PM मोदी ने की अटल भूजल योजना की शुरुआत, कहा- पानी का विषय अटल जी के लिए बहुत महत्वपूर्ण था...

प्रधानमत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने बुधवार को दिल्ली के विज्ञान भवन से अटल भूजल योजना की शुरुआत की.

PM मोदी ने की अटल भूजल योजना की शुरुआत, कहा- पानी का विषय अटल जी के लिए बहुत महत्वपूर्ण था...

प्रधानमत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने अटल भूजल योजना की शुरुआत की

खास बातें

  • प्रधानमंत्री ने की 'अटल भूजल योजना' की शुरुआत
  • रोहतांग टनल का नाम अब अटल टनल होगा
  • नरेंद्र मोदी ने कहा- पानी का विषय अटल जी के लिए बहुत महत्वपूर्ण था
नई दिल्ली:

प्रधानमत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने बुधवार को दिल्ली के विज्ञान भवन से  6,000 करोड़ रुपये की अटल भूजल योजना की शुरुआत की. इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि पानी का विषय अटल जी के लिए बहुत महत्वपूर्ण था, उनके हृदय के बहुत करीब था. अटल जल योजना हो या फिर जल जीवन मिशन से जुड़ी गाइडलाइंस, ये 2024 तक देश के हर घर तक जल पहुंचाने के संकल्प को सिद्ध करने में एक बड़ा कदम हैं,पानी का ये संकट एक परिवार के रूप में, एक नागरिक के रूप में हमारे लिए चिंताजनक तो है ही, एक देश के रूप में भी ये विकास को प्रभावित करता है.

NRC वाले बयान पर विपक्ष ने PM मोदी को घेरा, कहा- अपने ही गृह मंत्री को गलत साबित कर रहे हैं 

प्रधानमंत्री ने कहा, "न्यू इंडिया को हमें जल संकट की हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार करना है. इसके लिए हम पांच स्तर पर एक साथ काम कर रहे हैं. न्यू इंडिया को हमें जल संकट की हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार करना है. इसके लिए हम पांच स्तर पर एक साथ काम कर रहे हैं. चुनाव से पहले जब हमने पानी के लिए समर्पित जल शक्ति मंत्रालय की बात की थी तो कुछ लोगों को लगा कि कैसा वादा है. लेकिन बहुत कम लोगों ने इस बात पर गौर किया कि क्यों इसकी जरूरत थी.जल शक्ति मंत्रालय ने इस Compartmentalized Approach से पानी को बाहर निकाला और Comprehensive Approach को हमने बल दिया. इसी मानसून में हमने देखा है कि समाज की तरफ से, जलशक्ति मंत्रालय की तरफ से वाटर कन्जर्वेशन के लिए कैसे व्यापक प्रयास हुए हैं.

राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री एवं अन्य ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि दी

उन्होंने कहा कि एक तरफ जल जीवन मिशन है, जो हर घर तक पाइप से जल पहुंचाने का काम करेगा और दूसरी तरफ अटल जल योजना है, जो उन क्षेत्रों पर विशेष ध्यान देगी जहां ग्राउंड वॉटर बहुत नीचे है.उन्होंने कहा कि अटल भूजल योजना से महाराष्ट्र, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान और गुजरात इन सात राज्यों के भूजल का उठाने में बहुत मदद मिलेगी. प्रधानमंत्री ने कहा कि गांव की भागीदारी और साझेदारी की इस योजना में गांधी जी के ग्राम स्वराज की भी एक झलक है. पानी से जुड़ी योजनाएं हर गांव के स्तर पर वहां की स्थिति-परिस्थिति के अनुसार बनें, ये जल जीवन मिशन की गाइडलाइंस बनाते समय ध्यान रखा गया है.

शत्रुघ्न सिन्हा ने PM Modi पर साधा निशाना, ट्वीट कर बोले- सर, फिर ना कहना होशियार नहीं किया...

साथ ही प्रधानमंत्री ने कहा "मैं आज इस अवसर पर दुनिया भर में बसे भारतीयों से भी आग्रह करूंगा कि वो इस पावन अभियान में अपना योगदान दें. जिस गांव से वो विदेशों में गए हैं उस गांव में पानी को प्राथमिकता दें.  नरेंद्र मोदी ने देश के लोगों से अपील की मेरा एक और आग्रह है कि हर गांव के लोग पानी एक्शन प्लान बनाएं, पानी फंड बनाएं."

बुधवार को अटल जयंती के अवसर पर प्रधानमंत्री ने कई अन्य योजनाओं का नाम भी अटल बिहारी वाजपेयी को समर्पित किया, हिमाचल प्रदेश को लद्दाख और जम्मू-कश्मीर से जोड़ने वाली, मनाली को लेह से जोड़ने वाली, रोहतांग टनल, अब अटल टनल के नाम से जानी जाएगी.

VIDEO: प्रधानमंत्री मोदी ने ‘अटल भूजल योजना' की शुरुआत की

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com