उन्होंने कहा कि  'महामिलावटी' दल वैश्विक परिदृश्य में भारत की बढ़ती ताकत को स्वीकार नहीं करना चाहते. विपक्षी दल सर्जिकल स्ट्राइक को लोकसभा चुनाव से जोड़ रहे हैं लेकिन हर चीज को चुनावी चश्में से नहीं देखा जाना चाहिए. मोदी ने कहा मुख्यमंत्री के तौर पर उनके लंबे कार्यकाल और प्रधानमंत्री के तौर पर पांच साल के कार्यकाल में उनकी छवि पर कोई दाग नहीं है. उन्होंने कहा कि दो-तीन पहले ही आपने देखा कि दुनिया की सबसे बड़ी संस्था ने, भारत में सैकड़ों लोगों की जान लेने के गुनहगार मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित किया है. अब तक पाकिस्तान उसे दावत खिला रहा था। अब वही पाकिस्तान मसूद अजहर पर कार्रवाई के लिए मजबूर हुआ है.  ये महामिलावटी कह रहे हैं कि देश में चुनाव था, इसलिए मोदी ने मसूद अजहर पर बैन लगवा दिया. हर चीज को चुनाव के चश्मे से देखने की वजह से ही आज कांग्रेस और उसके साथियों की ये हालत हो गई है.

मायावती ने अमेठी और रायबरेली के वोटर्स से की अपील- वोट कांग्रेस को ही देना


पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश में स्वतंत्रता के बाद की राजनीति में चार अलग-अलग तरह के दल और पॉलिटिकल कल्चर देखे गए हैं.  पहला नामपंथी, दूसरा वामपंथी, तीसरा दाम-दमन पंथी और चौथा- विकास पंथी. वामपंथी यानि जो विदेशी विचारधारा को भारत पर थोपने की कोशिश करे.  दाम-दमन पंथी यानि जो धन और बाहुबल की ताकत पर सत्ता पर कब्जा करे. दो दिन पहले ही मीडिया ने खुलासा किया है कि कैसे कांग्रेस के नामदार ने अपने ही बिजनेस पार्टनर को, अपने बहुत करीबी दोस्त को रक्षा सौदे दिलवाए.  इन नामदारों को कभी ये ध्यान नहीं रहा कि कभी गरीबों को घर दिलवा दें, उनके लिए शौचालय बनवा दें, उनके घरों में बिजली कनेक्शन लगवा दें. इन नामदारों ने गरीबों की जरूरतों की कभी परवाह नहीं लेकिन अपने बिजनेस पार्टनर के लिए लंदन से लेकर दिल्ली तक दौड़ते रहे.  अब इसलिए ही, उनके अपने क्षेत्र के लोगों ने उन्हें वहां से भागने पर मजबूर कर दिया है. 

थप्पड़ मारे जाने की घटना पर बोले अरविंद केजरीवाल: ये मुझे मारने की साजिश है, मुझे रास्ते से साफ करना चाहते हैं

इसके बाद  सपा-बसपा गठबंधन पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि महामिलावटी लोगों ने सत्ता को हमेशा अपनी दौलत बढ़ाने का जरिया माना है. जबकि हमारे लिए सत्ता, देश के लोगों की सेवा का माध्यम रही है.  जब इन्हें सत्ता मिलती है, ये उत्तर प्रदेश को एंबुलेंस घोटाला, NRHM घोटाला देते हैं. जब हमें सेवा का मौका मिलता है तो हम आयुष्मान भारत शुरू करते हैं, जन औषधि स्टोर खोलते हैं.  जब इन्हें सत्ता मिलती है, तो ये गरीब को घर देने में भी भेदभाव करते हैं, वोटबैंक का ध्यान रखते हैं.  जब हमें सेवा का मौका मिलता है तो हम सबका साथ-सबका विकास करते हुए हर बेघर को घर देने के लिए काम करते हैं.. जब बुआ-बबुआ एक दूसरे के कट्टर दुश्मन थे, तब उसी दौर में इस जिले का नाम संत रविदास नगर रखा गया था.  लेकिन बुआ के बबुआ ने, अपने अहंकार में इस जिले के नाम से संत रविदास का नाम हटवा दिया था. आज भारत दुनिया का सबसे बड़ा कालीन उत्पादक देश है। हाथ से बने कालीन के मामले में हम दुनिया में टॉप पर हैं.  अब दुनिया के आधे बाज़ार पर हमारी हिस्सेदारी हो, इसके लिए हम तमाम बुनकर और व्यापारी साथियों के साथ मिलकर प्रयास कर रहे हैं. 

पीएम मोदी ने राहुल के बहाने राजीव गांधी पर साधा निशाना​

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement