पीएम नरेंद्र मोदी ने बिहार की ''साइकिल गर्ल'' ज्योति कुमारी से बात की

प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से सम्मानित किए जाने के समय प्रधानमंत्री के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की

पीएम नरेंद्र मोदी ने बिहार की ''साइकिल गर्ल'' ज्योति कुमारी से बात की

अपने पिता के साथ ज्योति कुमारी (फाइल फोटो).

दरभंगा:

देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान अपने पिता को साइकिल के कैरियर पर बैठाकर गुरूग्राम से 1200 किलोमीटर की दूरी तय कर बिहार के दरभंगा पहुंची ''साइकिल गर्ल'' के नाम से चर्चित ज्योति कुमारी (Jyoti Kumari) सोमवार को फिर से सुर्खियों में उस समय आईं जब उन्होंने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से सम्मानित किए जाने के समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से बातचीत की.

16 वर्षीय ज्योति देशभर के उन 32 बच्चों में से थीं जो अपने संबंधित एनआईसी केंद्रों पर पहुंचे थे और प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से सम्मानित किए जाने के समय प्रधानमंत्री के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की. इस अवसर पर ज्योति के पिता, उनकी मां और स्थानीय प्रशासनिक पदाधिकारी मौजूद थे.

मोदी ने बच्चों के साहस और दृढ़ संकल्प के उनके कृत्यों के लिए उनकी सराहना की और पुरस्कार प्राप्त करने वाले बच्चों से कहा कि वे प्रत्येक वर्ष कम से कम एक महापुरुष की जीवनी जरूर पढ़ें. इससे जीवन में बहुत प्रेरणा मिलती है.


दरभंगा के जिलाधिकारी त्यागराजन एसएम ने कहा कि ज्योति कुमारी को बहादुरी के लिए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार प्रदान किया गया है. पुरस्कार स्वरूप उसे एक लाख रुपये, प्रशस्ति पत्र एवं मेडल प्रदान किया जाएगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बिहार सरकार द्वारा दरभंगा जिला के सिंहवाड़ा प्रखंड के सिरहुल्ली गांव निवासी मोहन पासवान की बेटी ज्योति कुमारी के बारे में जिलाधिकारी ने कहा कि दरभंगा के लिए यह गर्व की बात है. ज्योति को नशा मुक्ति अभियान के लिए राज्य सरकार द्वारा पहले ही ब्रांड एंबेसडर बनाया जा चुका है.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)