NDTV Khabar

11 साल की विदेशी बच्ची ने PM मोदी को खत लिखकर कहा- भारत को मिस कर रही हूं, मां के साथ आना चाहती हूं वापस

एलिजा की मां मार्ता एक पोलिश कलाकार और फोटोग्राफर हैं, जो भारत में बी2बी वीजा पर रह रहीं थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
11 साल की विदेशी बच्ची ने PM मोदी को खत लिखकर कहा- भारत को मिस कर रही हूं, मां के साथ आना चाहती हूं वापस

अपनी मां मार्ता कोटलार्स्का के साथ एलिजा

नई दिल्ली:

11 साल की पोलिश लड़की एलिजा वानात्को ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और विदेश मंत्री एस जयशंकर (S. Jaishankar) को पत्र लिखकर भारत लौटने में मदद करने की गुहार लगाई है. एलिजा को उनकी मां के वीजा में गड़बड़ियो के चलते ब्लैकलिस्ट कर दिया गया था. एलिजा ने अपने और अपनी मां के भारत वापस लौटने में मदद की मांग करते हुए लिखा, "मेरी मां 24 मार्च 2019 को भारत में फिर से प्रवेश नहीं कर सकीं, एक छोटी सी यात्रा के बाद और हमें ज्यादा दिनों तक रुकने के कारण ब्लैकलिस्ट कर दिया गया" एलिजा के इस पत्र तो उनकी मां मार्ता कोटलार्स्का ने शेयर किया है. 

एलिजा आगे लिखती हैं, "मैं अब अपनी मां के साथ हूं, लेकिन मुझे भारत में अपने जीवन की याद आती है. मैं भारत जानने वाली हर चीज से खुद को बहुत दूर महसूस करती हूं.' उन्होंने लिखा, ''भारतीय नहीं होने के बावजूद, वह इसे अपना घर कहती है. मुझे अपने स्कूल में पढ़ना है जो गोवा में है. मैं और मेरी मां भारत में वापस आकर अपनी पुरानी और खुशनुमा जिंदगी फिर से जीना चाहती है.'


एलिजा ने लिखा, 'ऐसा लगता है कि सब कुछ बस फिर से नष्ट हो गया है. मैं शिव और नंदादेवी से हमारी मदद करने की प्रार्थना करती हूं और मैंने आपको ये पत्र लिखने का फैसला किया है क्योंकि आप सबसे शक्तिशाली व्यक्ति हैं जो हमें भारत, मेरे घर वापस आने में मदद कर सकते हैं. कृपया हमारी मदद करें. और हमें इस ब्लैकलिस्ट से हटा दें, "

सुषमा स्वराज की राह पर विदेश मंत्री एस जयशंकर, ट्विटर पर महिला ने मांगी मदद तो कहा...

बता दें एलिजा की मां मार्ता एक पोलिश कलाकार और फोटोग्राफर हैं, जो भारत में बी2बी वीजा पर रह रहीं थी. उन्हें उत्तराखंड में विदेशी क्षेत्रीय पंजीकरण कार्यालय द्वारा ज्यादा दिनों तक किसी गलतफहमी की वजह ज्यादा दिनों तक रुकने के लिए ब्लैकलिस्ट कर दिया गया था.  वे भारतीय वीजा को रिन्यू कराने के लिए श्रीलंका गई थी, लेकिन भारतीय अधिकारियों द्वारा उन्हें वापस लौटने पर बेंगलुरू एयरपोर्ट से लौटा दिया गया. 

कौन हैं पीएम नरेंद्र मोदी की कैबिनेट में जगह पाने वाले एस. जयशंकर?

मार्ता ने ट्वीट पर बताया है कि वे भारत वापसी के संबंध ने भारतीय विदेश मंत्रालय को ईमेल लिखती रहीं हैं लेकिन उन्हें कोई जवाब नहीं मिला है. उन्होंने कहा कि उनकी बेटी 25 अप्रैल से स्कूल नहीं जा सकी है. उनके भारत लौटने की प्रक्रिया जल्द पूरी की जाए ताकि उनकी बेटी की पढ़ाई बर्बाद न हो. बता दें एलिजा 6 साल की उम्र में अपनी मां के साथ भारत आईं थी. गोवा के एक स्कूल में एलिजा का एडमिशन है. फिलहाल दोनों लोग कंबोडिया में है और भारत वापस आना चाह रहे हैं. 

टिप्पणियां

नई सरकार : बदलते समीकरण?​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement