पीएम मोदी ने दी योग दिवस की शुभकामनाएं, कहा - कोरोना काल में योग के प्रति उत्साह न होने पाए कम

इस साल योग दिवस घरों के भीतर ही मनाया जाएगा. इस साल की थीम 'घर पर योग औैर परिवार के साथ योग' है.'

पीएम मोदी ने दी योग दिवस की शुभकामनाएं, कहा - कोरोना काल में योग के प्रति उत्साह न होने पाए कम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 6वें योग दिवस की शुभकामनाएं दी हैं. पीएम ने कहा कि उन्हें इस बात की बेहद खुशी है कि बीते सालों में योग इतना लोकप्रिय हुआ है. खासकर कि युवाओं के बीच. पीएम ने कहा, 'इस साल हम योग दिवस असाधारण परिस्थितियों में मना रहे हैं. आमतौर पर योग दिवस वाले दिन बड़े कार्यक्रम आयोजित किए जाते रहे हैं जिसमें लोग बड़ी संख्या में हिस्सा लेते हैं. लेकिन इस साल योग दिवस घरों के भीतर ही मनाया जाएगा. इस साल की थीम 'घर पर योग औैर परिवार के साथ योग' है.'

पीएम मोदी ने कहा कि आज दुनिया बहुत बड़ी महामारी से लड़ रही है, ऐसे में योग बहुमुखी चुनौतियों के लिए बहुमुखी समाधान उपलब्ध कराता है. योग इम्युनिटी सिस्टम को जानने में मदद करता है और बताता है कि आप इसे बेहतर कैसे कर सकते हैं. योग की मदद से शारीरिक, मानसिक चुनौतियों का सामना किया जा सकता है. योग से सीखा जा सकता है कि मुश्किल वक्त में कैसे जिया जाए. योग हर किसी को कुछ न कुछ देता है. यह तेज दिमाग और मजबूत शरीर बनाने में मदद करता है. 

पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना के बाद के समय मे योग और भी लोकप्रिय हो जाएगा. पीएम ने कहा कि मौजूदा समय एक दूसरे से दूरी रखने का है लेकिन योग लोगों को एकसाथ लाने में मदद करता है. योग दूरी मिटाने का काम करता है. शरीर और मस्तिष्क के बीच की दूरी योग से मिटती है. जिस तरह का जीवन हम जी रहे हैं और जैसा जीना चाहते हैं कि उसके बीच भी दूरी मिटाने का काम योग करता है. हमारी उम्मीदों और सच्चाई के बीच दूरी मिटाने का काम योग करता है. नियमित तौर पर योग करने से भावनात्मक तौर पर व्यक्ति मजबूत बनता है. इसकी मदद से हम जरूरतमंदों की मदद भी कर सकते हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना के चलते भले ही हम कहीं आ-जा न पा रहे हों लेकिन इससे योग के प्रति उत्साह में कमी नहीं आनी चाहिए. कोरोना के समय में लोग नए विचारों के साथ सामने आ रहे हैं कि योग कैसे किया जाए. पीएम ने अपील की है कि लोग घरों में रहकर परिवार के साथ योग करें और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें.