कोरोना वैक्सीन की तैयारी: राज्यों को समन्वय समिति और टास्क फोर्स बनाने के निर्देश

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को चिट्ठी लिखी, राज्य स्तर और जिला स्तर समिति और टास्क फोर्स बनाने के लिए कहा

कोरोना वैक्सीन की तैयारी: राज्यों को समन्वय समिति और टास्क फोर्स बनाने के निर्देश

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

Coronavirus: केंद्र सरकार ने राज्यों को कोरोना वैक्सीन (Coronavirus vaccine) की तैयारी के मद्देनजर समन्वय बनाने के लिए समिति और टास्क फोर्स बनाने को कहा है. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्यों/ केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को चिट्ठी लिखी है और कहा है कि राज्य स्तर और जिला स्तर समिति और टास्क फोर्स बनाएं.

स्टेट स्टीयरिंग कमेटी- राज्य स्तर की इस समिति को राज्य के मुख्य सचिव हेड करेंगे और इसकी मीटिंग हर एक महीने में होनी चाहिए. इस समिति का काम होगा प्लानिंग करना और उनको लागू करवाना साथ ही अलग-अलग विभागों के बीच समन्वय स्थापित करवाना होगा.

स्टेट टास्क फोर्स- यह टास्क फोर्स भी राज्य स्तर की होगी लेकिन इसको स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव हेड करेंगे और हर 15 दिन में इस टास्क फोर्स की बैठक होगी. इस टास्क फोर्स का काम होगा कोरोना वैक्सीन के इंट्रोडक्शन संबंधित विभिन्न तरह की एक्टिविटीज को ठीक से लागू करवाना, मॉनिटरिंग करना और आवश्यक सुधार करना.

डिस्ट्रिक्ट टास्क फोर्स- जिला स्तर की इस टास्क फोर्स को जिले के डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट हेड करेंगे और सप्ताह में एक बार इस टास्क फोर्स की बैठक होगी. इसका काम होगा कोरोना वैक्सीन के इंट्रोडक्शन की पूरी प्रक्रिया का प्रबंधन करना.

Newsbeep

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने अपनी चिट्ठी में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को बताया है कि कोरोना वैक्सीन के लिए बनाए गए नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ने परिकल्पित/फिलहाल तय किया है कि कोरोना वैक्सीन जब आएगी तो सबसे पहले हेल्थ केयर वर्कर को दी जाएगी. इसके बाद अन्य फ्रंटलाइन वर्कर और आयु वर्ग के लोगों को. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इसी के मद्देनजर राज्यों ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं जैसे कि अपने यहां कोल्ड चैन इंफ्रास्ट्रक्चर का जायजा लेना और जरूरत के हिसाब से बढ़ाना, हेल्थ केयर वर्कर का डेटाबेस तैयार करना आदि.