NDTV Khabar

पुलिसकर्मी ने मांगी भीख मांगने की अनुमति, जानिए क्या है कारण...

पीड़ित कांस्टेबल ने विभाग के अलावा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को भी पत्र लिखा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पुलिसकर्मी ने मांगी भीख मांगने की अनुमति, जानिए क्या है कारण...

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली: मुंबई पुलिस के एक कांस्टेबल ने पिछले दो महीने से वेतन ना मिलने से परेशान होकर वर्दी पहनकर भीख मांगने की अनुमति मांगी है. कांस्टेबल ने अनुमति लेने के लिए बकायदा विभाग को पत्र भी लिखा है. कांस्टेबल ने पत्र में लिखा है कि वेतन ना मिलने की वजह से वह अपने परिवार का गुजर बसर कर पाने में असमर्थ है. पीड़ित कांस्टेबल ने विभाग के अलावा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को भी पत्र लिखा है. स्थानीय शस्त्र इकाई से संबद्ध अहीरराव ने पत्र में लिखा कि उसने 20 मार्च से 22 मार्च के बीच छुट्टी ली थी. लेकिन पत्नी का पैर टूटने के कारण वह छुट्टी खत्म होने पर काम के लिए नहीं पहुंचा.

यह भी पढ़ें: शादी के 5 महीने बाद ही दहेज के लिए पत्नी को जिंदा जलाया, मिली उम्रकैद

उद्धव ठाकरे के घर मातोश्री की सुरक्षा में लगे दल में तैनात अहीरराव ने दावा किया कि उसने अपने इकाई के प्रभारी को पांच दिन की आपात छुट्टी लेने की जानकारी दी थी और पत्नी के इलाज के बाद 28 मार्च को काम पर लौट आया. लेकिन इसके बाद उसका वेतन रोक दिया गया और इस संबंध में ज्यादा जानकारी नहीं दी गई. कांस्टेबल ने पत्र में लिखा कि मुझे अपनी बीमार पत्नी की देखभाल करनी होती है , बुजुर्ग माता - पिता और एक बेटी का गुजर बसर करना होता है.

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें: सुबह के नास्ते ने दिया सुरक्षा बलों को नक्सलियों का सुराग, मारे गए 39 नक्सली

इसके अलावा मुझे कर्ज की मासिक किश्त देनी होती है. लेकिन जब से वेतन रोका गया है , मैं इन खर्चों का वहन करने में असमर्थ हूं. इसलिए मैं आपसे वर्दी पहनकर भीख मांगने की मंजूरी चाहता हूं. अहीरराव से और जानकारी के लिए संपर्क नहीं किया जा सका. संपर्क किए जाने पर स्थानीय शस्त्र इकाई के पुलिस उपायुक्त वसंत जाधव ने कहा कि मामला प्रशासनिक विभाग के अधीन आता है. मैं इस पर टिप्पणी नहीं कर सकता. (इनपुट भाषा से)  


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement