NDTV Khabar

पीएम मोदी बोले, नोटबंदी कोई झटका नहीं, हमने तो साल भर पहले ही चेता दिया था

PM Narendra Modi ने समाचार एजेंसी ANI को दिए इंटरव्यू में कहा, ''नोटबंदी कोई झटका नहीं था. हमने देश के लोगों को पहले ही चेता दिया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पीएम मोदी बोले, नोटबंदी कोई झटका नहीं, हमने तो साल भर पहले ही चेता दिया था

Pm Modi ने कहा कि हमने लोगों को पहले ही चेता दिया था कि अगर आपके पास काला धन है, तो बैंक में जमा कर दें.

खास बातें

  1. पीएम मोदी ने कहा नोटबंदी कोई झटका नहीं था.
  2. उन्होंने कहा कि हमने तो साल भर पहले ही चेता दिया था.
  3. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को सुधरने में समय लगेगा.
नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने समाचार एजेंसी ANI को दिए इंटरव्यू में कहा, ''नोटबंदी (Demonetisation) कोई झटका नहीं था. हमने लोगों को पहले ही चेता दिया था कि अगर आपके पास काला धन है, तो आप इसे बैंक में जमा कर दें. आप जुर्माना दें और आपकी मदद की जाएगी, हालांकि लोगों को लगा कि मोदी भी औरों की तरह कह रहे हैं, इसीलिए बहुत कम लोग स्वेच्छा से आगे आए.'' इसके अलावा पीएम मोदी ने उर्जित पटेल के इस्तीफे पर भी बयान दिया. पीएम मोदी ने कहा ''उर्जित पटेल (Urjit Patel) ने निजी कारणों के चलते इस्तीफा दिया था. मैं यह पहली बार बता रहा हूं, लेकिन उन्होंने अपने इस्तीफे के बारे में मुझे 6-7 महीने पहले ही बता दिया था. साथ ही उन्होंने मुझे इस्तीफे की बात लिखित में भी दी थी. इस मामले पर राजनीतिक दबाव का सवाल ही नहीं उठता. उर्जित पटेल ने आरबीआई गवर्नर के पद पर रहकर अच्छा कार्य किया है.''

उर्जित पटेल पर नहीं बनाया दबाव, उन्होंने खुद दिया इस्तीफा : पीएम मोदी

पीएम मोदी ने इंटरव्यू के दौरान सर्जिकल स्ट्राइक (Surgical Strike) को बड़ा जोखिम बताया. पीएम मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक पर कहा, ''में अपने सैनिकों की सुरक्षा की चिंता है.'' उन्होंने कहा कि  सर्जिकल स्ट्राइक स्ट्राइक के बाद भी पाकिस्तान की और से बॉर्डर पर हमले हो रहे हैं. एक लड़ाई से पाकिस्तान सुधर जाएगा, ये सोचना बहुत बड़ी गलती होगी. पाकिस्तान को सुधरने में अभी और समय लगेगा.


टिप्पणियां

आपको बता दें कि पीएम ने राम मंदिर (Ram Mandir) मुद्दे पर भी अपनी बात रखी. उन्होंने कहा कि राम मंदिर मुद्दे का हल संविधान के दायरे में ही संभव है. पीएम ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस के वकीलों ने अयोध्या मसले पर कानूनी प्रक्रिया में अड़चनें पैदा की. इसकी वजह से कानूनी प्रक्रिया धीमी पड़ गई. 

पीएम नरेंद्र मोदी बोले, कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही राम मंदिर पर अध्यादेश संभव



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement