NDTV Khabar

प्रद्युम्न हत्याकांड: आरोपी छात्र के परिवार ने कहा- बच्चा पढ़ने में अच्छा है तो परीक्षा कैंसिल करवाने के लिए क्यों करेगा हत्या ?

गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशल स्‍कूल के प्रद्युम्‍न हत्याकांड मामले में सीबीआई ने 11वीं क्लास के जिस बच्चे को आरोपी बनाया है, उसके परिवार का कहना है कि बच्चा जब पढ़ने में अच्छा है तो पीटीएम रद्द करवाने के लिए वो क्यों हत्या करेगा?

5 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रद्युम्न हत्याकांड: आरोपी छात्र के परिवार ने कहा- बच्चा पढ़ने में अच्छा है तो परीक्षा कैंसिल करवाने के लिए क्यों करेगा हत्या ?

प्रद्युम्न ( फाइल फोटो)

खास बातें

  1. आरोपी बच्चे के परिवार ने सीबीआई के दावे को गलत ठहराया.
  2. आरोपी बच्चे के परिवार ने सीबीआई के दावे को गलत ठहराया.
  3. एक स्कूल, एक हत्या लेकिन दो एजेंसियां और दो आरोपी.
गुरुग्राम: गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशल स्‍कूल के प्रद्युम्‍न हत्याकांड मामले में सीबीआई ने 11वीं क्लास के जिस बच्चे को आरोपी बनाया है, उसके परिवार का कहना है कि बच्चा जब पढ़ने में अच्छा है तो पीटीएम रद्द करवाने के लिए वो क्यों हत्या करेगा? आरोपी बच्चे के परिवार का कहना है कि स्कूल के सर्टिफिकेट में उसे जब स्वीट और एक्सीलेंट बताया गया है, तब सीबीआई ये कैसे दावा कर रही है कि बच्चा दिमागी तौर पर कमजोर था और उसने पीटीएम को कैंसिल करवाने के लिए प्रद्युम्‍न की हत्या को अंजाम दिया है. बता दें कि हत्या के आरोपी छात्र के दोस्तों का भी इसी तरह का दावा है.

आरोपी छात्र के चाचा का दावा है कि सारे सर्टिफिकेट और मार्कशीट पर कहीं नहीं लिखा है कि वो बदमाश था या वो पढ़ाई में कमजोर था. उसके दोस्त बताते हैं कि जिस दिन प्रद्युम्‍न की हत्या हुई उस दिन परीक्षा थी. वो थोड़ा देर से क्लास में पहुंचा था लेकिन पूरी परीक्षा दी थी. प्रद्युम्‍न हत्याकांड में कंडक्टर को मुख्य आरोपी ठहराने वाली गुरुग्रमा पुलिस ने दावा किया कि जांच चल रही थी, इसी के चलते उन्होंने कभी कंडक्टर को मुख्य आरोपी नहीं बताया. लेकिन गुरुग्राम पुलिस इन सवालों का जवाब देने से बच रही है कि जब आरोपी बच्चा सीसीटीवी में दिखा तो गुरुग्राम पुलिस ने उसे गवाह क्यों बनाया था ? कत्ल में इस्तेमाल की गई चाकू की फॉरेंसिक रिपोर्ट आने का इंतजार क्यों नहीं किया गया. सीसीटीवी के फुटेज जब धुंधले थे तो उसका साइंटिफिक एनालिसिस क्यों नहीं हुआ ?

यह भी पढ़ें - प्रद्युम्न हत्याकांड मामले में नया मोड़, सीबीआई ने 11वीं के छात्र को लिया हिरासत में : CBI

जाहिरतौर पर मीडिया का दबाव और केस को हल करने की जल्दबाजी में कई तथ्यों की पुलिस ने अनदेखी की. प्रद्युम्‍न हत्याकांड में दो अलग-अलग जांच एजेंसियों की अलग-अलग थ्योरी ने केस को सुलझाने के बजाए उलझा दिया है. एक स्कूल, एक हत्या लेकिन दो एजेंसियां और दो आरोपी. गुरुग्राम पुलिस ने दावा किया था कि हत्या में इस्तेमाल चाकू आगरा से खरीदा गया था. सीबीआई का कहना है कि छात्र लेकर आया था. लेकिन हत्या के पीछे का मकसद और हत्या के आरोपी परिवार के दावों का सीबीआई अदालत में क्या जवाब देगी, इस पर जरूर लोगों की निगाहें टिकी होंगी.

बता दें कि बुधवार को सीबीआई ने अपनी जांच में 11वीं कक्षा के छात्र को प्रद्युम्न मर्डर केस का मुख्य आरोपी माना था. इसके लिए आरोपी छात्र को तीन दिन की रिमांड पर भेज दिया गया. सीबीआई की जांच के बाद प्रद्यु्म्न के पिता वरुण ठाकुर ने सीबीआई से संतुष्टि जताई थी और कहा था कि उन्हें उम्मीद है कि उन्हें अब न्याय मिलेगा. 

​यह भी पढ़ें - प्रद्युम्न हत्याकांड: सीबीआई का दावा- आरोपी छात्र ने कबूला, उसने ही की थी हत्‍या

टिप्पणियां
क्या है मामला ?
स्कूल के टॉयलेट में दूसरी कक्षा के प्रद्युम्न ठाकुर की गला काटकर हत्या कर दी गई थी. इस कांड के सिलसिले में बस कंडक्टर अशोक कुमार को गिरफ्तार किया गया है और बाद में रेयान इंटरस्कूल के ट्रस्टियों को भी गिरफ्तार कर लिया गया था. 

VIDEO - आरोपी छात्र से सीबीआई कर रही है पूछताछ
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement