NDTV Khabar

पथराव से निपटने के लिए सुरक्षाबलों को दी जा रही ट्रेनिंग- सीआरपीएफ महानिदेशक

घाटी में पथराव की घटनाओं से निपटने के लिए सुरक्षाबलों और पुलिस के जवानों को ट्रेनिंग दी जा रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पथराव से निपटने के लिए सुरक्षाबलों को दी जा रही ट्रेनिंग- सीआरपीएफ महानिदेशक

सरकार का कहना है कि पाकिस्तान घाटी के नौजवानों को भटकाकर पथराव की घटनाओं को अंजाम देता है

खास बातें

  1. घाटी में सुरक्षाबलों को करना पड़ता है पथराव का सामना
  2. पथराव से निपटने के लिए सेना को दी जा रही है ट्रेनिंग
  3. चरमपंथियों के खिलाफ सुरक्षाबल चला रहे हैं अभियान
जम्मू: सीआरपीएफ महानिदेशक आरआर भटनागर ने कहा कि पुलिस और सीआरपीएफ कर्मियों को मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के हिसाब से कश्मीर में पथराव की घटनाओं से निपटने के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है. इसके लिए नई रणनीति बनाई गई है और उन्हें प्रशिक्षण और नये एसओपी दिये गए हैं.

यह भी पढ़ें:  जम्मू कश्मीर : पथराव का फायदा उठाकर पुलवामा के मलंगपोरा में भाग गए आतंकी

उन्होंने कहा, ‘हम लोगों ने जम्मू-कश्मीर पुलिस के साथ मिलकर हमलों और पथराव की स्थिति से निपटने के लिए रणनीति तैयार की है और जल्द ही आप इसका प्रभाव देखेंगे. इसमें ऐसे हथियारों का इस्तेमाल शामिल है जो घातक नहीं हैं.’

यह भी पढ़ें:  कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षाबलों की आतंकियों से मुठभेड़, शरारती तत्वों ने किया पथराव

ड्यूटी के दौरान शहीद हुए अर्द्धसैनिक बल के जवानों की पत्नियों के लिए आयोजित कार्यक्रम के बाद संवाददाताओं से बातचीत में महानिदेशक ने यह बात कही. कश्मीर में चरमपंथ निरोधी अभियान के बारे में भटनागर ने कहा कि सुरक्षा बलों को सफलता मिल रही है.

टिप्पणियां
VIDEO: भीड़ और सुरक्षा बलों के बीच भिड़त उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर पुलिस, सेना और सीआरपीएफ के बीच अच्छा समन्वय है, जो इकाई के रूप में काम कर रही है और आगे भी अभियान जारी रहेंगे.

(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement