NDTV Khabar

पीएम नरेंद्र मोदी बोले, कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही राम मंदिर पर अध्यादेश संभव

केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई है. बीजेपी की कोशिश है कि वह 2019 में फिर वापसी करे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि राम मंदिर निर्माण के लिए अध्यादेश लाने पर फैसला न्यायिक प्रक्रिया के पूरा होने के बाद ही लिया जाएगा. पीएम नरेंद्र मोदी ने समाचार एजेंसी ANI को दिये इंटरव्यू में कहा कि 'एक बार कानूनी प्रक्रिया पूरी हो जाने दीजिये. इसके बाद हमारी जो भी जिम्मेदारी होगी, हम हर प्रयास करने के लिये तैयार हैं'. पीएम ने कहा कि राम मंदिर मुद्दे का हल संविधान के दायरे में ही संभव है. पीएम ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस के वकीलों ने अयोध्या मसले पर कानूनी प्रक्रिया में अड़चनें पैदा की. इसकी वजह से कानूनी प्रक्रिया धीमी पड़ गई. 

PM मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक को जोखिम वाला बताया, कहा- सैनिकों को सूर्योदय से पहले लौटने को कहा था...

पीएम मोदी ने इंटरव्यू के दौरान सर्जिकल स्ट्राइक को बड़ा जोखिम बताते हुए कहा कि हमें अपने सैनिकों की सुरक्षा की चिंता है. आरबीआई के पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल के इस्तीफे के सवाल पर पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने खुद इस्तीफा देने का अनुरोध किया था. पीएम ने कहा कि, 'मैं इस बात का पहली बार खुलासा कर रहा हूं कि वे (उर्जित पटेल) पिछले 6-7 महीनों से इसके लिए कह रहे थे और लिखित में भी दिया था. ऐसे में राजनैतिक दबाव का तो प्रश्न ही नहीं बनता है. बतौर आरबीआई गर्वनर उन्होंने बहुत अच्छा काम किया. 


 

 

नोटबंदी के सवाल पर पीएम ने कहा कि, यह कोई झटका नहीं था. हमनें लोगों को सालभर पहले ही चेता दिया था कि अगर आपके पास ऐसा पैसा (ब्लैक मनी) है तो आप इसको जमा कर सकते हैं, जुर्माना अदा कर सकते हैं और आपकी मदद की जाएगी, लेकिन उन्होंने सोचा कि मोदी भी औरों की तरह ही कह रहे हैं. बहुत कम लोग सामने आए. पीएम ने कहा कि जिन्होंने चार पीढ़ियों तक देश पर राज किया, वे आज बेल पर बाहर हैं...वह भी वित्तीय अनियमितताओं के मामले में. सर्जिकल स्ट्राइक के बावजूद सीमा पार से हो रहे हमलों पर पीएम मोदी ने कहा कि, 'एक लड़ाई से पाकिस्तान सुधर जाएगा, यह सोचना बहुत बड़ी गलती होगी. पाकिस्तान को सुधरने में अभी और वक्त लगेगा'.

उर्जित पटेल पर नहीं बनाया दबाव, उन्होंने खुद दिया इस्तीफा : पीएम मोदी

पीएम ने कहा कि अगले साल होने वाला लोकसभा चुनाव ''जनता vs गठबंधन होगा''. राजनीतिक पंडितों द्वारा 2019 में बीजेपी के 180 से ज्यादा सीटें न पाने के दावे को पीएम मोदी ने पूरी तरह खारिज कर दिया और कहा कि 2014 के चुनाव में भी इसी तरह के दावे किये जा रहे थे. उन्होंने कहा कि ''यह चुनाव उन लोगों के बीच है जो जनमानस की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए प्रयासरत हैं और जो इन्हें रोकने में लगे हुए हैं''. 

हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों में मोदी लहर कम होने के सवाल पर पीएम मोदी ने कहा कि, 'ये कुछ लोग हैं जो पहले भी यह कहते थे कि मोदी जीत नहीं सकते हैं...उनकी कोई लहर नहीं है...अब भी वही लोग यह कह रहे हैं. मैं समझता हूं कि लहर सिर्फ जनता की आशा-आकांक्षा की होती है. आज हिंदुस्तान में विश्वास पनपा है. यह अपने आप में अद्भुत है''. पीएम ने कहा कि भाजपा विश्व का सबसे बड़ा संगठन है. यह कहना गलत होगा कि एक-दो लोग पार्टी को चलाते हैं. यहां हर स्तर पर कार्यकर्ताओं का प्रतिनिधित्व है. पीएम ने कहा कि मोरल डाउन होने का तो कोई सवाल ही नहीं है. हम जनता से जुड़े हैं और भरोसा है. 

पीएम मोदी बोले, नोटबंदी कोई झटका नहीं था, हमने तो साल भर पहले ही चेता दिया था

पीएम ने कहा कि आज दुनिया के देश पैसों की जानकारी देने के लिए तैयार हो गए हैं. आगे रियल टाइम जानकारी मिलेगी. ब्लैक मनी को वापस आना ही पड़ेगा. जीएसटी को 'गब्बर सिंह टैक्स' कहने पर पीएम ने कहा कि जिसकी जैसी सोच होती है, वैसा ही कहता है. मैं इसमें उलझना नहीं चाहता हूं. जीएसटी सर्वसम्मति से पारित हुआ. पीएम ने कहा कि जीएसटी से पहले देश में 30-40 प्रतिशत टैक्स वाली चीजें थीं... हिडेन टैक्स था...अब यह सिंप्लीफाई हो गया है. पीएम ने कहा कि जीएसटी एक नई व्यवस्था है. यह हम भी मानते हैं कि थोड़ी दिक्कत हुई है, लेकिन मिल बैठ कर इसका निपटारा करना होगा. राज्य सरकारों की भी यह जिम्मेदारी है. हम लगातार जीएसटी को सरल और उपभोक्ताओं के लिए हितकारी बनाने में लगे हैं. यह कोई छोटी उपलब्धि नहीं है. 

5 राज्यों में हार के बाद पीएम मोदी ने कही ये बात

पीएम ने कहा कि मिडिल क्लास दया नहीं चाहता है. मुद्रा योजना का सबसे बड़ा लाभार्थी अगर कोई है तो वो मिडिल क्लास है. इसी तरह स्टार्टअप को मिडिल क्लास ड्राइव कर रहा है. युवाओं को फायदा मिला है. इनकम टैक्स में मदद मिली है.  किसानों के मुद्दे पर पीएम ने कहा कि, 'मैं झूठ और भ्रम को लॉलीपॉप कहता हूं. क्या सभी किसानों का कर्ज माफ हुआ?'. पीएम ने कहा कि पहले की सरकारों ने भी किसानों की कर्जमाफी की है, लेकिन क्या दिक्कत है कि किसान हमेशा कर्जदार बनता रहता है?. किसान को मजबूत बनाना होगा. बीज, पानी आदि की व्यवस्था की जा रही है. अब क्रॉप की समझ आने लगी है. फसल ज्यादा पैदा हो रही है. फूड प्रोसेसिंग और वैल्यू एडिशन पर काम कर रहे हैं. ट्रांसपोर्टेशन और वेयरहाउसिंग पर भी काम कर रहे हैं. हम किसान को अन्नदाता के अलावा उर्जादाता भी बनाना चाहते हैं. एमएसपी पर काम किया है. 22 फसलों पर एमएसपी बढ़ाया गया. 

 

 

पीएम ने कहा कि कर्जमाफी से बहुत कम किसानों को फायदा होता है. ज्यादातर किसान साहूकार से कर्ज लेते हैं और कर्जमाफी के दायरे में वे आते ही नहीं हैं. समस्या को दूर करने के लिए हम दृढ़ संकल्प हैं. लिंचिंग के मुद्दे पर पीएम ने कहा कि ऐसी घटनाएं कतई शोभा नहीं देती हैं. इसे सुधारने के लिए सबको मिलकर प्रयास करना चाहिए. कोई भी घटना हो...वह गलत है. राजनीतिक हिंसा पर पीएम ने कहा कि मैं इसकी घोर निंदा करता हूं. हमने बहुत भुगता है. पश्चिम बंगाल में हमें कोर्ट जाना पड़ा. केरल में आए दिन बीजेपी के कार्यकर्ताओं की हत्या होती रहती है. हिंसा की राजनीति भारत के लोकतंत्र के लिए सही नहीं है. 

पीएम मोदी ने कहा कि तीन तलाक धार्मिक आस्था का विषय नहीं है. कई देशों में इस पर रोक है, यहां तक कि पाकिस्तान में भी. यह समान हक का मसला है. हम इसके लिए प्रतिबद्ध हैं. पीएम ने कहा कि 2014 के बाद हमारे साथ कई दल जुड़े हैं. क्या मायावती एनडीए के साथ आएंगी, इस बात पर पीएम ने कहा कि टीवी के सामने कोई समझदार व्यक्ति यह बात नहीं करेगा. पीएम ने कहा कि हमें पूर्ण बहुमत मिला था, लेकिन गठबंधन धर्म का पालन किया. सबको साथ लेकर चले. हमारे साथ जो जुड़ता है तो फलता है...फूलता है और खिलता है. बीजेपी को उच्च वर्ण की पार्टी कहे जाने पर पीएम ने कहा कि सब जानते हैं कि हमारा वर्ण क्या है. हमारे यहां सबसे ज्यादा दलित एमपी हैं. विस्तार का प्रयास कर रहे हैं. हम हमेशा सबको साथ लेकर चलने का प्रयास करते हैं.

प्रधानमंत्री ने कहा कि संस्थानों की स्वायत्तता के सवाल पर तो कांग्रेस बोलने लायक ही नहीं हैं. इन्होंने संस्थानों का दुरुपयोग किया है. हाल ही में सोहराबुद्दीन पर फैसला आया है. आप फैसला पढ़ लीजिये...सब समझ में आ जाएगा. क्रिश्चयन मिसेल द्वारा मिसेज गांधी और सन ऑफ इटैलियन लेडी का नाम लिये जाने पर पीएम ने कहा कि मैंने मीडिया रिपोर्ट देखी है. राफेल डील के मुद्दे पर पीएम ने कहा कि ये मेरे पर व्यक्तिगत आरोप नहीं है, बल्कि सरकार पर आरोप है. संसद में विस्तार से जवाब दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने बाल की खाल निकाल दी. फ्रांस के राष्ट्रपति बोल चुके हैं...भारत का पीएम बोल चुका है...अब उनसे सवाल पूछना चाहिए कि सबूत कहां है. उनको बोलने की बीमारी. पीएम ने कहा कि आजादी के बाद से डिफेंस डील विवादों में क्यों घिरती गई, इस पर सवाल पूछा जाना चाहिए. मेरा गुनाह यह है कि मैं मेक इन इंडिया पर जोर दे रहा हूं...सेना की जरूरतों को पूरा करने में लगा हूं. क्या मुझे अपने उपर लगे आरोपों की चिंता करनी चाहिए या राष्ट्र हित की? झूठे आरोपों से डरकर मैं अपनी सेना को दुर्बल नहीं कर सकता और सैनिकों को निहत्था नहीं कर सकता. उनकी हर जरूरतें पूरी की जाएंगी. 

पाकिस्तान से बातचीत के मसले पर पीएम ने कहा कि हमारी नीति ही है कि सभी विषयों पर चर्चा के लिए तैयार हैं, लेकिन बम-बंदूक में बातचीत सुनाई नहीं देती है. घटनाएं सिमित हुई हैं. आतंकियों की मदद करने वाला पाकिस्तान अलग-थलग पड़ गया है.  डोकलाम के मुद्दे पर पीएम ने कहा कि, डोकलाम पर भारत का क्या रुख रहा है, उस पर मूल्यांकन होना चाहिए. हम शांति के पक्षधर हैं. विदेश दौरों पर पीएम ने कहा कि सभी पीएम की कमोबेश इतनी ही यात्रा होती है. आज तमाम मंच हैं और वहां जाना अनिवार्य है. मैं कम खर्चे और कम समय में अधिक काम करता हूं. गंगा सफाई के मुद्दे पर पीएम ने कहा कि हमनें प्लानिंग करके काम किया. गंगा किनारे के 4 हजार गांव खुले में शौच मुक्त हुए. 120 साल पुराने नाले बंद हुए. अब चैलेंज यह है कि गंगा में जुड़ने वाली नदियों की सफाई. 

टिप्पणियां

पीएम मोदी ने कहा कि संसद में चर्चा कम होती जा रही है. इससे देश का नुकसान हो रहा है. संसद का काम है कि व्यवस्था पर दबाव पैदा हो. ब्यूरोक्रेसी पर दबाव बढ़े. मैं चाहता हूं कि हमारी संसद और जागृत हो. सांसदों को अपनी बात रखने का मौका मिले. उन्होंने कहा कि मैंने जो काम किया है, उसका मूल्यांकन जनता पर छोड़ दिया है. मैं नॉन एलिट वाली दुनिया का प्रतिनिधि हूं. 

VIDEO : कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही राम मंदिर पर अध्यादेश संभव : पीएम नरेंद्र मोदी


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement