ब्रेन सर्जरी के बाद वेंटिलेटर पर हैं पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, हालत नाजुक  

Pranab Mukherjee Health: पूर्व राष्ट्रपति ने कल अपने ट्वीट में कहा, "वह एक अलग प्रक्रिया के तहत अस्पताल आए हैं और उनका कोरोना टेस्ट पॉज़िटिव आया है.

ब्रेन सर्जरी के बाद वेंटिलेटर पर हैं पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, हालत नाजुक  

Pranab Mukherjee Brain surgery: प्रणब मुखर्जी की हालत नाजुक (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) की हालत ब्रेन सर्जरी के बाद गंभीर है. उनके मस्तिष्क में एक थक्का (Clot) था, जिसे निकालने के लिए मुखर्जी का ऑपरेशन किया गया है. आज दोपहर को अस्पताल के मेडिकल बुलेटिन में यह बात कही गई. बता दें कि प्रणब मुखर्जी कोरोना वायरस (coronavirus) से भी संक्रमित पाए गए हैं. 84 वर्षीय प्रणब मुखर्जी दिल्ली में आर्मी हॉस्पिटल रिसर्च एंड रेफरल में वेंटिलेटर (Ventilator Support) पर हैं. 

अस्पताल की ओर आज जारी बुलेटिन में कहा गया, "भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को 10 अगस्त को 12 बजकर 07 मिनट पर दिल्ली कैंट स्थित आर्मी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. अस्पताल में जांच करने पर उनके दिमाग में एक क्लॉट होने की जानकारी मिली, जिसके लिए उनकी सर्जरी की गई है. सर्जरी के बाद उनकी हालत गंभीर बनी हुई है और वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं." 

पूर्व राष्ट्रपति ने कल अपने ट्वीट में कहा, "वह एक अलग प्रक्रिया के तहत अस्पताल आए हैं और उनका कोरोना टेस्ट पॉज़िटिव आया है. उन्होंने पिछले हफ्ते में उनके संपर्क में आए लोगों से खुद को आइसोलेट करने और COVID-19 टेस्ट करने का आग्रह किया." मुखर्जी 2012 से 2017 तक देश के राष्ट्रपति रहे हैं. 


प्रणब मुखर्जी के कोरोना संक्रमित पाए जाने बाद विभिन्न पार्टियों के नेताओं ने उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना की है. बीजेपी के प्रवक्ता गोपाल कृष्ण अग्रवाल ने आज लिखा, "पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं. पूरा देश आपके बेहतर स्वास्थ्य और दीर्घायु के लिए प्रार्थना कर रहा है." 

वीडियो: सहमति और असहमति लोकतंत्र के मूल तत्व : प्रणब मुखर्जी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com