NDTV Khabar

Poll of Exit Polls 2019: कांग्रेस को फिर झटका- महाराष्ट्र और हरियाणा में एक बार फिर बन सकती है BJP की सरकार

Poll of Exit Polls 2019: पोल ऑफ एग्जिट पोल्स के अनुसार हरियाणा (Haryana) और महाराष्ट्र (Maharashtra) में एक बार फिर बन सकती है BJP की सरकार. हालांकि चुनावी नतीजे 24 अक्टूबर को आएंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. हरियाणा-महाराष्ट्र में फिर बन सकती है BJP की सरकार
  2. NDTV ने जारी किया पोल ऑफ एग्जिट पोल्स
  3. महाराष्ट्र में बीजेपी को 211, हरियाणा में 64 सीटें मिलने का अनुमान
नई दिल्ली:

Poll of Exit Polls 2019: एग्जिट पोल (Exit Polls) में यह साफ हो गया है कि हरियाणा (Haryana) और महाराष्ट्र (Maharashtra) में एक बार फिर BJP की सरकार बनने जा रही है. NDTV खुद एग्जिट पोल जारी नहीं करता, लेकिन अलग-अलग न्यूज चैनलों की तरफ से जारी किए गए एग्जिट पोल्स (Exit Polls) को मिलाकर NDTV ने 'पोल ऑफ एग्जिट पोल्स' (Poll of Exit Polls) जारी किया. NDTV के Poll of Exit Polls के अनुसार हरियाणा (Haryana) और महाराष्ट्र (Maharashtra) में एक बार फिर बीजेपी (BJP) की सरकार बनती नजर आ रही है. महाराष्ट्र की बात करें तो BJP-शिवसेना गठबंधन को 211 सीटों के साथ स्पष्ट बहुमत मिलता दिख रहा है. वहीं, हरियाणा में बीजेपी 66 सीटों के साथ फिर से सरकार बनाती नजर आ रही है. कांग्रेस की बात करें तो महाराष्ट्र में कांग्रेस-NCP गठबंधन को 64 सीटें मिलती दिख रही है वहीं, हरियाणा में कांग्रेस को केवल 14 सीटों से संतोष करना पड़ा सकता है.

Poll of Exit Polls Maharashtra 2019: महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना को स्पष्ट बहुमत के आसार, कांग्रेस-एनसीपी का गठबंधन बेअसर


बता दें कि लगभग सभी एग्जिट पोल्स में महाराष्ट्र में BJP-शिवसेना स्पष्ट बहुमत हासिल करती हुई नजर आ रही हैं. इंडिया न्यूज और पोलस्टार्ट के एग्जिट पोल्स के अनुसार बीजेपी-शिवसेना गठबंधन (BJP-Shiv Sena Alliance) को 194-203 सीटें मिल सकती हैं. वहीं कांग्रेस और एनसीपी गठबंधन को 79-84 सीटें मिल सकती हैं. जबकि अन्य पार्टियों के खाते में 6-10 सीटें आ सकती हैं. दूसरी तरफ एबीपी न्यूज और सी-वोटर्स के सर्वे के अनुसार बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को 204 सीटें मिल सकती हैं. जबकि कांग्रेस-एनपी गठबंधन को 69 सीटें मिलने के आसार नजर आ रहे हैं. अन्य पार्टियों के खाते में 15 सीटें आ सकती हैं. टाइम्स नाउ के एग्जिट पोल्स के अनुसार बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को जबरदस्त जीत मिलेगी और उनके खाते में 230 सीटें मिल सकती हैं. जबकि कांग्रेस और एनसीपी गठबंधन को सिर्फ 48 सीटें मिलने का अनुमान जताया है. वहीं अन्य पार्टियों के खाते में 10 सीटें आ सकती हैं. 

महाराष्ट्र में न्यूज 18 लोकमत-आईपीएसओएस (News 18 Lokmat-Ipsos) ने बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को 243 सीटें मिलने का अनुमान जताया है. वहीं कांग्रेस-NCP को 41 सीटें मिलती दिख रही हैं. जबकि अन्य 4 सीटों पर सिमटते दिख रहें हैं. दूसरी तरफ टीवी9 भारतवर्ष-सिसेरो ने बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को 197 सीटें मिलने का अनुमान लगाया है, वहीं कांग्रेस-NCP को 75 सीटें मिलती दिख रही हैं. जबकि अन्य 16 सीटों पर सिमटते दिख रहें हैं. वहीं, रिपब्लिक टीवी-जन की बात ने बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को 216-230 सीटें मिलने का अनुमान लगाया है, वहीं कांग्रेस-NCP को 50-59 सीटें मिलती दिख रही हैं. जबकि अन्य 8-12 सीटों पर सिमटते दिख रहें हैं.

Haryana Election 2019: भाजपा MLA को EC से मिला नोटिस तो राहुल गांधी बोले - ये तो BJP के सबसे ईमानदार नेता हैं

उधर, इंडिया न्यूज और पोलस्टार्ट के सर्वे के अनुसार हरियाणा में BJP को 75-80 सीटें मिल सकती हैं. वहीं कांग्रेस के खाते में 9-12 सीटें जाने का अनुमान है. जबकि अन्य 1-3 सीटों पर सिमट सकती है. इसके अलावा एबीपी न्यूज और सी-वोटर्स के एग्जिट पोल के अनुसार BJP को 72 सीटें, कांग्रेस को 8 और अन्य पार्टियों के खाते में 10 सीटें जाने का अनुमान लगाया है. टाइम्स नाउ के एग्जिट पोल्स के अनुसार बीजेपी को 71 सीटें, कांग्रेस को 11 और अन्य पार्टियों 8 सीटें मिल सकती हैं. इसके अलावा सीएनएन न्यूज-18 और IPSOS के एग्जिट पोल के अनुसार हरियाणा में बीजेपी को 75, कांग्रेस को 10 और अन्य के खाते में 5 सीटें जा सकती हैं. इसके अलावा टीवी9 भारतवर्ष और सिसेरी के एग्जिट पोल के अनुसार बीजेपी को 69, कांग्रेस को 11 और अन्य के खाते में 9 सीटें जा सकती हैं. वहीं बात करें रिपब्लिक टीवी और जन की बात के एग्जिट पोल की, तो आपको बता दें कि 52-63, कांग्रेस 15-19 जबकि अन्य की खाते में 12 से 18 सीटें जाने का अनुमान जताया है. 

बता दें कि महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना (BJP-Shiv Sena Alliance) ने साथ मिलकर चुनाव लड़ा था. वहीं, कांग्रेस (Congress) ने शरद पवार (Sharad Pawar) की पार्टी NCP के साथ चुनाव से पहले गठबंधन किया था. महाराष्ट्र में विधानसभा की कुल 288 सीटें हैं और बहुमत का आंकड़ा 145 है. वहीं, हरियाणा में 90 सदस्यीय विधानसभा के लिए बहुमत का आंकड़ा 46 है.

o07g5328


बता दें कि दोनों राज्यों में बीजेपी (BJP) की सरकारें हैं और पिछले विधानसभा चुनावों में दोनों जगह कांग्रेस को मात देकर बीजेपी सत्ता में आई थी. ऐसे में जहां भारतीय जनता पार्टी (BJP) पिछले प्रदर्शन को दोहराने की उम्मीद में है. वहीं कांग्रेस खोई ज़मीन वापस लेने के लिए बेक़रार है. महाराष्ट्र में BJP 150 सीटों पर किस्मत आजमा रही है, वहीं, शिवसेना ने गठबंधन समझौते के तहत 124 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं. इसके अलावा बाकी सीटों पर गठबंधन की पार्टियों ने चुनाव लड़ा है. वहीं, कांग्रेस (Congress) 146 और एनसीपी (NCP) 117 सीटों पर चुनाव लड़ रही है. वर्तमान विधानसभा में बीजेपी और शिवसेना को मिलाकर 217 सीटें हैं, वहीं, कांग्रेस-NCP गठबंधन के पास 56 सीटें हैं.

Haryana Election 2019: सीएम खट्टर साइकिल से तो दुष्यंत चौटाला ट्रैक्टर से पहुंचे वोट डालने, देखें VIDEO

खट्टर का 75 से अधिक सीटें जीतने का दावा
दूसरी तरफ 90 सीटों वाली हरियाणा विधानसभा (Haryana Assembly Elections) के लिए बीजेपी का मुकाबला कांग्रेस और इंडियन नेशनल लोकदल (INLD) से है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने 75 से 90 सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है. पिछले चुनाव में बीजेपी ने यहां 48 सीटें जीतीं थीं, वहीं कांग्रेस के खाते में 17 सीटें आईं थीं. ओम प्रकाश चौटाला की पार्टी इंडियन नेशनल लोकदल (INLD) ने 81 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतार हैं. चुनाव में दुष्यंत चौटाला की पार्टी जननायक जनता पार्टी (JJP) भी पूरा ज़ोर लगा रही है.

महाराष्ट्र में तीन हजार से अधिक उम्मीदवार मैदान में
महाराष्ट्र की 288 विधानसभा सीटों के लिए 235 महिलाओं समेत 3,237 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. मतदान के लिए 96,661 मतदान केंद्र बनाए गए, जिनपर साढ़े छह लाख कर्मचारी तैनात किए गए. उधर, हरियाणा में 1.83 करोड़ से अधिक मतदाता हैं, जिसमें 85 लाख महिलाएं और 252 ट्रांसजेंडर मतदाता शामिल हैं. राज्य में 19,578 मतदान केंद्र बनाए गए. महाराष्ट्र में राज्य पुलिस और केंद्रीय बलों के तीन लाख से अधिक कर्मियों की तैनाती करके सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए, जबकि हरियाणा में 75,000 से अधिक सुरक्षाकर्मी लगाए गए. मतगणना 24 अक्टूबर को होगी.

इन मुद्दों पर लड़ा गया चुनाव
भाजपा द्वारा किए गए चुनाव प्रचार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के नेतृत्व में उनके कैबिनेट सहयोगियों अमित शाह (Amit Shah) और राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) सहित अन्य नेताओं ने हिस्सा लिया. भाजपा नेताओं ने चुनाव प्रचार के दौरान विशेष रूप से जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) को विशेष दर्जा प्रदान करने वाले अनुच्छेद 370 (Article 370) के प्रावधानों को समाप्त करने के मुद्दे पर ध्यान केंद्रित करते हुए राष्ट्रवाद के मुद्दे को उठाया और विपक्ष को राष्ट्रीय सुरक्षा और भ्रष्टाचार को लेकर निशाना बनाया.

BJP विधायक के EVM पर दिए बयान के बाद चुनाव आयोग की तरफ से आया यह Reaction

अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर घेरने का प्रयास
विपक्ष ने केंद्र और राज्यों में भाजपा की सरकारों को अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर घेरने का प्रयास किया. कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने आर्थिक सुस्ती और बेरोजगारी के लिए सत्तारूढ़ दल को दोषी ठहराया और नोटबंदी की 'विफलता' और जीएसटी (GST) जैसे मुद्दों को रेखांकित करने का प्रयास किया. अप्रैल-मई में हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा-शिवसेना गठबंधन (BJP-Shiv Sena Alliance) ने महाराष्ट्र की 48 लोकसभा सीटों में से 41 सीटें जीती थीं, जबकि कांग्रेस ने एक और NCP ने चार सीटों पर जीत  दर्ज की थी.

चुनाव से एक दिन पहले BJP विधायक का VIDEO वायरल- वोट कहीं भी डालोगे जाएगा 'कमल' को, 'हमने मशीन में...'

इन दिग्गजों की किस्मत EVM में कैद
महाराष्ट्र में चुनाव मैदान में प्रमुख उम्मीदवारों में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण शामिल हैं. वहीं कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण सतारा जिले के कराद दक्षिण से चुनाव मैदान में हैं. उद्धव ठाकरे के पुत्र एवं युवा सेना प्रमुख आदित्य ठाकरे मुंबई के वर्ली से चुनाव लड़ रहे हैं. ठाकरे परिवार से चुनावी राजनीति में कदम रखने वाले 29 वर्षीय आदित्य पहले व्यक्ति हैं. वहीं, हरियाणा में चुनाव लड़ रहे प्रमुख उम्मीदवारों में मनोहर लाल खट्टर (करनाल), पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस विधायक दल के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा (गढ़ी सांपला किलोई), रणदीप सिंह सुरजेवाला (कैथल), किरण चौधरी (तोशाम) और कुलदीप विश्नोई (आदमपुर) और जजपा के दुष्यंत चौटाला (उचना कलां) शामिल हैं. 

Haryana Assembly Election: बाबा जेल में पर राम रहीम के डेरे पर अब भी माथा टेक रहे नेता

टिप्पणियां

भाजपा ने तीन खिलाड़ियों को भी दिया टिकट
भाजपा ने तीन खिलाड़ियों को भी मैदान में उतारा हैं, जिसमें बबीता फोगाट (दादरी), योगेश्वर दत्त (सोनीपत में बरोडा) और संदीप सिंह (पेहोवा) शामिल हैं. वहीं भाजपा ने टिक टॉक स्टार सोनाली फोगाट को (आदमपुर) से चुनाव मैदान में उतारा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य में सात रैलियों को संबोधित किया, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने दो चुनावी रैलियों को संबोधित किया.

VIDEO:  साइकिल चलाकर वोट डालने पहुंचे सीएम मनोहर लाल खट्टर



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement