NDTV Khabar

PMC Bank Scam : वाधवा पिता-पुत्र को पुलिस हिरासत में भेजा गया, बैंक के पूर्व एमडी फरार

HDIL कंपनी के मालिक पिता-पुत्र राकेश कुमार वाधवा और सारंग वाधवा पर PMC बैंक प्रबंधन से मिलकर करोड़ों रुपये डुबाने का आरोप

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
PMC Bank Scam : वाधवा पिता-पुत्र को पुलिस हिरासत में भेजा गया, बैंक के पूर्व एमडी फरार

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. बैंक के 75 फीसदी खाताधारकों के पैसे HDIL को कर्ज में दिए गए थे
  2. 21 हजार फर्जी खाते खोलकर उनके पैसे वाधवा के खातों में ट्रांसफर हुए थे
  3. भारतीय रिजर्व बैंक भी इस गोलमाल की जांच कर रहा
मुंबई:

पीएमसी बैंक (PMC Bank) को डुबाने के पीछे जिस HDIL कंपनी को जिम्मेदार बताया जा रहा है उसके मालिक पिता-पुत्र  को अदालत ने शुक्रवार को नौ अक्टूबर तक के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया लेकिन बैंक के पूर्व एमडी जॉय थॉमस तक अब भी पुलिस नहीं पहुंच सकी है. पिता-पुत्र राकेश कुमार वाधवा और सारंग वाधवा HDIL ग्रुप के मालिक हैं. यह दोनों कभी बॉलीवुड की नाईट पार्टी की शान हुआ करते थे, लेकिन अब दोनों को 9 अक्टूबर तक रात पुलिस हिरासत में गुजारनी पड़ेगी.

मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा का कहना है कि PMC बैंक के 75 फीसदी खाताधारकों के पैसे HDIL को कर्ज के तौर पर दिए गए थे. इसके लिए पहले 21 हजार फर्जी खाते खोले गए थे. बाद में उन खातों से HDIL और वाधवा परिवार के खातों में रुपये ट्रांसफर हुए थे. अब आरबीआई भी इस गोलमाल की जांच कर रहा है.

आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास का कहना है कि 'जैसे ही गड़बड़ी हमारी नजर में आई, हम तुरंत हरकत में आए और सभी जरूरी कदम उठा रहे हैं.'


मुंबई : PMC बैंक घोटाले में एचडीआईएल के दो डायरेक्टर गिरफ्तार किए गए

दूसरी तरफ अदालत में वाधवा परिवार के वकील में दलील दी कि बैंक के संकट में होने की जानकारी मिलते ही उन्होंने बैंक प्रबंधन को लिखा था और पीएमसी बैंक के आरबीआई प्रशासक को मिलकर सुझाव दिया था कि PMC बैंक के पास जमा HDIL की संपत्तियों को बेचकर खाताधारकों को पैसे चुकाए जा सकते हैं.  वकील ने कोर्ट में यह भी दावा किया कि PMC बैंक के पास HDIL की संपत्तियों के दस्तावेज जमा हैं और उनकी कीमत हजारों करोड़ में है.

PMC बैंक घोटाले में आई एक चौंकाने वाली खबर, कर्ज में डुबाने वाले 44 बड़े अकाउंटों में इस कंपनी से जुड़े हैं 10 खाते

वकील ने आरोप लगाया कि पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर पूरा मामला बिगाड़ दिया है. वकील ने HDIL को दिए कर्जों को छुपाने के आरोप को भी गलत बताया. वकील ने कोर्ट में दावा किया कि HDIL की तरफ से सब कुछ पारदर्शी तरीके से किया गया. अगर कुछ गड़बड़ी हुई है तो वह PMC की  जिम्मेदारी है.

इस बीच ED ने  भी PMC मामले में ECIR दर्ज कर मनी लॉन्ड्रिंग की जांच शुरू कर दी है. छह ठिकानों पर तलाशी भी ली.

PMC Bank पर लगी पाबंदियों के बाद सोशल मीडिया पर फैली अफवाहों को लेकर RBI ने किया Tweet

गौरतलब है कि पीएमसी बैंक घोटाला मामले में गुरुवार को पहली गिरफ्तारी हुई थी. मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने हाउसिंग डेवलपमेंट इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (एचडीआईएल) के डायरेक्टर सारंग वाधवा और राकेश वाधवा को गिरफ्तार कर लिया था. दोनों को पूछताछ के लिए बुलाया गया था. बाद में उन्हें जांच में सहयोग नहीं करने पर गिरफ्तार कर लिया गया. आर्थिक अपराध शाखा ने एचडीआईएल की 3,500 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क कर ली है.

VIDEO : सारंग वाधवा और राकेश वाधवा गिरफ्तार

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement