NDTV Khabar

चंद्रयान- 1 अब भी चंद्रमा की कर रहा परिक्रमा, 2009 में टूट गया था संपर्क

चंद्रयान - 1 से संपर्क अगस्त 2009 में टूट गया था इसलिए इस अंतरिक्ष यान का उसके बाद इस्तेमाल नहीं हो पाया है. हालांकि, यह अब भी चंद्रमा की परिक्रमा कर रहा है.

154 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
चंद्रयान- 1 अब भी चंद्रमा की कर रहा परिक्रमा, 2009 में टूट गया था संपर्क

चंद्रयान-1 अभी भी लगा रहा चक्कर

खास बातें

  1. चंद्रयान-1 अभी भी लगा रहा है चक्कर
  2. 2009 में संपर्क टूट गया था
  3. उसके बाद से इसका इस्तेमाल नहीं हो पाया
नई दिल्ली: भारत का प्रथम चंद्र मिशन ‘चंद्रयान - 1’ करीब 160 किमी से अब भी चंद्रमा की परिक्रमा कर रहा है जबकि इस अंतरिक्ष यान के खो जाने की बात मानी जा रही थी. प्रधानमंत्री कार्यालय :पीएमओ: में राज्य मंत्री जितेन्द्र सिंह ने लोकसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में बताया कि भारत का प्रथम चंद्र मिशन ‘चंद्रयान - 1’ करीब 160 किमी के दायरे में अब भी चंद्रमा की परिक्रमा कर रहा है. चूंकि चंद्रयान - 1 से संपर्क अगस्त 2009 में टूट गया था इसलिए इस अंतरिक्ष यान का उसके बाद इस्तेमाल नहीं हो पाया है. हालांकि, यह अब भी चंद्रमा की परिक्रमा कर रहा है.

पढ़ें: ISRO की 7 बड़ी उपलब्धियां जिन्होंने दुनिया के नक्शे पर भारत को दिलाई पहचान

मंत्री ने बताया कि 10 मार्च 2017 को नासा की जेट प्रोपल्शन लेबोरेट्री :जेपीएल: ने एक वस्तु द्वारा 160 किलोमीटर के दायरे में चंद्रमा की परिक्रमा करने का पता लगाया. साथ ही, इसरो ने इस वस्तु के चंद्रयान - 1 होने की पुष्टि की, जो अब भी अपनी कक्षा में है.

पढ़ें : थोड़ी सी अमेरिकी मदद के साथ चंद्रयान-2 पूरी तरह देशज अभियान होगा: इसरो

उन्होंने कहा कि चंद्रयान - 1 का प्रक्षेपण 22 अक्तूबर 2008 को हूआ था और इसके करीब साल भर बाद इसका संपर्क टूट गया था. मंत्री ने कहा कि नासा द्वारा जुटाई गई जानकारी से इसरो को चंद्रयान - 1 से संपर्क स्थापित करने में मदद नहीं मिलेगी.


(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement