प्रशांत किशोर का नीतीश कुमार पर तंज, पूछा- क्या गरीब लोगों से भाड़ा लेने का सुझाव भी आपका ही है?

सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि वह केंद्र सरकार को धन्यवाद देते हैं कि दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी बिहारियों को लाने के लिए स्पेशल ट्रेन चलाने का विचार किया है.

प्रशांत किशोर का नीतीश कुमार पर तंज, पूछा- क्या गरीब लोगों से भाड़ा लेने का सुझाव भी आपका ही है?

प्रशांत किशोर (फाइल फोटो)

नई दिल्ली :

देश भर में बढ़ते कोरोना वायरस के संक्रमण के बीच मजदूरों को लेकर राजनीति तेज होती जा रही है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के द्वारा सोमवार को ऐलान किया गया कि देशभर में फंसे मजदूरों के घर वापस जाने के लिए रेलयात्रा का खर्च कांग्रेस पार्टी उठाएगी. जिसके बाद बिहार में विपक्ष के नेता और तेजस्वी यादव ने भी राजद की तरफ से 50 ट्रेनों का किराया देने की बात कही गयी. अब नीतीश कुमार के सहयोगी रह चुके प्रशांत किशोर ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोला है. उन्होंने ट्वीट कर सवाल पूछा है कि क्या क्या गरीब लोगों से भाड़ा लेने का सुझाव भी आपका ही है?

अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है "देश के कई हिस्सों में फंसे हुए बिहार के लोगों के लिए कुछ नहीं करने वाले नीतीश कुमार अब कह रहे हैं कि केंद्र ने उनके सुझाव पर लोगों के लिए Trains शुरू की है! सर, आपने ये सुझाव कब दिया और इसको मानने में इतनी देरी क्यों हुई? क्या गरीब लोगों से भाड़ा लेने का सुझाव भी आपका ही है?

गौरतलब है कि बिहार सरकार ने सभी प्रवासियों को टिकट के अलावा उनको पांच सौ रुपये भी देने की घोषणा की है. सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि वह केंद्र सरकार को धन्यवाद देते हैं कि दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी बिहारियों को लाने के लिए स्पेशल ट्रेन चलाने का विचार किया है. सीएम नीतीश ने कहा कि किसी भी को टिकट के लिए पैसा देने की जरूरत नहीं है. इन लोगों के लिए क्वारंटाइन सेंटर तैयार कर लिया गया है.

इसमें हर प्रकार की सुविधा उपलब्ध कराई गई  सभी को यहां पर 21 दिन रहना होगा. इसके बाद आने जाने के खर्च के अलावा 500 रुपये की मदद की जाएगी. यानी कम से कम 1 हजार रुपया दिया जाएगा. इस योजना के तहत 19 लाख लोगों को पहले ही एक हजार रुपया दिया जा चुका है. इसके अलावा जो छात्र कोटा से आ रहे हैं उनका भी किराया राज्य सरकार दे रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com