NDTV Khabar

राफेल डील पर राजनीतिक जंग तेज, जमकर आरोप-प्रत्यारोप

राफेल पर छिड़ी जंग के बीच रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन ने फ्रांस में राफेल के कारखाने का दौरा किया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राफेल डील पर राजनीतिक जंग तेज, जमकर आरोप-प्रत्यारोप

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी.

नई दिल्ली: राफेल डील पर राजनीतिक जंग तेज़ होती जा रही है. गुरूवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल डील पर पीएम मोदी पर गंभीर आरोप लगाए. शुक्रवार को बीजेपी ने पलटवार करते हुए कहा- राहुल गांधी के आरोप झूठे और बेबुनियाद हैं.

राफेल पर छिड़ी जंग के बीच रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन ने फ्रांस में राफेल के कारखाने का दौरा किया और रफाल की तकनीकी जानकारी ली.

इधर भारत में रफाल डील को लेकर राजनीतिक आरोपों का दौर तेज़ हो रहा है...शुक्रवार को रेल मंत्री पीयूष गोयल ने पलटवार करते हुए राहुल गांधी के उन आरोपों को झूठ करार दिया जिसमें उन्होंने पीएम मोदी पर भष्टाचार के आरोप लगाए थे.

पीयूष गोयल ने कहा. "Dassault के CEO ने कहा है कि offset को implement करने के लिए उन्होंने खुद ही इंडयिन पार्टनर चुना था. पीयूष गोयल ने आरोप लगाया कि यूपीए सरकार ने गांधी परिवार के एक करीबी के दबाव में राफेल डील कैंसिल की थी. गोयल ने आरोप लगाया कि राहुल गांधी fake news manufacture कर रहे हैं...और कहा कि झूठ सौ बार बोलने पर भी सच नहीं हो सकता है.

टिप्पणियां
कांग्रेस ने पलटवार करने में देरी नहीं की. कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने बीजेपी को चुनौती दी कि वो राहुल गांधी के सवालों का जवाब दें और मुद्दे को भटकाने की कोशिश ना करें. उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी कांग्रेस के  सवालों का जवाब देने से बचने की कोशिश कर रही है.

साफ है, राफेल पर राजनीतिक विवाद जल्दी खत्म होगा इसके आसार फिलहाल दिखाई नहीं देते. अगले विधान सभा चुनावों से पहले राहुल गांधी राफेल डील पर बार-बार सवाल उठाकर इसे एक राजनीतिक मुद्दा बनाने की कोशिश कर रहे हैं...जबकि बीजेपी राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए उनके आरोपों को झूठा और बेबुनियाद करार
दे रही है...अब देखना होगा कि विधान सभा चुनावों में ये कितना बड़ा मुद्दा बन पाया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement