NDTV Khabar

जयललिता के निधन से भारतीय राजनीति में गहरा शून्य उत्पन्न हो गया है : पीएम नरेंद्र मोदी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जयललिता के निधन से भारतीय राजनीति में गहरा शून्य उत्पन्न हो गया है : पीएम नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जयललिता की फाइल फोटो

खास बातें

  1. संकट की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं तमिलनाडु की जनता के साथ : पीएम
  2. केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जनता से शांति बनाए रखने की अपील की
  3. जयललिता के निधन से देश से तमिलनाडु में शोक की लहर
नई दिल्ली:

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री और देश की ताकतवर महिला राजनेत्रियों में से एक जयललिता का चेन्नई के अपोलो अस्पताल में सोमवार रात निधन हो गया. वह 68 वर्ष की थीं और तकरीबन पिछले 3 माह से अस्पताल में भर्ती थीं. उनके निधन के बाद पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई नेताओं ने गहरा दुख जताया. वहीं प्रधानमंत्री उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए चेन्नई भी जाएंगे.

प्रधानमंत्री मोदी ने तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि जयललिता के निधन से भारतीय राजनीति में गहरा शून्य उत्पन्न हो गया है.संकट की इस घड़ी में  मेरी संवेदनाएं तमिलनाडु की जनता के साथ हैं. ईश्वर उन्हें इस दुख को सहन करने की शक्ति दे.
 


केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, मैं अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं. मैं तमिलनाडु की जनता से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं. जयललिता भारतीय राजनीति का एक प्रमुख चेहरा थीं जिनका तमिलनाडु की जनता पर व्यापक प्रभाव था.
 
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा कि तमिलनाडु के विकास में उनके योगदान को लंबे समय तक याद किया जाएगा. जयललिता के निधन से देश ने एक प्रमुख व्यक्तित्व को खो दिया है. जिसे लागों लोग प्यार करते थे. उन्होंने अपना पूरा जीवन सामाजिक-आर्थिक परिवर्तन लाने लाने में लगा दिया.
   
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि वह जयललिता के निधन का समाचार पाकर काफी दुखी हैं. कांग्रेस नेता रेणुका चौधरी ने कहा कि जयललिता लोगों की नब्ज पहचानती थीं. उनके जाने से एक राजनीतिक शून्य बन गया है.

डीएमके के कोषाध्‍यक्ष एम के स्टालिन ने शोक व्‍यक्‍त करते हुए कहा, 'हमारी मुख्यमंत्री सेल्वी जयललिता के निधन से बेहद दुखी हूं, वह ‘आयरन लेडी’ थीं'.


उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने भी जयललिता के निधन पर शोक व्‍यक्‍त करते हुए कहा कि उनका निधन भारत की जनता के लिए अपूरणीय क्षति है.

टिप्पणियां

राहुल गांधी ने कहा, "आज हमने बहुत बड़ा नेता खो दिया। महिलाएं, किसान, मछुआरे और वंचित लोगों ने उनकी आंखों से सपने देखें. हम जयललिता की कमी महसूस करेंगे."  पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी जयललिता के निधन पर शोक जताया.

केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत, पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, तमिलनाडु विधानसभा में विपक्ष के नेता एम के स्टालिन ने भी उनके निधन पर शोक प्रकट किया.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement