बेटी शर्मिष्ठा की नाराजगी के बीच RSS मुख्यालय में संबोधित करेंगे प्रणब मुखर्जी, ये है पूरा कार्यक्रम

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी आज आयोजित होने वाले आरएसएस यानी राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ के एक कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए संघ के मुख्यालय नागपुर पहुंच गये हैं.

बेटी शर्मिष्ठा की नाराजगी के बीच RSS मुख्यालय में संबोधित करेंगे प्रणब मुखर्जी, ये है पूरा कार्यक्रम

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (फाइल फोटो)

खास बातें

  • आज संघ के कार्यक्रम को संबोधित करेंगे पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी.
  • प्रणब के जाने से बेटी शर्मिष्ठा हैं नाराज.
  • प्रणब मुखर्जी कार्यक्रम के लिए नागपुर पहुंच चुके हैं.
नई दिल्ली:

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी आज आयोजित होने वाले आरएसएस यानी राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ के एक कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए संघ के मुख्यालय नागपुर पहुंच गये हैं. जब से पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने आरएसएस के कार्यक्रम के में शामिल होने के लिए अपनी हामी भरी है, तभी से इस कार्यक्रम पर सबकी नजरें बनी हुई हैं. कार्यक्रम में शामिल होने के लिए हामी भरने के बाद से ही यह चर्चा और विवाद के केन्द्र में है. कांग्रेस के नेता के तौर पर आरएसएस की लगातार आलोचना करने वाले मुखर्जी संघ के मुख्यालय में आयोजित होने वाले ‘ संघ शिक्षा वर्ग ’ के समापन समारोह में हिस्सा लेंगे. इस कार्यक्रम में शामिल होने के निमंत्रण पर मुखर्जी की सहमति के बाद से ही कई कांग्रेस नेता उनसे ‘धर्मनिरपेक्षता के हित में ’ इसमें शिरकत नहीं करने का आग्रह कर चुके हैं. हालांकि, कांग्रेस नेता व्यक्तिगत तौर पर प्रणब  मुखर्जी के कार्यक्रम में शामिल होने की आलोचना कर चुके हैं, मगर कांग्रेस पार्टी ने अभी तक आधिकारिक तौर पर उन्हें कार्यक्रम में जाने से मना नहीं किया है. 

प्रणब मुखर्जी को बेटी शर्मिष्ठा की नसीहत, 'भाषण को भुला दिया जाएगा, तस्वीरें हमेशा याद रहेंगी'

प्रणब मुखर्जी का कार्यक्रम: 

  • शाम 5.30 बजे नागपुर के रेशिमबाग़ संघ मुख्यालय में आगमन, जहां आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत उनका स्वागत करेंगे.
  • 15 मिनट तक मोहन भागवत, भैयाजी जोशी के साथ चाय पीने का कार्यक्रम. उसके बाद संघ के प्रमुख पदाधिकारियों का प्रणब मुखर्जी से परिचय कराया जाएगा.
  • उसके बाद संघ के संस्थापक हेडगेवार के स्मृति स्थल पर प्रणब मुखर्जी भेंट देंगे और उनकी प्रतिमा पर पुष्प हार अर्पण करेंगे.
  • शाम 6.15 बजे कार्यक्रम स्थल पर पहुंचेंगे. जहां वह संघ शिक्षा वर्ग में हिस्सा लेने पहुंचे स्वयंसेवकों का एक प्रातेकशीत होगा. जिसके बाद महानगर संघ चालक का प्रस्तावित भाषण.
  • 6.35 बजे प्रणब मुखर्जी अपना भाषण देंगे. यह भाषण करीब २० मिनट का होगा. 
  • आख़िर में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत स्वयंसेवकों को संबोधित करेंगे.

इतना ही नहीं, पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के आरएसएस के कार्यक्रम में शामिल होने को लेकर कई कांग्रेस नेताओं के बयान के बाद अब उनके परिजन ने ही इस पर सवाल उठा दिये हैं. प्रणब मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि उनके पिता नागपुर जाकर ‘भाजपा एवं आरएसएस को फर्जी खबरें गढ़ने और अफवाहें फैलाने’ की सुविधा मुहैया करा रहे हैं. उन्होंने कहा कि उनके ‘भाषण तो भुला दिए जाएंगे, लेकिन तस्वीरें (विजुअल्स) रह जाएंगी.’ 

प्रणब मुखर्जी का RSS का निमंत्रण स्वीकारना बिल्कुल गलत नहीं : शिंदे

शर्मिष्ठा ने भाजपा में अपने शामिल होने की अटकलों को भी सिरे से खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि वह कांग्रेस छोड़ने की बजाय राजनीति छोड़ना पसंद करेंगी. दिल्ली कांग्रेस की मुख्य प्रवक्ता शर्मिष्ठा ने अपने पिता को सचेत भी किया कि वह आज की घटना से समझ गए होंगे कि भाजपा का दुष्प्रचार (डर्टी ट्रिक्स) विभाग किस तरह से काम करता है.    

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने कहा, 'यहां तक कि आरएसएस कभी यह कल्पना भी नहीं करेगा कि आप अपने भाषण में उनके विचारों का समर्थन करेगे. लेकिन भाषण को भुला दिया जाएगा और तस्वीरें रह जाएंगी तथा इनको फर्जी बयानों के साथ फैलाया जाएगा.' उन्होंने कहा, 'आप नागपुर जाकर भाजपा/आरएसएस को फर्जी खबरें गढ़ने, अफवाहें फैलाने और इनको किसी न किसी तरह विश्वसनीय बनाने की सुविधा मुहैया करा रहे हैं और यह तो सिर्फ शुरुआत भर है.'

VIDEO: आरएसएस के कार्यक्रम में हिस्‍सा लेंगे प्रणब मुखर्जी