NDTV Khabar

पीएनबी घोटाला : वित्त मंत्री अरुण जेटली ने तोड़ी चुप्पी, बैंक प्रबंधन और ऑडिटर्स को ठहराया जिम्मेदार

मंगलवार देर शाम वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस मामले पर अपनी चुप्पी तोड़ी और इस घोटाले के लिए ऑडिटर्स और बैंक प्रबंधन को जिम्मेदार ठहराया. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पीएनबी घोटाला : वित्त मंत्री अरुण जेटली ने तोड़ी चुप्पी, बैंक प्रबंधन और ऑडिटर्स को ठहराया जिम्मेदार

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पीएनबी घोटाले पर तोड़ी चुप्पी.

नई दिल्ली: पंजाब नेशनल बैंक में हुए 11300 करोड़ रुपये के घोटाले पर पीएम नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री जेटली की चुप्पी पर विपक्ष लगातार हमलावर रहा है. इस मामले में अब तक न तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ बोला है और न ही वित्त मंत्री अरुण जेटली ने. हालांकि मंगलवार देर शाम वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस मामले पर अपनी चुप्पी तोड़ी और इस घोटाले के लिए ऑडिटर्स और बैंक प्रबंधन को जिम्मेदार ठहराया. 

यह भी पढ़ें : PNB घोटाला: यशवंत सिन्हा ने वित्त मंत्री अरुण जेटली से पूछे ये 10 सवाल

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि ऑडिटर्स और प्रबंधन की विफलता के कारण इतना बड़ा घोटाला हो गया. उन्होंने सवाल किया कि 6 साल की ऑडिट में यह घोटाला क्यों नहीं पकड़ा गया. उन्होंने कहा कि ऑडिट टीम से इस बारे में पूछताछ भी की जाएगी.

यह भी पढ़ें : अगर रघुराम राजन के आदेश का पंजाब नेशनल बैंक ने पालन किया होता तो इतना बड़ा घोटाला नहीं होता

वित्त मंत्री ने कहा कि ऑडिट करने वालों को अपने आप से पूछना चाहिए कि वे अनियमिताओं को क्यों नहीं पकड़ पाते. उन्होंने कहा कि बैंकों का प्रबंध तंत्र अपनी जिम्मेदारी पर खरा नहीं उतरा है, क्योंकि वे यह पता करने में विफल रहे हैं कि उनके बीच में वे कौन हैं जो गड़बड़ी करने वाले हैं. इसके साथ वित्त मंत्री ने इस बात पर भी जोड़ दिया कि निगरानी एजेंसियों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि छुटपुट मामलों को शुरू में ही पकड़ लिया जाना चाहिए और उनकी पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए.

यह भी पढ़ें : नीरव मोदी के नाम रवीश कुमार का खुला खत

वित्त मंत्री ने कहा कि निगरानी एजेंसियों को यह पता लगाने की जरूरत है कि अनियमिताओं को पकड़ने के लिए किस तरह की नयी प्रणालियों को अपनाया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि बैंकिंग प्रणाली के साथ धोखाधड़ी करने वालों बख्शा नहीं जाएगा और सरकार उसे पकड़कर ही रहेगी.

टिप्पणियां
VIDEO : पीएनबी घोटाले पर पीएम और वित्त मंत्री चुप क्‍यों हैं : राहुल गांधी


वित्त मंत्री ने कहा कि बैंकों के साथ घोटाला और धोखाधड़ी करने वालों पर सरकार सख्त कार्रवाई करेगी. वित्तमंत्री के मुताबिक निगरानी करने वाली एजेंसियों से भी चूक हुई है. उन्होंने अपना काम ठीक से नहीं किया है. उन्हें सुरक्षा का अतिरिक्त कवच बनाने के बारे में सोचना चाहिए.  गौरतलब है कि वित्त मंत्री से पहले रक्षा मंत्री भी मामले पर बयान दे चुकी हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement