उत्तर प्रदेश: प्रयागराज में जहरीली शराब से 6 की मौत, 15 लोग अस्पताल में भर्ती

जिले के जिलाधिकारी मौत के कारणों पर कुछ भी कहने से बच रहे हैं. उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की वजह बताई जा सकती है. पुलिस ने प्रथम द्रष्टया साक्ष्यों के आधार पर देशी शराब की दुकान चलाने वाले पति-पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है.

प्रयागराज:

उत्तर प्रदेश की संगम नगरी प्रयागराज (Prayagraj) में जहरीली शराब पीने से 6 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 15 लोग गंभीर रूप से बीमार पड़ गए हैं. सभी बीमारों को नजदीकी स्वरूप रानी नेहरू अस्पताल में भर्ती कराया गया है. यह घटना जिले के फूलपुर थानाक्षेत्र के एक गांव में हुई है. प्रशासन ने शराब के ठेके को सील कर दिया है और मामले की जांच की जा रही है.

स्थानीय लोगों का कहना है कि पीड़ितों ने पिछली रात देशी शराब की दुकानों से शराब खरीदी थी, जिसे पीने के बाद लोग बीमार पड़ गए.  हालांकि, जिले के जिलाधिकारी मौत के कारणों पर कुछ भी कहने से बच रहे हैं. उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की वजह बताई जा सकती है. पुलिस ने प्रथम द्रष्टया साक्ष्यों के आधार पर देशी शराब की दुकान चलाने वाले पति-पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है.

CM योगी ने 2024-25 महाकुंभ के लिए कार्ययोजना तैयार करने के दिए निर्देश

Newsbeep

प्रयागराज के जिलाधिकारी भानु चंद्न गोस्वामी ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि फूलपुर थाने के अमीलिया गांव में अधिकारियों की टीम सूचना पाते ही भेज दी गई थी. शुरुआत में चार लोगों के मरने औक 5-6 लोगों के बीमार पड़ने की खबर आई थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मौके पर डीएम, एसएसपी और आबकारी विभाग के अधिकारी कैम्प कर रहे हैं और इस बात की तहकीकात में जुटे हैं कि जहरीली शराब की खेप कैसे पहुंची? जहरीली शराब से मरने वालों में इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी राजेश गौड़ के अलावा पांच और लोग हैं. इनकी पहचान बसंत लाल पटेल (55), शंभू नाथ मौर्य (55), राज बहादुर गौतम (50) निवासी अमिलिया और प्यारे लाल (48) निवासी खनसार के तौर पर हुई है.