NDTV Khabar

PNB घोटाला: दिल्ली, मुंबई, सूरत के शो-रूम पर छापे, नीरव मोदी ने बैंक से मांगा 6 महीने का वक़्त

सरकारी बैंक पंजाब नेशनल बैंक में देश का बड़ा बैंकिंग घोटाला हुआ है. यह घोटाला करीब 11500 करोड़ का है. इस घोटाले में कारोबारी नीरव मोदी का नाम सामने आया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
PNB घोटाला: दिल्ली, मुंबई, सूरत के शो-रूम पर छापे, नीरव मोदी ने बैंक से मांगा 6 महीने का वक़्त

नीरव मोदी (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. यह घोटाला करीब 11500 करोड़ का है
  2. ईडी ने मुंबई के कालाघोड़ा इलाके में नीरव मोदी के शोरूम पर छापा मारा
  3. नीरव मोदी ने बैंक को चिट्ठी लिखकर पैसे चुकाने की बात कही है
मुंबई: सरकारी बैंक पंजाब नेशनल बैंक में देश का बड़ा बैंकिंग घोटाला हुआ है. यह घोटाला करीब 11500 करोड़ का है. इस घोटाले में कारोबारी नीरव मोदी का नाम सामने आया है. सूत्रों के हवाले से NDTV को ख़बर मिली है कि पीएनबी बैंक में 11500 करोड़ के घोटाले में नाम सामने आने के बाद नीरव मोदी ने पीएनबी बैंक को चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने पैसे चुकाने के लिए छह महीने का वक़्त मांगा है. प्रवर्तन निदेशालय ने गुरुवार को नीरव मोदी के  कुर्ला वेस्ट-मुंबई, कालाघोड़ा-मुंबई, बांद्रा ईस्ट- मुंबई, लोअर परेल- मुंबई, SEZ- सूरत, दिल्ली गेट- सूरत, चाणक्यपुरी- दिल्ली, डिफ़ेंस कॉलोनी- दिल्ली नौ ठिकानों पर छापे मारे हैं. 

रवीश कुमार का ब्‍लॉग: पंजाब नेशनल बैंक में 11,500 करोड़ का घोटाला

नीरव मोदी बैंक को चिट्ठी लिखकर  पैसे चुकाने की बात कही है. उन्‍होंने कहा है कि उनकी कंपनी FIRESTAR DIAMOND की कुल कीमत 6,435 करोड़ है और वह उससे बैंक का पैसा चुका देंगे. वहीं इस मामले में गुरुवार को प्रवर्तन निदेशालय की छापेमारी जारी है. ईडी ने नौ जगह छापेमारी कर रही है. आपको बता दें कि नीरव मोदी अभी देश से बाहर हैं.

PNB घोटाला: हीरा कारोबारी नीरव मोदी और कई आभूषण कंपनियां जांच के घेरे में

कैसे हुआ फ़्रॉड
डायमंड इंपोर्ट करने को लेटर ऑफ़ क्रेडिट के लिए पीएनबी से संपर्क किया गया. नीरव मोदी के लिए पीएनबी सप्लायर्स को भुगतान करता था. इसके बाद में नीरव मोदी से पैसे वसूले जाते थे. पीएनबी अधिकारियों ने जाली लेटर ऑफ़ अंडरटेकिंग जारी किए. भारतीय बैंक की विदेशी शखाओं ने डॉलर में लोन दिए और लोन का इस्तेमाल बैंक के नोस्ट्रो अकाउंट की फ़ंडिंग के लिए हुआ. एकाउंट्स से फ़ंड को विदेश में कुछ फ़र्मों को भेजा गया. नोस्ट्रो अकाउंट एक भारतीय बैंक का विदेशी बैंक में खाता है.

क्या है LoU?
LoU= लेटर ऑफ़ अंडरटेकिंग. यह एक तरह की बैंक गारंटी है और बैंक किसी ग्राहक की गारंटी देता है. LoU के आधार पर दूसरे बैंक पैसा देते हैं और खाताधारक के डिफ़ॉल्टर होने पर बैंक की ज़िम्मेदारी होती है. LoU देनेवाला बैंक दूसरे बैंक का बक़ाया चुकाएगा.

टिप्पणियां
इन बैंकों पर पड़ेगे असर 
इससे दो पब्लिक सेक्टर बैंक और एक प्राइवेट बैंक पर असर पड़ेगा. इसमें यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया, इलाहाबाद बैंक और एक्सिस बैंक पर असर पड़ेगा. इन तीनों बैंकों ने आरोपी को क्रेडिट की पेशकश की थी. पीएनबी के लेटर ऑफ़ अंडरटेकिंग के आधार पर पेशकश की. 

VIDEO: पीएनबी में देश का सबसे बड़ा बैंकिंग घोटाला

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement