NDTV Khabar

प्रद्युम्न हत्याकांड : सीबीआई ने खारिज की हरियाणा पुलिस की दलील, आखिर सच्चाई क्या है - एक पड़ताल

रेयान इंटरनेशलन स्कूल के प्रद्युम्न हत्याकांड मामले में सीबीआई ने 11वीं के कक्षा के एक स्टूडेंट को आरोपी बनाया है.

240 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रद्युम्न हत्याकांड : सीबीआई ने खारिज की हरियाणा पुलिस की दलील, आखिर सच्चाई क्या है - एक पड़ताल

प्रद्युम्न ( फाइल फोटो)

खास बातें

  1. सीबीआई ने खारिज की हरियाणा पुलिस की दलील.
  2. सीबीआई की थ्योरी में भी चूक की गुंजाइश.
  3. एनडीटीवी के क्राइम रिपोर्टर की पड़ताल
नई दिल्ली: रेयान इंटरनेशलन स्कूल के प्रद्युम्न हत्याकांड मामले में सीबीआई ने 11वीं के कक्षा के एक स्टूडेंट को आरोपी बनाया है. सीबीआई की जांच में ये बात स्पष्ट हो चुका है कि प्रद्युम्न की मर्डर में बस कंडक्टर अशोक का हाथ नहीं है, बल्कि इसके पीछे 11वीं कक्षा के छात्र का हाथ है. प्रदुयम्न केस का हाल कहीं, आरुषि केस की तरह न हो जाए. क्योंकि इस केस में भी हरियाणा पुलिस और  सीबीआई की थ्योरी में कई चूक नजर आ रही है. इस बावत हमने इसकी पड़ताल करने की कोशिश की और एक कांस्पीरेसी थ्योरी बनाया कि आखिर हकीकत में क्या हुआ होगा? तो इसके लिए सबसे पहले जानते हैं कि किसने क्या-क्या कहा...

हरियाणा पुलिस ने क्या कहा- 
- सीसीटीवी में बाथरूम के बाहर कंडक्टर दिख रहा था.
-  कंडक्टर अपना हाथ-मुंह वॉश बेसिन में साफ कर रहा था.
- कंडक्टर के कपड़ों पर खून के निशान मिले. 
- कंडक्टर ने कबूला कि उसने कत्ल किया है.
- कंडक्टर बस की किट में चाकू रखता था.
- कंडक्टर को गलत हरकत करते प्रद्मुम्न ने देखा.
- कंडक्टर का मकसद बच्चे का यौन शोषण करना था.

यह भी पढ़ें -  प्रद्युम्न हत्याकांड : पीड़ित के पिता ने कहा, उम्मीद है सीबीआई पूरा सच सामने लाएगी, आरोपी छात्र 3 दिन की रिमांड पर​

सीबीआई ने क्या कहा- 
- सीसीटीवी फुटेज में आरोपी छात्र दिख रहा है.
- आरोपी ने क्लास के साथियों से कहा कल से स्कूल बंद.
- आरोपी छात्र ने दोस्तों से कहा था कि परीक्षा टल जाएगी.
- टीचर, दोस्तों ने उसे चाकू ले जाते हुए देखा.
- आरोपी छात्र चाहता था कि PTM और परीक्षा रद्द हो जाए.
 
एनडीटीवी के क्राइम रिपोर्टर की पड़ताल कहती है कि अगर कंडक्टर को यौन शोषण करना था तो उस बाथरूम का इस्तेमाल कैसे करता, जहां वो फंस सकता था. कंडक्टर भी तो जानता था कि बाहर कैमरे लगे हुए हैं. 

यह भी पढ़ें -  एग्जाम टालने के लिए 11वीं के छात्र ने मार दिया प्रद्युम्न को, यौन शोषण का मामला नहीं : सीबीआई

क्राइम रिपोर्टर की पड़ताल
- क्या कोई 11वीं का छात्र सिर्फ़ स्कूल बंद करवाने के लिए किसी का क़त्ल कर सकता है ?
- यह कोई आवेश में आकर किया गया क़त्ल नहीं है.
- आरोपी की प्रद्मुम्न के साथ या उसके परिवार के साथ कोई दुश्मनी नहीं थी.
- ऐसी मानसिकता वाले छात्र के बारे में स्कूल को कोई जानकारी नहीं थी.
 
क्राइम रिपोर्टर की थ्योरी
-  हो सकता है क़त्ल 11वीं के आरोपी ने किया हो, जिसकी उम्र 16 साल से ज़्यादा है.
- लेकिन बड़ा सवाल कि उसके कपड़े पर ख़ून के निशान क्यों नहीं ?
- हरियाणा पुलिस को आरोपी लड़का सीसीटीवी में क्यों नहीं दिखा ?
- क्या स्कूल ने पूरी सीसीटीवी फुटेज पुलिस को दी थी ?
- हो सकता है इस घटना में तुंरत बाद स्कूल प्रशासन हरकत में आया हो.
- स्कूल प्रशासन ने कंडक्टर को बाथरूम के पास बुलाया ?
- कहीं कंडक्टर से कहा तो नहीं गया कि ख़ून के निशान साफ़ कर दो ?
- कहीं इसी दौरान उसके शर्ट में ख़ून के निशान लग गए हों ?
- बाथरूम के बाहर वो हाथ-मुंह धो रहा था.
- कोई आरोपी हत्या के बाद बाथरूम के बाहर हाथ-मुंह क्यों धोएगा ?
- आमतौर पर आरोपी हत्या के बाद फ़रार होता है.

हमारी इस थ्योरी का जवाब स्कूल प्रशासन को देना चाहिए. अगर इतने बडे स्कूल समूह की इज्जत दांव पर लगी हो तो वो भी डैमेज कंट्रोल करने की कोशिश करेगा. क्योंकि जिस स्कूल में बच्चे की हत्या हो जाए, वहां कौन अपने बच्चे को पढाएगा. मतलब साफ है कि हरियाणा पुलिस किसके दवाब में थी, जैसा कि प्रद्युम्न के पिता और वकील ने मांग की है कि स्कूल के मालिकों से भी पूछताछ होनी चाहिए.  

VIDEO - सीबीआई से प्रद्युम्न के पिता को उम्मीद



बता दें कि दक्षिण दिल्ली के रेयान स्कूल में एक बच्चे की स्विमिंग पूल में मौत हो गई थी. अब सारा कुछ सीबीआई और अदालत पर निर्भर करता है कि सच्चाई सामने आए, वरना यह भी एक और एक मडर मिस्ट्री केस आरूषी केस बन कर रह जाएगा. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement