NDTV Khabar

PNB घोटाला: न्यूयॉर्क में मौजूद नीरव मोदी की गिरफ्तारी के लिए CBI ने इंटरपोल से मदद मांगी

नीरव मोदी की गिरफ्तारी के लिए सीबीआई ने शुक्रवार को इंटरपोल से मदद मांगी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
PNB घोटाला: न्यूयॉर्क में मौजूद नीरव मोदी की गिरफ्तारी के लिए CBI ने इंटरपोल से मदद मांगी

नीरव मोदी (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. नीरव मोदी की गिरफ्तारी के लिए सीबीआई ने इंटरपोल की मदद मांगी.
  2. नीरव मोदी अभी न्यूयॉर्क में है.
  3. सीबीआई ने इंटरपोल से संपर्क साधा.
नई दिल्ली: पीएनबी घोटाला मामले के मुख्य आरोपी को पकड़ने के लिए सीबीआई ने कार्रवाई तेज कर दी है. नीरव मोदी की गिरफ्तारी के लिए सीबीआई ने शुक्रवार को इंटरपोल से मदद मांगी है. सीबीआई ने पंजाब नेशनल बैंक में महाघोटाले के आरोपी और कारोबारी नीरव मोदी की गिरफ्तारी के लिए इंटरपोल से संपर्क किया है. पीएनबी घोटाला मामले में नीरव मोदी और उसका कारोबारी सहयोगी मेहुल चौकसी पर 113000 करोड़ रुपये के घोटाले का आरोप है, जिसने फेक गांरटी का इस्तेमाल कर घपला किया है. इससे पहले विदेश मंत्रालय ने नीरव मोदी और उसके सहयोगी कारोबारी मेहुल चौकसी के पासपोर्ट को चार सप्ताह के लिए निलंबित कर दिया है.  मंत्रालय ने उनसे इस पर एक हफ्ते में जवाब मांगा है कि उनका पासपोर्ट रद्द क्यों नहीं किया जाए. 

यह भी पढ़ें - साढ़े 5 साल में पीएनबी के डूबे 28,500 करोड़ रुपये, RTI से मिली जानकारी

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, ‘ये लोग हमारे किसी भी अधिकारी के संपर्क में नहीं हैं और वे कहां हैं, इस बारे में हमें पता नहीं है.’ मगर एनडीटीवी को मिली जानकारी के मुताबिक, नीरव मोदी इस वक्त न्यूयॉर्क में हैं.  आगे रवीश कुमार ने कहा कि नीरव मोदी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आधिकारिक डावोस प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा नहीं थे और प्रधानमंत्री का व्यवसायियों के साथ समूह फोटोग्राफ महज ‘त्वरित’ कार्यक्रम था.

इससे पहले मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘अगर वे दिए गए समय में जवाब देने में विफल रहते हैं तो यह मान लिया जाएगा कि उनके पास कोई जवाब नहीं है और विदेश मंत्रालय (पासपोर्ट) रद्द करने पर आगे बढ़ेगा.’ पासपोर्ट को निलंबित करने का ऐलान करते हुए मंत्रालय ने कहा कि प्रवर्तन निदेशालय की सलाह पर विदेश मंत्रालय के तहत आने वाले पासपोर्ट कार्यालय ने शुक्रवार को नीरव दीपक मोदी और मेहुल चिनुभाई चोकसी का पासपोर्ट तत्काल प्रभाव से चार हफ्तों के लिए निलंबित कर दिया है. यह कार्रवाई पासपोर्ट अधिनियम की धारा 10 (ए) के तहत की गई है.

यह भी पढ़ें - PNB घोटाला : प्रवर्तन निदेशालय की छापेमारी जारी, नीरव मोदी और चौकसी को सम्मन जारी

इसमें कहा गया है कि पासपोर्ट अधिनियम 1967 की धारा 10 (3) (सी) के तहत उन्हें यह जवाब देने के लिए एक हफ्ते का वक्त दिया गया है कि उनका पासपोर्ट जब्त या रद्द क्यों नहीं किया जाए. बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय ने नीरव मोदी और उसके सहयोगी मेहुल चौकसी को सम्मन भी जारी किया है. 

टिप्पणियां
इससे पहले गुरुवार को प्रवर्तन निदेशालय ने नीरव मोदी और अन्य के ठिकानों पर छापेमारी कर करीब 5100 करोड़ रुपये के मूल्य की डायमंड, ज्वेलरी आदि सीज किया था. प्रवर्तन निदेशालय लगातार छापेमारी कर रही है. बताया जा रहा है कि छापेमारी की कार्रवाई तब तक चलती रहेगी, जब तक अधिक से अधिक संपत्तियां सीज नहीं हो जाती, जिससे बैंक के पैसे को कवर किया जा सके.

VIDEO: नीरव मोदी और मेहुल चौकसी का पासपोर्ट चार हफ्तों के लिए निलंबित : विदेश मंत्रालय


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement