मध्‍यप्रदेश: डीजल माफिया की दबंगई, पुलिस कांस्टेबल को ट्रैक्टर से कुचला, सोमवार को ही थी शादी की वर्षगांठ

पथरा गांव के पास चेकिंग के दौरान जब कांस्टेबल प्रबल प्रताप ने एक संदिग्ध ट्रैक्टर को रोकने की कोशिश की. उन्‍होंने ट्रैक्टर सवार से कागज़ात दिखाने को कहा, जो उसके पास नहीं थे. ऐसे में प्रबल प्रताप सिंह ने ड्राइवर से थाने चलने को कहा वे लेकिन लोग ट्रैक्टर लेकर भाग गए. प्रबल प्रताप ने पीछा किया तो आरोपियों ने उन्‍हें टक्कर मार दी.

मध्‍यप्रदेश: डीजल माफिया की दबंगई, पुलिस कांस्टेबल को ट्रैक्टर से कुचला, सोमवार को ही थी शादी की वर्षगांठ

प्रबल प्रताप सिंह वर्ष 2014 में रतलाम में पुलिस विभाग में भर्ती हुए थे (फाइल फोटो)

भोपाल:

मध्यप्रदेश के सतना (Madhya Predesh's Satna)में नयागांव थाने में पदस्थ पुलिस कांस्टेबल (Police Constable) प्रबल प्रताप सिंह की मौत के मामले में नया मोड़ आ गया है. रविवार दोपहर उनके मृत्यु की खबर आई तो ये माना गया कि ये सड़क हादसा है लेकिन जब पुलिस मौके पर पहुंची तो गांववालों ने बताया कि डीजल माफिया ने उनकी हत्या की है. जिले के चित्रकूट नयागांव थाना इलाके के पथरा गांव में डीजल की कालाबाजारी (ब्‍लैक मॉर्केटिंग) पकड़ने गए कांस्टेबल प्रबल प्रताप सिंह (Prabal Pratap Singh) की ट्रैक्टर से कुचलकर हत्या किए जाने की घटना के बाद कोहराम मच गया है. पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल मौके पर पहुंच गए हैं, मामले में दो लोगों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है. आरोपी फरार हैं. जिनकी तलाश की जा रही है. आरोपियों को पकड़ने के लिए 4 थानों की पुलिस टीम को लगाया गया है,, इस बीच पूरे राजकीय सम्मान के साथ शहीद कांस्टेबल को अंतिम विदाई दी गई. 

प्रबल प्रताप सिंह मूलतः उत्तर प्रदेश रायबरेली जिले के बन्ना मऊगांव के रहने वाले थे,, साल 2014 में रतलाम में पुलिस विभाग में भर्ती हुए थे. चित्रकूट के नयागांव थाना में पिछले 3 साल से तैनाती थी. सोमवार को ही प्रबल प्रताप की शादी की पहली सालगिरह थी.

पुलिस के मुताबिक, पथरा गांव के पास चेकिंग के दौरान जब कांस्टेबल प्रबल प्रताप ने एक संदिग्ध ट्रैक्टर को रोकने की कोशिश की. उन्‍होंने ट्रैक्टर सवार से कागज़ात दिखाने को कहा, जो उसके पास नहीं थे. ऐसे में प्रबल प्रताप सिंह ने ड्राइवर से थाने चलने को कहा वे लेकिन लोग ट्रैक्टर लेकर भाग गए. प्रबल प्रताप ने पीछा किया तो आरोपियों ने उन्‍हें टक्कर मार दी. फलस्‍वरूप टायर के नीचे दबने से प्रबल प्रताप सिंह की मौत हो गई. बताया जा रहा है कि इस दौरान ट्रॉली भी पलट गई इस कारण आरोपी ट्रॉली छोड़ ट्रैक्टर लेकर भाग निकले. सतना के पुलिस अधीक्षक रियाज़ इकबाल ने बताया कि मध्यप्रदेश-यूपी बॉर्डर में रहने वाले दोनों आरोपी फरार हैं जिनकी तलाश में चार टीमों का गठन किया गया है. इन आरोपियों के बारे में पहले भी इसी तरह की शिकायतें मिली थीं जिसकी पुष्टि की जा रही है. (सतना से ज्ञानशुक्ला के इनपुट के साथ)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com