NDTV Khabar

जमीनी हकीकत समझने के लिए क्षेत्र का दौरा करें जिला कलेक्टर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिला कलेक्टरों के साथ वीडियो कांफ्रेंस के जरिये संवाद स्थापित किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जमीनी हकीकत समझने के लिए क्षेत्र का दौरा करें जिला कलेक्टर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री ने जिलाधिकारियों से कहा है कि वे जनता के बीच जाएं और संवाद स्थापित करें (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही जनकल्याण योजनाओं को जनता तक पहुंचाने की जिम्मेदारी जिलाधिकारियों के कंधों पर डाली गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जिलाधिकारियों से संवाद स्थापित कर योजनाओं को लेकर जनता के बीच जाने को कहा है. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के जिला कलेक्टरों के साथ वीडियो कांफ्रेंस के जरिये अपने तरह के पहले संवाद में संदेश दिया कि फाइलों से आगे बढ़िए और जमीनी वास्तविकताएं समझने के लिए अपने अपने क्षेत्र में जाइए.

यह भी पढ़ें: पीएम नरेंद्र मोदी : गांधी का मंत्र था - करो या मरो, हमारा मंत्र है - करेंगे, और करके रहेंगे

प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, उन्होंने कहा कि कलेक्टरों को विशेष रूप से जिलों के सुदूरवर्ती भागों में स्वास्थ्य सेवाओं से संबंधित स्थितियां समझनी चाहिए.
 
‘न्यू इंडिया’ मंथन थीम के तहत संवाद के दौरान मोदी ने कहा कि कलेक्टर जितना ज्यादा क्षेत्रों का दौरा करेंगे, वे उतना ज्यादा फाइलों पर सक्रिय रहेंगे. प्रधानमंत्री ने कहा कि कलेक्टरों को एलईडी बल्ब, भीम ऐप आदि पहलों के लाभों के बारे में भी लोगों को जागरुक बनाना चाहिए क्योंकि कई बार योजनाएं इच्छा के अनुसार प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहती हैं क्योंकि लोगों को इसके बारे में जानकारी नहीं होती.

यह भी पढ़ें:  बुनकरों को नरेंद्र मोदी सरकार का 'तोहफा', मिलेंगी ये सरकारी सेवाएं

उन्होंने कहा कि इसी तरह से, स्वच्छ भारत अभियान जिम्मेदार प्रशासन और लोगों में जागरुकता पर निर्भर करता है. उन्होंने कहा कि इस संबंध में असली बदलाव केवल लोगों की भागीदारी से आ सकता है. जीएसटी के संदर्भ में मोदी ने कलेक्टरों से अपने जिलों में कारोबारियों को यह बताने को कहा कि यह किस तरह से गुड एंड सिंपल टैक्स है. उन्होंने उनसे यह सुनिश्चित करने को कहा कि हर कारोबारी जीएसटी के तहत पंजीकृत हो. प्रधानमंत्री ने उनसे अपने जिले में सभी खरीद के लिए सरकार के ई मार्केटप्लेस का लाभ उठाने को कहा. 
 
VIDEO: हमारा मंत्र है - करेंगे, और करके रहेंगे : संसद में पीएम नरेंद्र मोदी महात्मा गांधी के इस संदेश कि शासन का अंतत: लक्ष्य सबसे गरीब की जिंदगियों में सुधार लाना होना चाहिए, को याद करते हुए मोदी ने कलेक्टरों से हर दिन खुद से यह पूछने का अनुरोध किया कि उन्होंने गरीबों की जिंदगी में बदलाव लाने के लिए कुछ किया या नहीं. बयान के अनुसार, उन्होंने कलेक्टरों से कहा कि वे अपनी चिंताएं लेकर उनके पास आने वाले गरीबों को ध्यानपूर्वक सुनें.

(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement