NDTV Khabar

पोलिश महिला ने ट्वीट कर पीएम मोदी से फिर मांगी वीजा की इजाजत, लिखा- हम अपराधी नहीं

मार्ता कोटलार्स्का भारत वापसी के संबंध में भारतीय विदेश मंत्रालय को लगातार ईमेल लिखती रहीं हैं लेकिन उन्हें कोई जवाब नहीं मिला है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पोलिश महिला ने ट्वीट कर पीएम मोदी से फिर मांगी वीजा की इजाजत, लिखा- हम अपराधी नहीं

मार्ता कोटलार्स्का एक पोलिश कलाकार और फोटोग्राफर हैं, जो भारत में बी2बी वीजा पर रह रहीं थी.

नई दिल्ली:

वीजा में गड़बड़ियों के चलते विदेश मंत्रालय द्वारा भारत में प्रवेश से ब्लैकलिस्टेड कर दी गई पोलिश महिला और उसकी 11 साल की बच्ची ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से एक बार फिर भारत में रहने की इजाजत मांगी है. इससे पहले महिला मार्ता कोटलार्स्का  ने अपनी बेटी एलिजा के एक को पत्र को ट्विटर पर शेयर कर विदेश मंत्री एस. जयशंकर और पीएम मोदी से मदद की गुहार लगाई थी.  उनका कहना है कि उन्हें गोवा में रहने की इजाजत दी जाए ताकि उनकी बेटी अपनी पढ़ाई पूरी कर सके. मार्ता कोटलार्स्का इन दिनों कंबोडिया में रह रही हैं. वे बताती हैं कि उनकी बेटी अपने स्कूल को बहुत मिस करती है और वह लगातार रो रही है. 

सुषमा स्वराज की राह पर विदेश मंत्री एस जयशंकर, ट्विटर पर महिला ने मांगी मदद तो कहा...


कोटलार्स्का ने मंगलवार को प्रधानमंत्री कार्यालय, पीएम मोदी और अमित शाह को टैग करते हुए ट्वीट किया, कृपया हमारी मदद करें. हम अपराधी नहीं हैं, हमें भारत से कभी भी निर्वासित नहीं किया गया था. मेरे पिछले नियोक्ता की वजह से बनी दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति और हुए ओवर स्टे के लिए मैंने पैसे चुका दिए थे. इसके बाद हमें पोलैंड में भारतीय दूतावास ने हमें बिना किसी समस्या के नए वैध वीजा दिए थे.'

टिप्पणियां

11 साल की विदेशी बच्ची ने PM मोदी को खत लिखकर कहा- भारत को मिस कर रही हूं

मार्ता कोटलार्स्का भारत वापसी के संबंध में भारतीय विदेश मंत्रालय को लगातार ईमेल लिखती रहीं हैं लेकिन उन्हें कोई जवाब नहीं मिला है. वे एक पोलिश कलाकार और फोटोग्राफर हैं, जो भारत में बी2बी वीजा पर रह रहीं थी. उन्हें उत्तराखंड में विदेशी क्षेत्रीय पंजीकरण कार्यालय द्वारा ज्यादा दिनों तक किसी गलतफहमी की वजह ज्यादा दिनों तक रुकने के लिए ब्लैकलिस्ट कर दिया गया था.  वे भारतीय वीजा को रिन्यू कराने के लिए श्रीलंका गई थी, लेकिन भारतीय अधिकारियों द्वारा उन्हें वापस लौटने पर बेंगलुरू एयरपोर्ट से लौटा दिया गया था. वे अपनी बेटी एलिजा को 6 साल की उम्र में भारत लाईं थीं. गोवा के एक स्कूल में एलिजा का एडमिशन है. फिलहाल दोनों लोग कंबोडिया में है और भारत वापस आना चाह रहे हैं.  



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement