NDTV Khabar

पीएम को 'पाकिस्तान जाओ' बोलने वाले नेताओं को एक कड़ा संदेश देना चाहिए : लेखक आतिश तासीर

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पीएम को 'पाकिस्तान जाओ' बोलने वाले नेताओं को एक कड़ा संदेश देना चाहिए : लेखक आतिश तासीर

लेखक आतिश तासीर

नई दिल्ली:

अमेरिकी अख़बार न्यू यॉर्क टाइम्स के स्तंभकार आतिश तासीर के साथ हाल ही में दिल्ली में ऐसी घटना हुई जिसके बाद उनका मानना है कि भारत में डर का माहौल बनता जा रहा है। 35 साल के लेखक ने बताया कि उन्होंने एक रेस्त्रां में भैंस का मांस (बीफ) ऑर्डर किया जिस पर उन्हें जवाब मिला की भैंस के मांस की क्वॉलिटी अच्छी नहीं है। इसके तुरंत बाद उनसे कहा गया कि उनके रेस्त्रां में आज से पहले कभी ऐसी कोई डिश परोसी ही नहीं गई है।

तासीर के मुताबिक रेस्त्रां के मैनेजर ने इस बात को स्वीकार किया है कि 'राजनीतिक वजहों' से वह ऐसा कोई व्यंजन फिलहाल नहीं परोस रहे हैं। बता दें कि राजधानी में गोमांस पर प्रतिबंध है लेकिन आतिश ने साफ किया है कि वह गाय का नहीं भैंस का मांस मांग रहे थे। यही नहीं आतिश ने बताया कि एयरपोर्ट पर प्रवासी अधिकारी बार बार उनका नाम दोहरा रहे था जिसके बाद उन्हें माहौल कुछ अजीब सा लग रहा था। तासीर ने कहा 'वह बार बार मेरा पासपोर्ट देख रहा था और बार बार आतिश अली, आतिश अली दोहरा रहा था। ऐसा पहले कभी नहीं हुआ है।'

कोई पीछा कर रहा है...


टिप्पणियां

आतिश तासीर की मां तवलीन सिंह एक भारतीय पत्रकार हैं और उनके पिता सलमान तासीर पाकिस्तान के पंजाब में पूर्व राज्यपाल रह चुके हैं जिनका 2011 में कत्ल कर दिया गया था। देश के वर्तमान माहौल पर बात करते हुए आतिश ने कहा मौजूदा हाल काफी इस्लामिक सा हो गया है। काफी कुछ पाकिस्तान जैसा, जब एक अदृश्य सी ताकत लोगों का पीछा कर रही होती है। जब आपके लिए नियमों की एक किताब होती है और लोगों को एक विशेष तरीके से ही व्यवहार करना होता है।

ब्रिटेन में जन्मे भारतीय मूल के आतिश का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपनी पार्टी के उन नेताओं को एक कड़ा संदेश भेजना चाहिए जो बार बार पाकिस्तान जाओ जैसी टिप्पणी कसते रहते हैं। असहिष्णुता के मुद्दे पर आतिश ने कहा 'मैं क्यों पाकिस्तान जाऊं, मैं लंदन या न्यू यॉर्क जाऊंगा और शाहरुख ख़ान और आमिर ख़ान भी।'



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement