NDTV Khabar

पीएनबी घोटाला : सीबीआई ने नीरव, मेहुल की कंपनियों के चार अधिकारियों को किया गिरफ्तार

अधिकारियों ने बताया कि एजेंसी ने नीरव मोदी समूह की कंपनियों के दो कर्मचारियों और एक ऑडिटर को गिरफ्तार किया जबकि चौकसी के स्वामित्व वाली गीतांजलि समूह की कंपनियों के एक निदेशक को भी हिरासत में लिया गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पीएनबी घोटाला : सीबीआई ने नीरव, मेहुल की कंपनियों के चार अधिकारियों को किया गिरफ्तार

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

नई दिल्‍ली:

सीबीआई ने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में अरबपति जौहरियों नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चौकसी द्वारा कथित रूप से की गई 12,636 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के सिलसिले में रविवार को चार व्यक्तियों को गिरफ्तार किया. अधिकारियों ने बताया कि एजेंसी ने नीरव मोदी समूह की कंपनियों के दो कर्मचारियों और एक ऑडिटर को गिरफ्तार किया जबकि चौकसी के स्वामित्व वाली गीतांजलि समूह की कंपनियों के एक निदेशक को भी हिरासत में लिया गया.

अधिकारियों ने बताया कि नीरव मोदी के स्वामित्व वाली फायरस्टार्टर इंटरनेशनल लिमिटेड के तत्कालीन एजीएम (ऑपरेशन) मनीष के बोसमिया और तत्कालीन वित्त प्रबंधक मितेन अनिल पंड्या को पंजाब नेशनल बैंक को फर्जी तरीके से लेटर्स आफ अंडरटेकिंग्स (एलओयू) के लिए जमा किये गए आवेदन तैयार करने में कथित भूमिका के लिए गिरफ्तार किया गया. उन्होंने बताया कि चार्टर्ड अकाउंटेंसी कंपनी सम्पत एंड मेहता, मुंबई में साझेदार ऑडिटर संजय रंभिया को भी गिरफ्तार किया गया.

सीबीआई ने मेहुल चौकसी की कंपनी गिली इंडिया के तत्कालीन निदेशक ए शिव रमण नायर को भी गिरफ्तार किया है. अधिकारियों ने कहा कि यह आरोप है कि गीतांजलि समूह की कंपनियों के निदेशकों में से एक होने के अलावा वह कथित एलओयू और फारेन लेटर्स आफ क्रेडिट (एफएलसी) जारी करने के लिए पीएनबी में जमा अर्जियों के लिए अधिकृत हस्ताक्षरकर्ता था.


टिप्पणियां

यह आरोप है कि चौकसी और नीरव मोदी ने फर्जी दावों के आधार पर भारतीय बैंकों की विदेशी शाखाओं के पक्ष में 12,636 करोड़ रुपये के एलओयू और एफएलसी जारी करा लिये. पीएनबी के आरोपी अधिकारियों ने जांच से बचने के लिए इन एलओयू और एफएलसी के लिए निर्देश अपने आंतरिक सॉफ्टवेयर में नहीं डाले. इन्हें बैंकिंग के लिए एक अंतरराष्ट्रीय मेसेजिंग प्रणाली के जरिये भेजा गया जिसे स्विफ्ट कहा जाता है. इसका इस्तेमाल बैंकों के बीच वैश्विक रूप से धनराशि अंतरण के लिए निर्देश जारी करने की खातिर किया जाता है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement